एक घंटे से ज्यादा समाचार पत्र पढ़ने वाले पाठकों की संख्या दोगुनी से ज्यादा हुई

लॉकडाउन में विश्वसनीय सूचना के लिए अखबारों पर सबसे ज्यादा भरोसा
नई दिल्ली : कोरोना वायरस के कारण देशभर में लागू लॉकडाउन के बीच लोगों को विश्वसनीय सूचना की आवश्यकता सबसे अधिक है। इसके लिए लोग सबसे अधिक भरोसा समाचार पत्रों पर कर रहे हैं। एवांस फील्ड एंड ब्रांड सॉल्यूशंस एलएलपी ने राष्ट्रीय सर्वेक्षण किया कि लॉकडाउन के दौरान पाठक समाचार पत्रों को पढ़ने के लिए कितना समय दे रहे हैं। इसके मुताबिक देश में करीब 40% पाठक प्रतिदिन एक घंटे से ज्यादा का समय अखबार पढ़ने के लिए दे रहे हैं, जबकि लॉकडाउन से पहले ऐसे पाठकों की संख्या 16% थी।सर्वेक्षण 13 अप्रैल से 16 अप्रैल के बीच फोन के माध्यम से अलग-अलग राज्यों में किया था। इससे पता चला कि लॉकडाउन के दौरान 72 प्रतिशत पाठक ऐसे हैं जो समाचार पत्र पढ़ने के लिए 30 मिनट से ज्यादा का समय दे रहे हैं। पहले यह संख्या इससे 30 फीसदी कम यानी 42 प्रतिशत थी। इस सर्वेक्षण में शामिल मात्र 3% ऐसे पाठक मिले, जो 15 मिनट से कम समय अखबार पढ़ते हैं, जबकि लॉकडाउन से पहले इनकी संख्या 14% तक थी। जो पाठक पहले 38 मिनट का समय देते थे, अब वे 60 मिनट तक का समय दे रहे हैं। 58% लोग एक बार में पूरा अखबार पढ़ लेते हैं, जबकि 42% पाठक अब सुबह से रात तक अलग-अलग वक्त में अखबार पढ़ते हैं, यानी अखबार से अब उनका जुड़ाव बढ़ रहा है। पाठकों ने कहा कि – समाचार पत्र सच में अनिवार्य वस्तु हैं और आज भी सूचना के लिए सबसे भरोसेमंद स्रोत हैं।
भरोसेमंद खबरों को अब दोगुना समय
1 घंटा पाठक अब औसतन 60 मिनट का समय समाचार पत्रों को पढ़ने में लगा रहे हैं, लॉकडाउन से पहले यह 38 मिनट था।
38प्रतिशत लोग अब एक घंटे से ज्यादा वक्त तक अखबार पढ़ रहे हैं, पहले यह संख्या 16 प्रतिशत थी।
72प्रतिशत लोग अब 30 मिनट से अधिक समय तक अखबार पढ़ रहे हैं, जबकि पहले यह संख्या 42 प्रतिशत थी।
3प्रतिशत लोग अब 15 मिनट से कम समय दे रहे हैं, जबकि पहले 14 प्रतिशत लोग इतना समय अखबार को देते थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

यूएस ओपन में भाग लेना संदिग्ध : जोकोविच

बेलग्राद : अपने एड्रिया टूर के दौरान कोरोना वायरस से संक्रमित हुए विश्व के नंबर एक टेनिस खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच ने अपनी आलोचना आगे पढ़ें »

ओलंपिक : प्रत्येक राज्य से एक-एक खेल चुनने को कहा गया है : रीजीजू

नयी दिल्ली : खेल मंत्री किरेन रीजिजू ने बुधवार को कहा कि सरकार ने ओलंपिक में ज्यादा से ज्यादा पदक हासिल करने की मुहिम के आगे पढ़ें »

ऊपर