काम नहीं आया जादू, गंगा में डूबा जादूगर

कोलकाता : लोगों को अपने जादू से हैरान कर देने वाले एक जादूगर का जादू उसी के काम नहीं आया और वह जान से हाथ धो बैठा। मामला पश्चिम बंगाल के हावड़ा ब्रिज के पास का है। जहां रविवार को अपनी कला से दर्शकों का मनोरंजन कर रहा एक जादूगर की गंगा में डूब गया।
लोगों ने पुलिस को दी सूचना
दरअसरल, जादूगर ने पहले अपने हाथों और पैरों में लोहे की जंजीर से बांधी उसके बाद वह गंगा नदी उतर गया। काफी इंतजार के बाद भी जादूगर बाहर नहीं आया तो लोगों ने पुलिस को सूचना दी।
तलाश में जुटा आपदा प्रबंधन विभाग
मौके पर पहुंची पुलिस ने जादूगर की तलाश और घटना की जांच शुरू कर दी है। उसकी खोज के लिए आपदा प्रबंधन विभाग की टीम को लगाया गया है। पुलिस के अनुसार सोनारपुर निवासी जादूगर का नाम चंचल लाहिरी है और उसकी आयु 41 वर्ष है। उन्होंने यह भी बताया कि चंचल ने जादू का प्रदर्शन करने से पहले प्रशासन से अनुमति ली थी। बावजूद इसके प्रशासन की ओर से उसकी सुरक्षा को लेकर कोई कदम नहीं उठाया गया।
क्रेन की मदद से नदी में  लगाई थी डुबकी 
इस संबंध में कलक्टर सैयद वकार रजा ने का कहना है कि जादूगर चंचल ने क्रेन की मदद से नदी में डुबकी लगाई थी। उन्होंने कहा कि चंचल दर्शकों को दिखाना चाहता था कि वह नदी के अंदर जादू से अपने हाथ-पैर खोलकर बाहर आ जाएगा। लेकिन वह ऐसा करने में कामयाब नहीं हो सका।

गौरतलब है कि यह पहला मौका नहीं था जब जादूगर चंचल इस तरह का जादू दिखाने नदी में उतरा था। वह इससे पहले दो बार अपने हाथ-पांव जंजीरों से बांधकर पानी में उतर चुका है और दोनों बार सही सलामत जंजीर खोलकर बाहर आने में सफल रहा था। हालांकि इसी तरह के जादुई करतब दिखाने के चक्कर में साल 2013 में वह मौत के मुंह में जाने से बाल-बाल बचा था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टाला ब्रिज पर डायवर्सन के कारण 100 मिनी बसें चलाएगा परिवहन विभाग

वाहनों के डायवर्सन से यात्रियों को नहीं होगी समस्याः शुभेन्दु अधिकारी कोलकाताः टाला ब्रिज पर बस व भारी वाहनों की पाबंदी के बाद बड़े पैमाने पर आगे पढ़ें »

बीजीबी की कार्रवाई बेवजह, हमने नहीं चलाई एक भी गोलीः बीएसएफ

मुर्शिदाबादः बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश (बीजीबी) के जवानों ने बीएसएफ के जवान को लक्ष्य कर जानबूझकर चलायी थी गोली। यह मानना है सीमा पर तैनात बीएसएफ आगे पढ़ें »

ऊपर