थोक बाजार कोलकाता से बाहर ले जाने में रुचि नहीं ले रहे व्यवसायी- फिरहाद हकीम

कोलकाताः पश्चिम बंगाल सरकार ने पोस्ता, मछुआ जैसे थोक बाजारों को कोलकाता से बाहर स्थानांतरित करने की योजना बनायी है, लेकिन व्यवसायी इसमें रुचि नहीं दिखा रहे हैं। पश्चिम बंगाल के शहरी विकास व पालिका मामलों के मंत्री तथा केएमसी के बोर्ड ऑफ एडमिनिस्ट्रेटर के चेयरमैन फिरहाद हकीम ने कहा कि व्यवसायी इस योजना में रुचि नहीं दिखा रहे हैं। सरकार ने अतिरिक्त एफएआर (फ्लोर एरिया रेशियो) देने का भी प्रस्ताव दिया है। व्यवसायी शॉपिंग मॉल आदि बनाकर इस स्थान का बेहतर व्यवसायिक उपयोग कर सकते हैं। मर्चेंट् चेंबर ऑफ कामर्स द्वारा आयोजित विशेष सत्र को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सरकार चाहे तो ट्रकों का प्रवेश रोक सकती है लेकिन ऐसा नहीं करेगी। किसी का व्यवसाय बंद कर सरकार नहीं चल सकती। हम चाहते हैं कि व्यवसायी अपने कार्यालय यहां रखें और गोदाम को धीरे-धीरे कोलकाता से बाहर डानकुनी आदि स्थानों पर स्थानांतरित कर लें। मंत्री ने वाणिज्यिक चेंबरों से व्यवसायियों को राजी कराने में सहयोग करने की अपील की।
अनियोजित शहरीकरण बड़ा खतरा
फिरहाद हकीम ने अनियोजित शहरीकरण को बड़ा खतरा बताया। उन्होंने कहा कि लोग कहीं भी जमीन खरीदकर मकान बना ले रहे हैं, भले ही वहां कोई बुनियादी सुविधा उपलब्ध नहीं हो। उसके बाद शिकायत करते हैं। कोलकाता की बस्तियों के विकास के लिए सरकार ने बांग्लार बाड़ी योजना शुरू की है, जिसमें सभी बस्ती वासियों को स्थान मिलेगा। कोलकाता के कई इलाकों में निर्माण भी हुआ है। अगर यह योजना सफल होती है तो कोलकाता बस्तियों से मुक्त हो जायेगा।
सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट
हकीम ने कहा कि अनियोजित शहरीकरण के चलते कचरे फेंकने के लिए स्थान खोजने में समस्या आ रही है। धापा भर गया है। इसीलिए सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट के लिए सेग्रीगेशन (पृथक्करण) पर जोर दिया जा रहा है। केएमसी के 144 वार्डों में 97 में इसे चालू किया गया है। यह पूरा हो जाने पर वेट वेस्ट को खेती में प्रयोग किया जायेगा और ड्राई वेस्ट को रिप्रोसेस किया जा सकता है। न्यू टाउन में 20 एकड़ जमीन पर इसका प्रायोगिक तौर कार्य शुरू किया गया है। मंत्री ने कहा कि अर्बन लैंड सिलिंग की वर्तमान परिप्रेक्ष्य में उपयोगिता नहीं है, लेकिन वाममोर्चा सरकार ने इसे बनाया था। उन्होंने इसके बारे में संबंधित विभाग के सचिव से बातचीत करने का आश्वासन दिया। मंत्री ने ठेका टेनेंसी एक्ट के दुरुपयोग की बात मानी और कहा कि मैंने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से कानून में संशोधन कर इसे केएमसी को सौंपने का अनुरोध किया है। कुछ महीने में इस मामले में एक स्पष्ट नीति तैयार हो जायेगी। इस सत्र में मर्चेंट् चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के अध्यक्ष विवेक गुप्त ने स्वागत भाषण दिया। चेंबर के वरिष्ठ उपाध्यक्ष आकाश शाह ने धन्यवाद ज्ञापित किया। चेंबर के पूर्व अध्यक्ष विशाल झाझरिया, उपाध्यक्ष रिषभ कोठारी, मुनिश झाझरिया व अन्य इसमें शामिल हुए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल के चुनाव का असर दिखने लगा अब मिठाइयों पर

जय श्री राम और खेला होबे डिजाइन की बिकने लगीं मिठाइयां कोलकाता : राज्य में कड़े चुनावी मुकाबले का असर अब यहांं की मिठाई की दुकानों आगे पढ़ें »

…घर में ‘मोर पंख’ रखने से खुल जाएगी किस्मत

कोलकाता : हिंदू धर्म में वास्तु शास्त्र का काफी महत्व है। वास्तु शास्‍त्र के अनुसार मोर लाभ देने वाला और शुभ माना जाता है। मोर आगे पढ़ें »

ऊपर