पुलिस की नाक के नीचे हो रही थी गांजे की खेती, हुआ पर्दाफाश

झाड़ग्राम : झाड़ग्राम में पुलिस की नाक के नीचे ही पिछले काफी समय से गांजे की खेती की जा रही थी जिसका आखिरकार पर्दाफाश हुआ। गोपीबल्लभपुर इलाके में पुलिस और आबकारी विभाग ने मिलकर गांजे की खेती के खिलाफ अभियान चलाकर खेत को नष्ट कर दिया।
पुलिस सूत्रों के अनुसार, झाड़ग्राम जिले के गोपीबल्लभपुर से होकर बहने वाली स्वर्ण रेखा नदी के किनारे काफी मात्रा में गांजे की खेती की जाती है। इसके बारे में पुलिस को जानकारी मिलने पर पुलिस और आबकारी विभाग ने अभियान चलाकर गांजे की खेती को नष्ट कर दिया। गांजे के पौधों को काट कर उन्हें जला दिया गया। इस बारे में झाड़ग्राम के एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि कुछ दिनों पहले ही काफी परिमाण में गांजे के साथ एक अभियुक्त को गिरफ्तार किया गया था। उससे पूछताछ करने पर पता चला कि गोपीबल्लभपुर के चोरचिता गांव से वह गांजा लेकर आया है। उसके बाद ही रविवार की शाम से उस इलाके में अभियान चलाकर गांजे की खेती को नष्ट कर दिया गया। मालूम हो कि पिछले कुछ दिनों के अंदर पश्चिम मिदनापुर जिले के ओडिशा सीमांत इलाके से काफी मात्रा में विभिन्न गाड़ियों से गांजा पकड़ा गया और कई लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ओलंपिक तैयारियों के लिये नये विदशी कोच की उम्मीद : चिराग-सात्विक

नयी दिल्ली : भारत के चिराग शेट्टी और सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी की पुरूष युगल जोड़ी इंडोनेशिया के फ्लांडी लिम्पेले के अचानक जाने के बाद अपनी ओलंपिक आगे पढ़ें »

वर्ल्ड कप 2011 : फाइनल में मैंने ही धोनी को ऊपर आने के लिए कहा था – सचिन

नयी दिल्‍ली : पूर्व भारतीय क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने 2011 वनडे वर्ल्ड कप के जीत के क्षण को याद किया। सचिन ने कहा कि श्रीलंका आगे पढ़ें »

लॉकडाउन के बीच घर में ही टेनिस खेल रहे हैं दिग्गज खिलाड़ी 

फीफा ने टोक्यो ओलंपिक के लिए फुटबॉलरों की आयु सीमा बढ़ाई, अब 24 साल के खिलाड़ी भी खेल सकेंगे

टेस्ट स्पिनर स्टीफन ओकीफी ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट से संन्यास लिया

कोरोना : पीवी सिंधू 3 वर्ष तक रह सकती हैं वर्ल्ड चैंपियन

डोपिंग : थाईलैंड और मलेशिया के भारोत्तोलकों को टोक्यो ओलम्पिक में भाग लेने से प्रतिबंधित किया गया

कोरोना : बुजुर्गों और बच्चों को स्वच्छ खाना उपलब्ध कराएगी आईटीसी

स्‍टेडियम की असली ताकत उसमें मौजूद दर्शक होते है : विराट कोहली

पीएम-केयर्स फंड में स्टील कंपनियों ने 267.55 करोड़ रुपये दिए, सुपरमार्ट्स ने 100 करोड़ रुपये दिए

ऊपर