तो एक सुरंग से ही रफ्तार पकड़ेगी ईस्ट वेस्ट मेट्रो!

कोलकाताः यदि सबकुछ सही रहा तो साल्टलेक सेक्टर 5 से लेकर हावड़ा मैदान तक मेट्रो का सफर आप कर सकेंगे। इसके लिए आपको अगले सुरंग के पूरे होने का इंतजार नहीं करना पड़ेगा। संभावना जताई जा रही है कि एक टनेल के पूरा होते ही परियोजना को शुरू कर दिया जाएगा। इस पर चर्चा जोरों पर है। ज्ञात हो कि उक्त परियोजना के तहत मेट्रो का निर्माण दो चरणों में किया जा रहा है। कोलकाता मेट्रो रेलवे कार्पोरेशन (केएमआरसी) की ओर से ईस्ट-वेस्ट मेट्रो कोरिडोर प्रोजेक्ट करीब 17 किलोमीटर लंबा है। यह सॉल्टलेक स्टेडियम से हावड़ा मैदान तक है। पहला चरण सॉल्टलेक सेक्टर-5 से सॉल्टलेक स्टेडियम के बीच 5.8 किमी लंबा है, जो कि इसी साल फरवरी में शुरू कर दिया गया था। इसके बाद अब फूलबागान मेट्रो तक भी मेट्रो परियोजना पूरी हो चुकी है। हाल ही में यहां कमिश्नर ऑफ मेट्रो रेलवे सेफ्टी (सीआरएस) की ओर से निरीक्षण भी किया गया है। दूसरा चरण अंडरग्राउंड मेट्रो का 11 किलोमीटर लंबा है। इसमें ज्यादातर जगहों का काम पूरा हो चुका है। उल्लेखनीय है कि बहूबाजार में एक टनेल में कार्य के दौरान मेट्रो परियोजना रुक गई थी।
एस्प्लानेड से सियालदह तक एक सुरंग जल्द तैयार होने की उम्मीद
एस्प्लानेड से सियालदह तक कम से कम एक सुरंग का काम जल्द पूरा होने की उम्मीद है। पश्चिमी सुरंग के काम के पूरा होने में समय लगेगा। सवाल यह उठता है कि बहूबाजार में सुरंग की तबाही के झटके से निपटने के बाद पश्चिम को पूर्व से जुड़ने में कितने दिन लगेंगे। हालांकि, मेट्रो अधिकारियों के अनुसार, एस्प्लानेड से सियालदाह तक की एक ही सुरंग का इस्तेमाल आपदाग्रस्त सुरंग के निर्माण की प्रतीक्षा किए बिना दोतरफा मेट्रो शुरू किया जाना संभव है। अगर ऐसा किया जाता है, तो मेट्रो एक दो साल में हावड़ा से सेक्टर पांच चल सकती है।
फूलबागान तक सभी संरचनात्मक कार्य हुए पूरे
ईस्ट-वेस्ट मेट्रो कोरिडोर के सूत्रों के अनुसार, सियालदह स्टेशन के पूर्वी छोर तक मेट्रो पर यात्री परिवहन की व्यवस्था करने के लिए सेक्टर फाइव से फूलबागान तक सभी संरचनात्मक कार्य पूरे हो चुके हैं। जमीन के नीचे सियालदह स्टेशन का बहुत कम काम बचा है। हालांकि, जैसे ही एस्प्लानेड से सियालदह के लिए पूर्व-पश्चिम सुरंग पूरी हो जाएगी, सुरंग बोरिंग मशीन को हटाया जा सकता है और शेष काम पूरा हो सकता है। उस स्थिति में, सेक्टर पांच से सियालदह की तरफ दो लाइनों पर मेट्रो चलाने में कोई समस्या नहीं है। ज्ञात हो कि फिलहाल लॉकडाउन के बाद से अनलॉक 1 में मेट्रो परिचालन भी बंद है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

30 जून तक करदाताओं को जारी हुआ 62,361 करोड़ रुपये का रिफंड

नयी दिल्ली : आयकर विभाग ने आठ अप्रैल से 30 जून के दौरान 20 लाख से अधिक करदाताओं को 62,361 करोड़ रुपये का कर रिफंड आगे पढ़ें »

जियो में 1,895 करोड़ रुपये का निवेश करेगी इंटेल कैपिटल

नयी दिल्ली : अमेरिकी कंपनी इंटेल कैपिटल ने शुक्रवार को भारत के रिलायंस इंडस्ट्रीज समूह की दूरसंचार एवं डिजिटल प्लेटफॉर्म सेवा कंपनी जियो प्लेटफॉर्म्स में आगे पढ़ें »

ऊपर