कालीघाट मंदिर के गर्भगृह में प्रवेश के लिए वैक्सीन की दोनों डोज जरूरी

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : कोरोना के तीसरी लहर के आने की आशंकाओं के मद्देनजर कालीघाट मंदिर के गर्भगृह प्रवेश के लिए नियमों में और ज्यादा सख्ती लायी गयी है। कोविड वैक्सीन के दोनों डोज ले चुक श्रद्धालु ही मंदिर के गर्भगृह में जा सकेंगे। जानकारी के मुताबिक कालीघाट टेंपल कमेटी ने यह फैसला लिया है कि वैक्सीन के दोनों डोज नहीं लेने वालों को गर्भगृह में प्रवेश नहीं होगा। कोविड की तीसरी लहर की आशंका व्यक्त की जा रही है इसके लिए अभी से ही एहतियात बरती जा रही है। गत दिन मंदिर व श्रद्धालुओं की स्वास्थ्य सुरक्षा को ध्यान में रखकर कालीघाट मंदिर कमेटी ने बैठक की जहां फैसला लिया गया कि अब से प्रवेश से पहले वैक्सीन के दोनों डोज के सर्टिफिकेट दिखाना होगा। इस बैठक में अलीपुर जिला विचारक चैताली दास चट्टोपाध्याय, राज्यसभा सांसद तथा मंदिर कमेटी के सभापति शुभाशिष चक्रवर्ती व अन्य कई उपस्थित थे। जिला विचारक चैताली दास ने जानना चाहा कि सरकारी प्रतिबंधों के अनुपालन में यहां सब कुछ ठीक से चल रहा है। मंदिर कमेटी ने पिछले एक साल में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए कई कदम उठाए हैं। संक्रमण को ध्यान में रखते हुए मंदिर के अपने फंड से सभी बुनियादी ढांचे का निर्माण किया गया है लेकिन कई मामलों में मंदिर में बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं के दबाव से उन चीजों को नुकसान पहुंचा है। इसके बाद यह तय किया गया कि मंदिर से जुड़े लोगों और पुरोहितों को टीके की दोनों डोज दी जायेगी। वे ही केवल मंदिर के गर्भगृह में जाएंगे। जिन भक्तों ने दोनों डोज लिया है वे भी जा सकेंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

भाटपाड़ा में भाजपा सांसद के घर पहुंचे एनआईए अधिकारी

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : बैरकपुर के सांसद सह प्रदेश भाजपा के उपाध्यक्ष अर्जुन सिंह के भाटपाड़ा स्थित निवास स्थल पर बमबारी मामले में जांच के लिए आगे पढ़ें »

ऊपर