चक्रवाती तूफान से गिरे पेड़ों को दोबारा किया जा रहा है खड़ा

हिडको की अनोखी पहल, करीब 100 पेड़ों को दोबारा मिलेगी जिंदगी
300 पेड़ अम्फान की वजह से उजड़े ,एक्सपर्ट की सलाह के बाद लगेंगे नए पेड़
सन्मार्ग संवाददाता,कोलकाता : अम्फान महा चक्रवात ने जान-माल का जितना नुकसान किया वह हैरत करने वाला है। इस सुपर साइक्लोन ने हरियाली को भी बुरी तरह तबाह किया है। सड़क के किनारे पेड़ आज सड़कों पर उजड़े पड़े हैं। नौबत यह है कि कई जगह सेना को बुलाकर इन उजड़े पेड़ों को हटाया जा रहा है। इन्हीं पेड़ों में से कुछ ऐसे पेड़ भी हैं जिन्हें दोबारा जान देने में खड़ा है हिडको। इसके सीएमडी देवाशीष सेन ने बताया कि छोटे-बड़े कुल मिलाकर 300 पेड़ अम्फान के कारण टूटे या गिरे हैं, उनमें से करीब 100 पेड़ों को बचाने की कोशिश की जा रही है। इसे लेकर इंजीनियरों से बात भी की गई है। जल्द इन पेड़ों को दोबारा खड़ा किया जाएगा।
तीन बांसों के सपोर्ट से बांध रहे हैं पेड़
इन पेड़ों को तीन बांसों की मदद से सपोर्ट देकर बांधा जा रहा है ताकि वह खड़े रहें। इसे लेकर एक्सपर्ट से भी सलाह ली गई है। ऐसे करीब 100 पेड़ों को चुना गया है जिन्हें इसी प्रक्रिया से दोबारा खड़ा किया जा सकता है। इन पेड़ों में छोटे बड़े सभी पेड़ हैं जो पूरी तरह टूटे या उखड़े नहीं है। यह पेड़ इको पार्क और न्यूटाउन के प्रोटेक्टेड एरिया में सड़क के किनारे लगे हुए थे।
नए प्लांटेशन के लिए एक्सपर्ट देंगे सलाह
देवाशीष सेन ने बताया कि अब तक सड़कों के किनारे बाबला और विभिन्न प्रजाति के पेड़ लगाए गए थे मगर वे तेज हवा में खुद को बचा नहीं पाए। इसलिए इस बार मानसून में जो प्लांटेशन किया जाएगा उसके लिए एक्सपर्ट से बकायदा सलाह ली जा रही है। वह बताएंगे कि किस प्रजाति के पेड़ों को लगाना उचित होगा, उन्हीं पेड़ों का प्लांटेशन किया जाएगा

शेयर करें

मुख्य समाचार

शिक्षकों ने लगा संस्था के अधिकारी पर ठगी का आरोप

कलई खुलने से बाद से अधिकारी है भूमिगत ​पीड़ितों ने किया कई जगहों पर विक्षोभ-प्रदर्शन बारासात : गरीब बच्चों के लिए एक संस्था खोलकर उनकी पढ़ाई के आगे पढ़ें »

हावड़ा में 9 नये चेहरे, क्रिकेटर मनाेज तिवारी को शिवपुर से ​मिला टिकट

80 से पार विधायकों को नहीं मिली उम्मीदवारी नये चेहरों पर है यकीन : मुख्यमंत्री हावड़ा : आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए शुक्रवार को मुख्यमंत्री व आगे पढ़ें »

ऊपर