चुनावी हिंसा में हत्या व रेप से जुड़े सीबीआई के 10 अहम मामले

रामनगर के आईओ पहुंचे सीबीआई कार्यालय
मृतक अभिजीत सरकार का मोबाइल सौंपा गया सीबीआई को
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : अब तक सीबीआई की टीम ने 31 एफआईआर दर्ज कर ली है। इनमें से अंतिम 10 मामलों में चुनाव बाद की हिंसाओं में काफी बर्बरता देखने को मिली है। इधर मंगलवार को सीबीआई के सीजीओ कांप्लेक्स में चुनाव बाद हिंसा की घटनाओं की जांच करने वाले रामनगर के आईओ की बुलाया गया। उन्होंने अपने थाने में दर्ज मामले के बारे में सीबीआई अधिकारी को बताया तथा दस्तावेज भी सौंपे। वहीं सीबीआई के निजाम पैलेस स्थित कार्यालय में मृतक अभिजीत सरकार के भाई विश्वजीत सरकार ने अपने भाई का मोबाइल सौंप दिया। इसी मोबाइल में मृतक ने फेसबुक लाइव कर कहा गया था कि तृणमूल नेता अब उसकी हत्या करने वाले हैं। राजनीति के कारण उसकी जान ली जा रही है। विश्वजीत ने कहा कि इस मोबाइल को छिपाकर रखा गया था ताकि पुलिस अभियुक्तों के खिलाफ वाले सबूत न डिलीट कर दे। अब इसे सीबीआई को सौंपने के लिए वे यहां आये हैं। उन्हें अब उम्मीद है कि हिंसा पीड़ितों को न्याय मिलेगा।
अंतिम 10 मामले इस प्रकार हैं
1. इनमें से पहला मामला बीरभूम जिले के नलहाटी थाने में किया गया। एफआईआर 146/2021 के तहत आरोप है कि 14 मई की दोपहर में जब शिकायतकर्ता नलहाटी से जा रहा था और पुलिस कैंप के पास पहुंचा तो दो अज्ञात मजदूरों ने उसे बताया कि कैनेल बैंक रोड के किनारे धान की खेत में एक व्यक्ति पड़ा हुआ है। शिकायतकर्ता मौके पर पहुंचा तो पता चला कि पास के जगधारी गांव का निवासी मोइजुद्दीन के धान के खेत में मृत पड़ा हुआ है। शिकायतकर्ता ने नलहाटी थाने में फोन किया। पुलिस मौके पर पहुंची और शव को रामपुरहाट अस्पताल ले आयी। यह आरोप लगाया गया है कि कुछ बदमाशों ने पीड़ित की हत्या कर दी।
2. दूसरे मामले में देखा गया कि बीरभूम जिले के शांतिनिकेतन थाने में दर्ज प्राथमिकी- 122/2021 के तहत सामूहिक बलात्कार का मामला है।
3. इधर दक्षिण 24 परगना के रामनगर थाने में एफआईआर- 89/2021 के तहत आरोप है कि 29 मई की सुबह शिकायतकर्ता का बेटा पास के बाजार में गया था, जब दुकानों से अभियुक्त पैसे की उगाही कर रहे थे। वहां जबरन वसूली का विरोध करने पर आरोपी ने शिकायतकर्ता के बेटे पर हमला किया। उस पर बम फेंकने के बाद आरोपी भाग गया। शिकायतकर्ता के बेटे की मौके पर ही मौत हो गयी।
4. इस मामले में उत्तर 24 परगना के पुलिस स्टेशन जगदल में एफआईआर -337/2021 के तहत आरोप है कि जब शिकायतकर्ता बाइक से अपने घर जा रहा था तो आरोपी हथियार और आग्नेयास्त्र लेकर जा रहे थे। आरोप है कि पीछे से हॉर्न बजाने पर आरोपी ने शिकायतकर्ता को पीटा। शिकायतकर्ता का बड़ा भाई मौके पर पहुंचा तो आरोपी भाग गए। कुछ देर बाद जब शिकायतकर्ता का बड़ा भाई अकेला खड़ा था तो आरोपी ने पीछे से गोली मारकर उसकी हत्या कर दी। उसे काफी बर्बरता से मारा गया। उसे हथियारों के बट से लगातार पीटा गया। आरोपियों ने कथित तौर पर पीड़ित के पेट में गोली मार दी और बम फेंक कर भाग गए।
5. इस मामला में दक्षिण 24 परगना जिले के थाना नरेंद्रपुर में एफआईआर-648/2021 के तहत आरोप है कि 20 मई की सुबह आरोपी ने शिकायतकर्ता के घर पर लोहे की रॉड, बांस, पिस्तौल से हमला किया। आरोप यह भी है कि आरोपी ने शिकायतकर्ता के पति के हाथ-पैर बांध दिए और उसे बुरी तरह पीटना शुरू कर दिया। जब शिकायतकर्ता ने अपने पति को बचाने की कोशिश की, तो उसे कथित तौर पर नीचे धकेल दिया गया और छेड़छाड़ की गई। आरोप यह भी है कि खून से लथपथ पीड़ित को आरोपी ने तालाब के किनारे जंगल में फेंक दिया। अगले दिन सुबह शिकायतकर्ता सूचना पाकर नर्सिंग होम पहुंचीं जहां उसके पति की मौत हो गयी थी।
6. यह मामला बर्दवान के थाना भातर का है। एफआईआर-201/2021 के तहत आरोप है कि 02 मई की शाम को आरोपी घातक हथियारों के साथ शिकायतकर्ता के घर में गया तथा तोड़फोड़ की।
7. इस मामला में हावड़ा जिले के डोमजूड़ थाने में एफआईआर-364/2021 के तहत शिकायतकर्ता के घर, संपत्तियों और व्यावसायिक प्रतिष्ठानों पर हमला करने का आरोप है। आगे आरोप लगाया गया कि संपत्तियों में आग लगा दी गई और बम फेंके गए। कथित तौर पर सोने के गहने और नकदी लूट ली गई। यह भी आरोप लगाया गया था कि शिकायतकर्ता तथा अन्य महिलाओं के साथ छेड़खानी भी की गयी।
8. इस मामले में झाड़ग्राम में प्राथमिकी- 43/2021 के तहत दर्ज मामले में आरोप लगाया गया था कि आरोपी ने 5 मई को शिकायतकर्ता के बड़े भाई को पीटा था और उसे खून से लथपथ छोड़ दिया था। पीड़ित को शिकायतकर्ता द्वारा बचाया गया और झाड़ग्राम सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उक्त पीड़ित की मृत्यु हो गयी।
9. यह मामला पूर्व मिदनापुर के नंदीग्राम थाने का है। प्राथमिकी – 224/2021 के अनुसार आरोप है कि आरोपी ने शिकायतकर्ता के चाचा पर अचानक हमला किया और उसे गंभीर रूप से घायल कर दिया। पीड़ित को शुरू में नंदीग्राम अस्पताल में भर्ती कराया गया था और बाद में उसे कोलकाता के पीजी अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया, जहां उक्त पीड़ित की मौत हो गई।
10. इस मामले में पूर्व मिदनापुर के खेजुरी पुलिस स्टेशन में बलात्कार के आरोप में एफआईआर -137/2021 के तहत एक मामला दर्ज किया गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

फैट बर्न करके वजन घटा सकता है करी पत्ता

कोलकाता : आज हम आपके लिए लेकर आए हैं करी पत्ते के फायदे। करी पत्ता पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने और एनीमिया को दूर करने आगे पढ़ें »

ऊपर