थाइलैण्ड की युवती की निजी अस्पताल में मौत, कोरोना वायरस का संदेह!

coronavirus

कोलकाताः देश के ‌विभिन्न हिस्सों में कोरोना वायरस की खबरों के बीच महानगर में भी कोरोना वायरस को लेकर आतंक देखा जा रहा है। सोमवार को थाइलैण्ड की एक नागरिक सुरीन नाक्टोय (32) की मौत महानगर के निजी अस्पताल में हो गई। उसे 21 जनवरी को श्वास कष्ट के बाद यहां भर्ती करवाया गया था। बाद में स्वास्थ्य बिगड़ने पर उसे वेंटिलेशनल पर रखा गया था। युवती की मौत को लेकर स्वास्थ्य विभाग ने रिपोर्ट मांगी है। स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि इस सिलसिले में नमूना संग्रह कर नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ वायरोलॉजी, पुणे से भी राय मांगी गई है। हालांकि युवती में कोरोना वायरस के लक्षण से उन्होंने इनकार किया। थाईलैण्ड की यह युवती भारत भ्रमण के लिए निकली थी।
वहीं दूसरी ओर कोरोना वायरस के संदेह में चीन की एक नागरिक को बेलियाघाटा आईडी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। उसे यहां आइशोलेशन वार्ड में ऑब्जर्वेशन में रखा गया है। कई जांच के बाद फिलहाल उसमें इसके वायरस नहीं मिले हैं। ज्वर होने के बाद उसे रविवार की रात को अस्पताल में भर्ती कराया गया। राज्य के स्वास्थ्य सेवा निदेशक (डीएचएस) डॉ.अजय चक्रवर्ती ने कहा कि हमने कोरोना वायरस को लेकर पहले ही अलर्ट जारी किया है। बेलियाघाटा में भर्ती चीन की नागरिक में कोरोना वायरस का कोई संक्रमण नहीं मिला है। हालांकि उसके स्वास्थ्य पर नजर रखी जा रही है। चीन की नागरिक का नाम ह्यूयामिन (28) है।
कुछ महीने पहले चीन से भ्रमण पर निकली थी युवती
अस्पताल सूत्रों ने बताया कि कुछ महीने पहले युवती चीन से भ्रमण के लिए निकली थी। जानकारी के मुताबिक मॉरीशस होते हुए वह भारत आई थी। वहीं 24 जनवरी से वह महानगर में घूम रही थी। इस बीच ही उसे ज्वर हो गया था। दवा लेने के बाद भी उसे आराम नहीं मिला। इसके बाद ही युवती को बेलियाघाटा आईडी अस्पताल में भर्ती करवाया गया। अस्पताल सूत्रों का कहना है कि ह्यूयामिन को बुखार है। हालांकि श्वास लेने में उसे तकलीफ नहीं है। उसके श्वास नली में कहीं कोई संक्रमण तो नहीं, इसके लिए जांच किया जाएगा। सूत्रों ने बताया कि छह महीने पहले ही वह चीन से रवाना हुई थी। ऐसे में कोरोना वायरस की संभावना से इनकार किया जा रहा है।
क्या कहना है मुख्य स्वास्थ्य सचिव काः
इस बारे में राज्य के मुख्य स्वास्थ्य सचिव विवेक कुमार ने कहा कि मरीज में कोरोना वायरस के संक्रमण नहीं मिले हैं। हालांकि इसके बाद भी हमने इस पर नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ वायरोलॉजी, पुणे से संपर्क साधा है। साथ ही इस मामले में विशेषज्ञों से राय मांगी गई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कोरोना से राहत के लिए लक्ष्मी मित्तल ने पीएम-केयर्स फंड में 100 करोड़ रुपये देने की घोषणा की

नई दिल्ली : दुनिया के हर कोने में लोगों को कोविड-19 के कारण व्यापक दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।  भारत जैसे देश, जहां आगे पढ़ें »

corona

बंगाल में 2 संदेहास्पद कोरोना संक्रमितों की मौत

सन्मार्ग संवाददाता/कोलकाताः बंगाल में कोरोना वायरस से संक्रमित दो और लोगों की मौत की आशंका जताई गई है। इसमें एक मरीज की मौत मंगलवार व आगे पढ़ें »

ऊपर