कहीं आप भी कोरोना डर की गिरफ्त में तो नहीं…

डर से पहुंच सकता है शरीर पर प्रभाव
संदीप त्रिपाठी,कोलकाताः लॉकडाउन के साथ-साथ अब काफी संख्या में छूट मिलने के साथ लोग काम पर लौट रहे हैं। हालांकि अब भी काफी संख्या में कुछ लोग कोरोना वायरस के कारण डर की गिरफ्त में है। वहीं डॉक्टरों का कहना है कि आवश्यकता है कि लोग अब डर से निकलें। अक्सर डर के कारण भी कई प्रकार की शारीरिक समस्या हो सकती है। घर के बाहर निकलने के दौरान कुछ सावधनियां बरत कर आप आसानी से हर कार्य कर सकते हैं। डॉ.रंजन घोष, साइकियाट्री कहते हैं कि समय चुनौतीपूर्ण है, लेकिन अब काम के लिए भी निकलने का समय आ चुका है। अकेलेपन से बाहर निकलें। मन में खौफ न रखें। कोरोना वायरस का डर ना पालें। इसके प्रति जागरूक रहें।
यह हो सकता है असर
तनाव से
बार-बार सिरदर्द, रोग प्रतिरोधक क्षमता का कम होना, थकान, और ब्लड प्रेशर में उतार-चढ़ाव
– चिड़चिड़पना, उदासी और उलझन
– बार-बार बुरे ख्याल आना
-नशे की लत बढ़ना
यूं दूर कर सकते हैं तनाव
– मानसिक रूप से खुद को मजबूत रखें
– घर से बाहर निकलें तो मास्क अवश्य पहनें, सैनिटाइजर साथ रखें
-अपनी हॉबी को मत भूलें
-परिवार के सदस्यों या नजदीकी मित्रों से अपनी भावनाओं को जाहिर करें
-सकारात्मक सोच रखें

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल में तीसरे दिन भी कोरोना के 800 से ज्यादा मामले, 25 की हुई मौत

कोलकाता : वेस्ट बंगाल कोविड-19 हेल्थ बुलेटिन के अनुसार पश्चिम बंगाल में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 850 नये मामले आये है आगे पढ़ें »

कोरोना की वजह से 9वीं-12वीं के पाठ्यक्रम 30 फीसदी घटे

नयी दिल्ली : कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच स्कूलों के ना खुल पाने के कारण शिक्षा व्यवस्था पर असर और कक्षाओं के समय में आगे पढ़ें »

ऊपर