कटमनी ली तो खानी पड़ेगी जेल की हवा : ममता

पार्टी नेताओं को निर्देश : राज्यभर में बुलंद करें ‘जय बांग्ला’ का नारा
भाजपा की भेदभाव की नीति को मात देने के लिए तेज करें जनसंपर्क
सन्मार्ग संवादददाता
कोलकाता : सरकारी परिसेवाओं के बदले लाभार्थियों से रिश्वत लेते अगर कोई नेता पकड़ा जाता है तो उसे पुलिस के हाथों गिरफ्तार कराया जाएगा। कटमनी को लेकर और सख्त होते हुए तृणमूल प्रमुख ममता बनर्जी ने अपने पार्टी के नेताओं को चेताते हुए सावधान किया है कि कटमनी को लेकर वह सचेत रहें। आम जनता को उनका हक मिलना चाहिए इसके बदले रुपये लेने वालों को हवालात की सैर करायी जाएगी। इस दिन ममता तृणमूल भवन में नदिया जिला नेतृत्व के नेताओं के साथ बैठक कर रही थीं। बैठक के दौरान ही उन्होंने सभी नेताओं को इस बारे में सावधान रहने की चेतावनी दी।
राज्यभर में बुलंद करें ‘जय बांग्ला’ का नारा
दूसरी तरफ जय बांग्ला नारे को लेकर ममता ने निर्देश दिया है कि वह राज्यभर में इस नारे को बुलंद करें। उन्होंने कहा कि ब्लॉक स्तर से लेकर जिलास्तर पर नेता इसे अपना नारा बनाएं तथा आम जनता के बीच इसे लोकप्रिय करें।
भाजपा की भेदभाव की नीति को दें मात
पार्टी के नेताओं को जनसंपर्क तेज करने की नसीहत देते हुए ममता ने निर्देश दिया है कि वह भाजपा की भेदभाव की नीति को फेल करे। पहले तो ममता ने अपने नेताओं पर नाराजगी जतायी कि सत्तापक्ष में रहने के बावजूद वे लोगों के बीच पैठ जमाने में नाकामयाब रहे जबकि भाजपा बाहर से आकर साम्प्रदायिकता का कार्ड खेलने में सफल रही। इस बिगड़ी स्थिति को जल्द से जल्द ठीक करना होगा। ममता ने नेताओं को चेताया है कि आने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी को दोबारा पटरी पर लाना होगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

Jagdip Dhankhar

धनखड़ के खिलाफ विधान सभा से संसद तक मोर्चाबंदी

कोलकाता : ऐसा पहली बार हुआ है जब विधानसभा में सत्ता पक्ष ने धरना दिया। कारण थे राज्यपाल जगदीप धनखड़, जिन पर विधेयकों को मंजूरी आगे पढ़ें »

मेरे कंधे पर बंदूक रखकर चलाने की को​शिश न करें – धनखड़

कोलकाता : राज्यपाल जगदीप धनखड़ और तृणमूल सरकार के बीच संबंधों में मंगलवार को और खटास आ गयी जब उन्होंने ‘कछुए की गति से काम आगे पढ़ें »

ऊपर