जब ‘बिलियन डॉलर नोट’ बना ठग की मौत का कारण

कोलकाता : एक मशहूर कहावत है चोर-चोर मौसेरे भाई होते हैं लेकिन जब व्यक्ति में लोभ समा जाता है तो वह विनाश ला देता है। ऐसी ही एक घटना बहूबाजार में घटी थी।आज से करीब 15 साल पहले मध्य कोलकाता में एक व्यक्ति की हत्या बिलियन डॉलर नोट के चक्कर में हो गयी। आपको पहली बार बिलियन डॉलर नोट को पढ़कर आश्चर्य होगा लेकिन सच्चाई यही है। यही वजह है कि अदालत में इस हत्या के मामले की जब सुनवाई चल रही थी तो इसे ‘ बिलियन डॉलर केस’ का नाम मिल गया था। 7 फरवरी 2003 की सुबह बहूबाजार के जदुनाथ दे रोड स्थित होटल पेंगुइन में सुबह के वक्त कमरों की सफाई करते वक्त हाउस किपिंग स्टाफ डबल बेड वाले रूम नंबर 102 में पहुंचा।
काफी देर तक आवाज देने के बावजूद दरवाजा नहीं खुलने पर होटल स्टाफ को संदेह हुआ और उसने घटना की जानकारी प्रबंधन को दी। बाद में डुप्लीकेट चाबी से दरवाजा खोलने पर उन्होंने एक व्यक्ति को बेड पर पड़ा हुआ पाया। मृतक के नाक से खून निकल रहा था व गले में कपड़ा लपेटा हुआ था। होटल के कमरे में मर्डर देख घटना की सूचना बहूबाजार थाने की पुलिस को दी गयी। 6 फरवरी को होटल के पहले तल्ले पर स्थित रूम नंबर 102 में दो व्यक्ति आकर ठहरे थे। रजिस्टर में उनका नाम सुमन बिहारी और मोतीलाल साव लिखा था। शाम के वक्त मोतीलाल होटल से बाहर निकला था, लेकिन रात को किसी ने उसे वापस लौटते वक्त नहीं देखा।
इस बीच 7 फरवरी की सुबह हाउस किपिंग स्टाफ जब सफाई के लिए पहुंचा तो उसने दरवाजा बंद पाया। डुप्लीकेट चाबी से दरवाजा खोलने पर उन्होंने सुमन बिहारी का शव पड़ा हुआ देखा। सुमन ने सफेद शर्ट, एक स्वेटर और ऐश कलर का पैंट पहन रखा था। शरीर में किसी भी जगह चोट के निशान नहीं देखे गये थे। पुलिस ने प्राथमिक अनुमान लगाया कि गला घोंटकर उसकी हत्या की गयी है। कमरे के एक कोने से एक बियर का बोतल भी पुलिस कर्मियों को मिला था। पहले जांच अधिकारियों ने बियर बोतल को लेकर जांच शुरू की लेकिन उन्हें कुछ नहीं मिला। इसके बाद कमरे की गहन तलाशी ली गयी लेकिन हाथ कुछ भी नहीं लगा। इस बीच मृतक के पैंट से एक नोटबुक मिला जिसमें कुछ लोगों के फोन नंबर लिखे हुए थे। उक्त नंबरों पर फोन करने पर जांच अधिकारियों को पता चला कि अधिकतर नंबर उत्तर 24 परगना का ही है। ऐसे में नोटबुक सहायता से पुलिस को पता चला कि मृतक का नाम सुमन बिहारी नहीं है। वह नकली नाम से होटल में ठहरा हुआ था। उसका असली नाम तपन दास था और तपसिया के रायचरण पाल लेन में पेइंग गेस्ट के तौर पर रहता था। उसके मकान मालिक पूर्णचंद साहा ने उसके शव की पहचान की थी। जांच के दौरान पता चला कि उसका एक भाई खड़दह में रहता है।
‘सर्कस’ ने पहुंचाया पुलिस को कातिल तक
कुछ दिनों की जांच में अपराधी का कुछ पता नहीं चलने पर जांच अधिकारियों ने अब तपन के साथ होटल में आने वाले व्यक्ति का हुलिया जानने के लिए होटल कर्मियों से पूछताछ शुरू की। पूछताछ के दौरान एक होटल कर्मी ने पुलिस को बताया कि जब वह उनके कमरे में खाना देकर लौट रहा था तो उसने दो लोगों के बीच बहस सुनी। उसने सुना कि वे लोग कुछ सर्कस को लेकर बात कर रहे थे। पुलिस को लगा कि हो सकता है यह लोग किसी सर्कस में काम करते होंगे या फिर किसी सर्कस वाले को ठगा होगा। कोलकाता व जिले के सर्कसों में जाकर पूछताछ शुरू की गयी लेकिन पुलिस को कोई विशेष सफलता नहीं मिली। पुलिस अधिकारियों को पता चला कि तपन लोगों को ठगने का काम करता था। उसने नौकरी दिलाने के नाम पर सैकड़ों युवक-युवतियों को ठगा था। इस बीच जांच अधिकारी नैहाटी से वापस कोलकाता लौट रहे थे तभी एक जांच अधिकारी को चाय पीने का ख्याल आया तो ड्राइवर ने कहा कि आगे सर्कस मोड़ है, वहां पर गाड़ी रोककर चाय पिएंगे। जगदल के सर्कस मोड़ पर चाय पीते हुए एक पुलिस कर्मी को ध्यान आया कि कहीं वे लोग इस सर्कस मोड़ के बारे में बात तो नहीं कर रहे थे। फिर दिनों के अंदर उन्होंने बापी मुखर्जी नामक एक व्यक्ति को हिरासत में लिया। लालबाजार में जांच अधिकारियों की धमकी के बाद उसने सच बताने की बात कही।
‘बिलियन डॉलर नोट’ के लिए की थी हत्या
बापी ने पुलिस को बताया कि तपन से उसकी मुलाकात कुछ दिनों पहले जगदल स्टेशन पर हुई थी। बातचीत के दौरान तपन ने बापी को बताया कि उसके पास बिलियन डॉलर नोट है जिसे बेचकर वह दूसरा व्यवसाय चालू करना चाहता है। बापी को लालच आ गया। उसे नहीं पता था कि असल में कोई बिलियन डॉलर नोट अस्तित्व में ही नहीं है। हालांकि तपन को नहीं पता था कि बापी एक बड़ा जालसाज है जिसने सैकड़ों लोगों को चूना लगाया है। इस बीच तपन ने बापी को बताया कि उसकी कई एजेंटों से जान-पहचान है जो अष्टधातु के बर्तन की खरीद-बिक्री करते हैं।
ऐसे ही एक एजेंट के पास से उसे बिलियन डॉलर नोट मिला है। अगर बापी व्यवसाय चालू करना चाहता है तो उसकी मुलाकात करवा देगा लेकिन उसे कुछ रुपये देने होंगे। बापी ने तपन का विश्वास जीतने के लिए कुछ रुपये भी दे दिए। इसके बाद दोनों कोलकाता आकर होटल पेंगुइन में रहने लगे। यहां कमरे में आने के बाद तपन ने बापी से फिर से रुपये मांगें जिसके बाद दोनों में विवाद हुआ। विवाद के दौरान ही बापी ने तपन की गला घोंटकर हत्या कर दी और फिर उसका बिलियन डॉलर नोट लेकर फरार हो गया। कुछ दिनों तक उसने नकली बिलियन डॉलर नोट बेचने की कोशिश की। हालांकि नोट बिक्री नहीं होने पर उसे पता चला कि वह नकली है। इस बीच अदालत ने अभियुक्तको उम्रकैद की सजा सुनायी और अभियुक्त फिलहाल जेल में कैद है।

मुख्य समाचार

भाटपाड़ा में बमबारी जारी, 1 मरा

सर्च अभियान चलाकर पुलिस ने किये 6 बम बरामद भाटपाड़ा : भाटपाड़ा थानांतर्गत 10 नं. गली के रामनगर कॉलोनी में बम विस्फोट होने से एक व्यक्ति आगे पढ़ें »

नए कोच के चयन में नहीं चलेगी विराट की मनमानी

नयी दिल्ली : टीम इंडिया का नया मुख्‍य कोच कौन होगा इस पर फैसला कुछ समय बाद लिया जाएगा। पर बीसीसीआई के एक अधिकारी ने आगे पढ़ें »

कृषि क्षेत्र में विकास के लिए केंद्र और राज्यों को मिलकर करना होगा काम

नई दिल्ली: केंद्र सरकार को कृषि क्षेत्र में सुधार के साथ राज्यों को वित्त आयोग द्वारा किए गए अनुदान और आवंटन को जोड़ना चाहिए। यह आगे पढ़ें »

2018-19 में डिजिटल ट्रांजेक्शन 51 फीसदी बढ़ी, कुल डिजिटल ट्रांजेक्शन 3,133.58 करोड़ के पार पहुंचा

नई दिल्ली : देश में डिजिटल ट्रांजेक्शन तेजी से बढ़ रहा है। वर्ष 2018-19 में डिजिटल ट्रांजेक्शन पिछले साल की तुलना में 51 फीसदी बढ़ी आगे पढ़ें »

निजी क्षेत्र और उपक्रमों को बढ़ावा देकर आर्थिक वृद्धि की रफ्तार तेज करना चाहती है सरकार

नई दिल्ली : केंद्र सरकार निजी क्षेत्र और निजी उपक्रमों को बढ़ावा देकर आर्थिक वृद्धि की रफ्तार बढ़ाने पर जोर दे रही है। इस बारे आगे पढ़ें »

सिंधू का दमदार प्रदर्शन, इंडोनेशिया ओपन के क्वार्टर फाइनल में पहुंची

जकार्ता : भारत की चोटी की शटलर पीवी सिंधू ने डेनमार्क की मिया बिलिचफेल्ट के खिलाफ तीन गेम तक चले संघर्षपूर्ण मैच में जीत दर्ज आगे पढ़ें »

fire in an animation studio in japan, 24 dead

एनिमेशन स्टूडियो में लगायी आग, 24 जिंदा जले

टोक्यो : जापान के क्योटो शहर में गुरुवार सुबह एक एनिमेशन स्टूडियो में आग लगने से 24 लोग जिंदा जल गए जबकि 35 से अधिक आगे पढ़ें »

ऐसे उठा सकते हैं एनपीएस में छुट का लाभ

नई दिल्ली : नेशनल पेंशन योजना (एनपीएस) ने ईपीएफओ से कहीं ज्यादा रिटर्न दिया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक बीते 10 साल में केंद्रीय और आगे पढ़ें »

teachers enclosing legislative assembly lathi charged by the police

विधानसभा का घेराव करने पहुंचे शिक्षकों पर पुलिस ने किया लाठीजार्च

पटना : वेतनमान समेत सात सूत्रीय मांगों को लेकर गुरुवार को राजधानी पटना में विधानसभा का घेराव करने पहुंचे नियोजित शिक्षकों पर पुलिस ने जमकर आगे पढ़ें »

Government told - cases of rape are increasing in trains

सरकार ने बताया – ट्रेनों मे लगातार बढ़ रहे है दुष्कर्म के मामले

नई दिल्ली : देश की सड़कों-गलियों में तो बहू-बेटियां सुरक्षित थी ही नहीं, अब यात्रा के लिए सबसे सुरक्षित मानी जाने वाली ट्रेनों में भी आगे पढ़ें »

ऊपर