जो टकराएगा, चूर-चूर हो जायेगा, हम सभी धर्मों की रक्षा करेंगे : ममता बनर्जी

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में जय श्रीराम के नारों को लेकर प्रदेश की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को लोगों से कहा कि किसी को डरने की जरूरत नहीं है। तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने कहा कि “हम हिंदू-मुस्लिम, सिख और ईसाई सभी धर्मों की रक्षा करेंगे। जो टकराएगा, चूर-चूर हो जाएगा। ये हमारा नारा है।” मालूम हो कि इससे पहले उनके भतीजे ने भी विवादित बयान दिया था।

मुद्दई लाख बुरा चाहे तो क्या होता है

ईद के मौके पर ममता ने कहा कि “मुद्दई लाख बुरा चाहे तो क्या होता है, वही होता है जो मंजूर-ए-खुदा होता है।” उन्होंने कहा कि “कभी-कभी जब सूरज उगता है तो उसकी किरणें बहुत कठोर होती हैं, लेकिन बाद में वह दूर हो जाती हैं। डरो मत, जितनी तेजी से उन्होंने ईवीएम पर कब्जा किया था, उतनी ही तेजी से वे भाग भी जाएंगे।” ममता ने कहा “त्याग का नाम है हिंदू, ईमान का नाम है मुसलमान, प्यार का नाम है ईसाई, सिखों का नाम है बलिदान। ये है हमारा प्यारा हिंदुस्तान। सबकी रक्षा हम लोग करेंगे।”

श्रीराम की जगह अब जय महाकाली
मालूम हो कि मंगलवार मुख्यमंत्री के भतीजे और डायमंड हार्बर लोकसभा सीट से तृणमूल के सांसद अभिषेक बनर्जी ने कहा था कि बंगाल में भाजपा ने जय महाकाली बोलना शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि लगता है टीवी की रेटिंग की तरह जय श्रीराम की टीआरपी भी कम हो गई है। साथ ही उन्होंने भाजपा के लोगों पर राजनीति में धर्म को मिलाने का भी आरोप लगाया था।

अपनी कब्र खुद खोद रहीं हैं

राज्य में जय श्रीराम के नारे के विरोध पर पद्मश्री सम्मान से सम्मानित फिल्म निर्माता अपर्णा सेन ने एक साक्षात्कार में कहा कि ”मुझे यह बिल्कुल पसंद नहीं है।” उन्होंने कहा कि ”धर्म और राजनीति दोनों अलग-अलग होने चाहिए। राजनीति में धर्म को मिलाने से ही समस्याएं होती हैं।” साथ ही सेन ने कहा कि राजनीति में जय श्रीराम, अल्लाह हू अकबर और जय मां काली जैसे नारों पर रोक लगा देनी चाहिए।”

कैलाश ने कहा- 2021 तक नहीं चलेगी राज्य सरकार
वहीं भारतीय जनता पार्टी महासचिव और पार्टी के बंगाल प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कि कहा कि ”मैं नहीं समझता कि ममता जी 2021 (विधानसभा चुनाव) तक पहुंच पाएंगी, क्योंकि वे अपरिपक्व की तरह बोलती हैं।” उन्होंने यह भी कहा कि ”हम तो 2021 के लिए तैयारी कर रहे, लेकिन उससे पहले ममता सरकार खुद ही गिर जाएगी।”

शेयर करें

मुख्य समाचार

अमेरिका का बजट घाटा एक हजार अरब डॉलर के पार !

बजट कार्यालय ने व्यक्त किया अनुमान वाशिंगटनः अगले वित्त वर्ष में अमेरिका का बजट घाटा एक हजार अरब डॉलर के पार जाने की आशंका है। यह आगे पढ़ें »

new zealand speaker

न्यूजीलैंड : संसद में रो रहे बच्चे को स्पीकर ने पियाला दूध, लोगों ने की सराहना

वेलिंगटन : न्यूजीलैंड के संसद भवन में स्पीकर ट्रेवर मलार्ड ने एक सांसद के बेटे को दूध पिलाया। मालूम हो कि संसद भवन में आमतौर आगे पढ़ें »

ऊपर