किसी को भी नहीं लांघनी चाहिए लक्ष्मण रेखा : राज्यपाल

कोलकाता : पश्चिम बंगाल सरकार और राजभवन के बीच चल रही तनातनी थमने का नाम नहीं ले रही है। दोनों ओर से लगातार बयानबाजी हो रही है। राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने शनिवार को एक बार फिर राज्य सरकार पर वार किया। उन्होंने कहा कि किसी को भी लक्ष्मण रेखा नहीं लांघनी चाहिए। प्रदेश के राज्यपाल के तौर मुझे उस तंत्र का पालन करना चाहिए जो संविधान में उल्लिखित है कि क्या करना है और क्या नहीं। एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि किसी को भी लक्ष्मण रेखा नहीं लांघनी चाहिए। शनिवार शाम को एक संस्था की ओर से आयोजित दीपावली प्रीति सम्मेलन में राज्यपाल ने कहा कि परिस्थिति चाहे कितनी भी उत्तेजक क्यों न हो, वे स्वयं कभी भी लक्ष्मण रेखा पार नहीं करेंगे। गौरतलब है कि राज्य सरकार और राज्यपाल के बीच इस साल जुलाई माह के अंत से तीखी बयानबाजी चल रही है। उसके बाद भी यह बदस्तूर जारी है। विभिन्न मुद्दों पर दोनों पक्ष एक दूसरे पर बयानों के तीर छोड़ रहे हैं। चाहे दुर्गापूजा कार्निवल में राज्यपाल को बैठाने की व्यवस्था का मुद्दा हो या फिर जादवपुर विश्वविद्यालय में केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो को बचाने के लिए वहां जाने का मुद्दा। अन्य कई मौकों पर भी दोनों पक्ष आमने-सामने होते रहते हैं।हाल में राज्यपाल के मुर्शिदाबाद सफर के लिए हेलिकाॅप्टर उपलब्ध कराने का अनुरोध राज्य सरकार से किया गया था। राज्य सरकार ने राज्यपाल के इस अनुरोध को बेतुका और आम जनता के धन का दुरुपयोग बताया था। दूसरी ओर राज्यपाल ने ममता बनर्जी का नाम लिये बगैर हमला करते हुए कहा था कि कुछ लोग मेरे बयान को समझे बिना अपनी जुबान अधिक और लचर तरीके से चला रहे हैं।धनखड़ ने कहा था कि तूफान प्रभावित इलाकों में राहत सामग्री के वितरण में राजनीति की जा रही है। यह लोकतंत्र के लिए घातक है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

मालदह में युवती से ‘गैंग रेप’, फिर जिंदा जलाया

हैदराबाद जैसी घटना से बंगाल स्तब्ध शव की हालत इतनी खराब कि उसकी शिनाख्त नहीं हो पायी सन्मार्ग संवाददाता मालदहः हैदराबाद सामूहिक दुष्कर्म और हत्याकांड जैसी घटना गुरुवार आगे पढ़ें »

बिग बॉस 13 से बाहर होंगे सिद्धार्थ शुक्ला,जानकर दुखी हुए फैन

मुंबई : टीवी रिएलिटी शो बिग बॉस का सीजन 13 कई मायनों में सुपरहिट साबित हो रहा है और रोजाना कोई ना कोई नया विवाद आगे पढ़ें »

ऊपर