कोलकाता में चीनी निवेशक कंपनी जौमेटो का बहिष्कार, 100 से अधिक कर्मचारियों ने इस्तीफा देकर जलायी टीशर्ट

कोलकाता: देशभर में जहां एक तरफ लोग कोरोना की मार झेल रहे है वहीं दूसरी तरफ कुछ दिन पहले लद्दाख में भारत-चीन के झड़प में शहीद हुए सेना के जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए लोग चीनी सामानों का बहिष्कार किया फिर बहुत से शहरों के होटलों में चीन नागरिकों को बहिष्कार किया गया अब लोगों ने चीन द्वारा निवेश किये गये कंपनियों को निशाना बनाया गया है। इसी के तहत आज एक घर-घर खाना पहुचाने वाली कंपनी जौमेटो के 100 से अधिक डिलीवरी बॉयज ने कंपनी की टी शर्ट में आग लगाकर विरोध जताया और कंपनी से इस्तीफा दे दिया। एक पूर्व कर्मचारी ने बताया कि हम किसी भी कीमत पर चीन को हमारे गाढ़ी कमाई का हिस्सा नहीं ले जाने देंगे। हम चीनी कंपनियों का व चीन द्वारा निवेशक कंपनियों का बहिष्कार करते है। यह घटना कोलकाता के बेहला में घटी जहां कंपनी के 100 से अधिक कर्मचारियों ने इस्तीफा दे दिया।
चीन की अलीबाबा की है सहायक कंपनी 150 मिलियन डॉलर है निवेश
न्यूज एजेंसियों के अनुसार जौमेटो चीन की कंपनी अलीबाबा की सहायक कंपनी है। इसमें जनवरी 2020 में एंट फाइनेंश्यिल ने जौमेटो में लगभग 150 मिलियन डॉलर का निवेश किया था।
हमारे पैसे से हथियार खरीद करते है हम पर हमला
पूर्व कंपनी के कर्मचारी ने इस्तीफा देने के बाद जौमेटो कंपनी की टी शर्ट जलाने के बाद कहा कि हमारे देश का पैसा चीन जाता है फिर वो उससे हथियार खरीद कर हमारे देश भारत पर हमला करता है हमारे जवानों को मारता है हम ये बर्दाशत नहीं करेंगे। चाहे हम और हमारे घरवाले भूखे रहें ये मंजूर है लेकिन चीन द्वारा निवेश की हुई किसी भी कंपनी में हम काम नहीं करेंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

शिवसेना पश्चिम बंगाल में नहीं लड़ेगी चुनाव, तृणमूल को दिया समर्थन

बंगाल इकाई ने अलग किये रास्ते तृणमूल ने किया शिव सेना के फैसले का स्वागत कोलकाता : राष्ट्रीय जनता दल और समाजवादी पार्टी के बाद शिव सेना आगे पढ़ें »

ईसीएल ने 500 टन कोयला चोरी का पता लगाया था लेकिन कार्रवाई नहीं हुई

कोयला तस्करी मामले में रेलवे के वरिष्ठ अधिकारियों से सीबीआई ने की घंटों पूछताछ कोलकाता : ईस्टर्न कोलफिल्ड्स लिमिटेड (ईसीएल) के सतर्कता दल ने शिल्पांचल की आगे पढ़ें »

ऊपर