कोरोना से मरने वालों के अंतिम संस्कार में हिस्सा ले सकेंगे परिजन

 

कोलकाता : अब कोविड से मरने वाले लोगों के अंतिम संस्कार में परिजन भी नियमों और शर्तों के साथ हिस्सा ले सकेंगे। उल्लेखनीय है कि अभी तक कोरोना संक्रमण से अपनों को खो चुके परिवारों को अंतिम संस्कार में शामिल होने की अनुमति नहीं थी, लेकिन अब कलकत्ता हाईकोर्ट के निर्देश के बाद सरकार ने अंतिम संस्कार की प्रक्रिया में बदलाव किया है। इससे अब कोरोना से मौत के बाद नियम और शर्तों का पालन करते हुए परिजन अंतिम संस्कार की प्रक्रिया में शामिल हो सकेंगे। राज्य स्वास्थ्य विभाग की ओर से आदेश जारी किए जाने के बाद कोलकाता नगर निगम के प्रशासक फिरहाद हकीम ने इसके बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि अंतिम संस्कार के दौरान 6 लोग शव यात्रा में भी शामिल हो सकेंगे।

शव को घर ले जाने की अनुमति नहीं

महानगर में कोरोना से होने वाली मौत के बाद शवों के अंतिम संस्कार के लिए केएमसी के साथ ही कुछ निजी संस्थाओं को निगम ने नियुक्त किया है। ऐसे में शवों के अंतिम संस्कार निगम के द्वारा चिन्हित श्मशान घाट या बेरियल ग्राउंड में ही किया जाएगा। लोगों को अस्पतालों व एजेंसियों से संपर्क कर अंतिम संस्कार का समय जान लेना होगा। उसके अनुसार वह शव के साथ अंतिम संस्कार के लिए शमशान घाट तक जा सकेंगे। इसकी पूरी जानकारी व अनुमति कोलकाता नगर निगम को देनी होगी, उसके बाद ही आगे का कार्य किया जा सकेगा। इस कार्य में अस्पताल प्रबंधन भी मृतक के परिजनों की मदद कर सकते हैं, लेकिन शव को घर ले जाने की अनुमति नहीं होगी।
इन श्मशान घाटों में कोविड से मृत लोगों का अंतिम संस्कार
कोलकाता नगर निगम की ओर धापा, बिरजूनाला, निमतल्ला श्मशान घाट में कोविड से मृत लोगों के शवों का अंतिम संस्कार किया जा रहा है। वहीं दूसरे समुदाय के लोगों के लिए बागबाजार बेरियल ग्राउंड में व्यवस्था की गयी है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

उत्तर प्रदेश के गांवों में अनाज भंडारण के लिए बनेंगे 5000 गोदाम

लखनऊ : उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार किसानों को फसल सुरक्षित रखने और उसकी अच्छी कीमत दिलाने के लिये गांवों में 5000 भण्डारण गोदाम आगे पढ़ें »

गांजे की खेती वाले कमेंट पर भड़कीं कंगना रनौत, उद्धव ठाकरे पर किया पलटवार

  मुंबई: बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के गांजे की खेता वाले कमेंट पर पलटवार करते हुए कहा कि जनसेवक होकर आप इस तरह आगे पढ़ें »

ऊपर