ट्रांजिट यात्रियों के लिये एयरपोर्ट पर खास सुविधा

कोलकाता : कोलकाता एयरपोर्ट पर अब घरेलू ट्रांजिट यात्रियों के लिए एक नई ट्रांसफर पॉलिसी बनायी गयी है। इससे यात्रियों के समय की न सिर्फ बचत होगी बल्कि अब दूसरी उड़ान पकड़ने में उन्हें काफी सहूलियत होगी। उल्लेखनीय है कि पहले अराइवल में आने के बाद उन्हें फिर से डिपार्चर में जाना पड़ता था लेकिन अब ऐसा नहीं है। एयरपोर्ट पर उन्हें टर्मिनल के भीतर से ही अपनी उड़ान पकड़ने की सुविधा मिलेगी।

मंगलवार को किया गया ट्रायल

24,000 वर्ग फुट की सुविधा में प्री-कमीशनिंग का अंतिम परीक्षण मंगलवार की शाम को बागडोगरा से इंडिगो की उड़ान 6E 444 पर आने वाले यात्रियों को स्थानांतरित करने के साथ किया गया। 6.5 करोड़ रुपये की लागत से विकसित, स्थानांतरण सुविधा कोलकाता के हवाई अड्डे पर आने वाले यात्रियों को एक समर्पित सुरक्षा जांच पोर्टल के जरिये सीधे डिपार्चर सिक्युरिटी होल्ड एरिया में जाने की अनुमति देती है। इससे 50-60 मिनट का ट्रांजिट टाइम यात्रियों का बच रहा है क्योंकि यात्रियों को अब टर्मिनल से बाहर निकलने की जरूरत नहीं पड़ रही है।। पहले बाहर जाकर अंदर आना पड़ता था। फिर टर्मिनल में फिर से प्रवेश कर और फिर सुरक्षा जांच से गुजरना होता था।

3 में से 1 होते हैं ट्रांजिट यात्री

‘प्रति घंटे 300 यात्रियों की क्लियरिंग करने की क्षमता वाले एक समर्पित सुरक्षा जांच पोर्टल की सुविधा कमीशन के लिए तैयार है। कोलकाता हवाई अड्डे पर पहुंचने वाले तीन यात्रियों में से एक ट्रांजिट यात्री है। हवाईअड्डे पर कोरोना काल के पहले एक दिन में 18,000-20,000 यात्री यात्रा करते थे। दूरदराज की खाड़ी में जाने वाली उड़ानों पर बुक किए गए ट्रांजिट यात्री प्रस्थान द्वार से सटे वेटिंग क्षेत्र में सीधे जाएंगे। एयरलाइन के एक अधिकारी के मुताबिक मंगलवार को ट्रायल पर 4.20 बजे बागडोगरा की उड़ान से आये 65 यात्रियों को ट्रांजिट किया गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

शीत ऋतु में सावधानी है जरूरी

-    सर्दियों में जठराग्नि प्रबल रहती है, इसलिए इन दिनों में पौष्टिक तथा बलवर्द्धक आहार लेना चाहिए। सर्दियों में खट्टा, खारा, मीठा प्रधान आहार लेना आगे पढ़ें »

कोरोना से प्रभावित हुई भारत में सोने की खरीद, तीसरी तिमाही में मांग 30% गिरी

मुंबई: कोरोना महामारी से जुड़े व्यवधानों तथा ऊंची कीमतों के कारण सितंबर तिमाही में भारत में सोने की मांग साल भर पहले की तुलना में आगे पढ़ें »

ऊपर