घाटों की सफाई का दावा : आधा सच आधा झूठ

सिंकी सिंह
कोलकाता : कोलकाता नगर निगम का दावा है कि छठ पूजा के लिए सभी घाटों की सफाई की पूरी व्यवस्था की गई है। अब यह बात अलग है कि यह दावा आधा सच है तो आधा झूठ। छठ का महापर्व आज यानी रविवार से शुरू हो गया है। लाखों की संख्या में श्रद्धालु महानगर के अलग-अलग घाटों पर पूजा-अर्चना के लिए आते हैं। लेकिन महानगर में कई ऐसे छठ घाट दिखे जहां पर गंदगी फैली हुई है। सन्मार्ग की टीम घाटों का जायजा लेने पहुंची तो वहां का मंजर काफी अलग था। कई घाट ऐसे थे जहां पर फूल, मूर्ति के अवशेष के साथ ही गंदगी भरी पड़ी थी। प्रिंसेप घाट और बाबू घाट की सफाई पर निगम की नजरदारी बनी हुई है तो दूसरी तरफ आर्मेनियन घाट व छोटे लाल घाट बदहाल अवस्था में पड़े हुए हैं।

प्रिंसेप घाट व बाबू घाट की सफाई में जुटा निगम

प्रिंसेप घाट व बाबूघाट पर हर वर्ष हजारों की संख्या में श्रद्धालु छठ व्रत करने के लिए आते है। ऐसे में कोलकाता नगर निगम की ओर से इन घाटों की सफाई पर विशेष नजर रखी जा रही है। घाटों पर लाइट की व्यवस्था के साथ ही कोलकाता पुलिस की नजर भी रहेगी।

बदहाल अवस्था में पड़े हैं अब भी आर्मेनियन घाट व छोटे लाल घाट

जहां एक ओर कई घाटों की सफाई में जुटा है कोलकाता नगर निगम , वहीं दूसरी ओर आर्मेनियन, छोटे लाल घाट जैसे घाटों की हालत बदहाल अवस्था में पड़ी हुई है। हर तरफ गंदगी व फूलों के अवशेष पड़े हैं। इसके साथ ही लाइट को भी लेकर कोई व्यवस्था नहीं की गई है।

क्या कहना है स्थानीय लोगों का

पंडित शंभुनाथ पांडे ने बताया कि आर्मेनियन घाट की सफाई को लेकर निगम के लोग कभी-कभी आते है। लेकिन इस बार छठ घाटों की सफाई को लेकर कोलकाता नगर निगम की तरफ से काई कार्य नहीं किया गया है। रमा यादव ने बताया कि निगम की तरफ से सफाई का कार्य नहीं किया जा रहा है लेकिन लोग भी घाट व नदी को गंदा करने के लिए जिम्मेदार है। जो भी कचरा होता है वह सब घाट के किनारे फेंक देते हैं। इस वजह से घाटों पर गंदगी का अंबार बन गया है।

क्या कहना है मेयर परिषद के सदस्य का

मेयर परिषद के सदस्य देवाशिष कुमार ने बताया कि छठ है तो सभी घाटों पर निगम की नजरदारी बनी हुई है। काली पूजा विसर्जन की वजह से कई घाटों पर फूल व मूर्तियों के अवशेष मिले है लेकिन सोमवार तक सभी घाटों की सफाई कर दी जाएगी। इसके साथ ही सभी घाटों पर चेंजिंग रूम की व्यवस्था भी की जा रही है ताकि छठ व्रतियों को किसी भी प्रकार की समस्या का सामना ना करना पड़े। मेयर परिषद के सदस्य देवव्रत मजुमदार ने बताया कि छठ पूजा के दौरान सभी घाटों पर निगम के कर्मचारी मौजूद रहेंगे जो घाटों की साफ-सफाई पर नजर बनाए रखेंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कल्याणकारी योजना का लाभ दिए जाने में हुई गड़बड़ी शीघ्र होगी दूर : सीता सोरेन

दुमका : झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) की वरिष्ठ नेता और दुमका जिले में जामा की विधायक सीता सोरेन ने कहा कि पूर्व में अयोग्य लोगों आगे पढ़ें »

नक्सलियों को 15 लाख की लेवी देने जा रहा ठेकेदार गिरफ्तार

औरंगाबाद : बिहार में नक्सल प्रभावित औरंगाबाद जिले के अम्बावार तरी के निकट एक संदिग्ध वाहन से 15 लाख रुपये जब्त कर संवेदक समेत दो आगे पढ़ें »

ऊपर