दिन में बुर्ज खलीफा रात में जिले की पूजा घूम रहे हुगलीवासी

ट्रेन की भीड़ से परेशान लोग अपना रहे सड़क मार्ग
हुगली : बंगाल की दुर्गा पूजा वैसे ही विश्व प्रसिद्ध है। इस बार पूजा के विख्यात होने का एक मुख्य कारण बुर्ज खलीफा है। बुर्ज खलीफा देखने के लिए दूसरे राज्यों के लोग भी यहां आ रहे हैं। ऐसे में जिले से लोगों का आना तो लाजिमी ही है। यहां हम बात कर रहे हैं हुगली जिले की जहां से बड़ी संख्या में लोग कोलकाता की दुर्गा पूजा घूमने आते हैं वैसे तो निवासी रात के वक्त से कोलकाता के लिए निकलते हैं मगर इस बार स्थिति कुछ विपरीत है इस साल जिले में भी काफी अच्छी टीम के साथ और लाइटिंग के साथ पूजा के पंडाल बनाए गए हैं इस बीच बुर्ज खलीफा की शादी एक अलग ही रोमांच लोगों में ला रही है इसलिए लोग दिन में ही कोलकाता की पूजा घूमने की प्लानिंग कर रहे हैं और रात के बाद अपने जिले की पूजा घूम रहे हैं श्रीरामपुर के चातरा शीतला तल्ला में हर साल की तरह पारंपरिक तरीके का पूजा पंडाल बनाया गया है जहां की साबेकी प्रतिमा लोगों को अच्छी खासी आकर्षित कर रही है दूसरी तरफ चुंचूडा पंचानन तला सार्वजनिक दुर्गोत्सव समिति की ओर से बड़ी ही खूबसूरती को लेकर पूजा का पंडाल तैयार किया गया है पूरे पंडाल में इस बार शतरंज को थीम बनाया गया है जिसके आधार पर पंडाल भी तैयार हुआ है मां की प्रतिमा भी इस बार काफी खूबसूरत है जो लोगों को काफी अट्रैक्ट कर रही है। चुकी इस बात को विश का समय है इसलिए पंडाल अधिक बड़े नहीं बनाए गए हैं बल्कि बजट कम कर के छोटे पंडालों में ही दुर्गा पूजा मनाई जा रही है कोविड़ के नियमों का किया जा रहा पालनपूजा के दौरान लोगों की भीड़ कम हो, 2 गज की दूरी बनी रहे इस और प्रशासन की पूरी नजर है। जीटी रोड इलाके में छोटे वाहनों की आवाजाही को सीमित कर दिया गया है। साथ ही लोगों से अपील की जा रही है कि वे एक जगह अधिक भीड़ न करें। मास्क का प्रयोग हर पंडाल में अनिवार्य किया गया है। अगर कोई व्यक्ति मास्क नहीं पहन रहा है पूजा समितियों की तरफ से उन्हें मास्क दिया जा रहा है।ट्रेन की भीड़ से बचने के लिए सड़क मार्ग को प्रिफरेंसहुगली से कोलकाता तक आने में लोकल ट्रेन ही सर्वोत्तम साधन है लेकिन इस वक्त ट्रेनों का परिचालन सामान्य नहीं है इस वजह से लोग इसमें हो रही भीड़ से बचने के लिए सड़क मार्ग का इस्तेमाल कर कोलकाता की तरफ रवाना हो रहे हैं ताकि अच्छे से दुर्गा पूजा सके। मालूम हो कि राज्य सरकार की तरफ से अभी तक लोकल ट्रेनों का परिचालन बंद है सिर्फ स्टाफ स्पेशल ट्रेन ही चल रही है जिसकी संख्या वैसे तो कम है मगर दुर्गा पूजा को देखते हुए कुछ ट्रेनों की संख्या बढ़ाई गई है। हालांकि दिन के वक्त लोगों की भीड़ इन बढ़े ट्रेनों में भी अधिक ही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

दामाद ने ससुराल में कर दी दो लोगों की हत्या

शिल्पांचल के बाराबनी विधानसभा क्षेत्र के नोनी गांव में एक दामाद को इतना गुस्सा आया कि उसने दो लोगों की गला दबा कर हत्या कर आगे पढ़ें »

ऊपर