उत्तर बंगाल में भारी बारिश, हजारों तबाह, 1 मरा

प्रभावितों को प्रशासन ने सुरक्षित स्थानों पर भेजा
कूचबिहारः पिछले 5 दिनों से जारी मूसलधार बारिश और आंधी ने उत्तर बंगाल में भारी तबाही मचायी है। बारिश और तेज आंधी से हजारों घर तबाह हो गए हैं। पेड़ों के उखड़ कर सड़क पर गिरने से भारी क्षति हुयी है। वहीं दूसरी ओर शनिवार की रात 40 साल के बिमल शील की मौत एक बड़े नाले में गिरने से हो गई। यह नाला बारिश के पानी‌ से पूरा भरा हुआ था। बाढ़ के पानी के कारण व्यक्ति को कुछ पता नहीं चल सका।
वहीं उत्तर बंगाल के कूचबिहार के माथाभांगा एक नंबर ब्लाॅक में सर्वाधिक तबाही हुयी है। क्षेत्र के केदारहाट और गोपालपुर पंचायत क्षेत्रों सहित मेखलीगंज के कूचलीबाड़ी, निजतरफ, उच्छलपोखड़ी सहित अन्य क्षेत्रों में करीब दो सौ घरों की छतें उड़ गयी। माथाभांगा केदारहाट और गोपालपुर पंचायतों में ही 400 घरों को क्षति पहुंची है। आमि बाला बर्मन नाम की एक महिला को बेहद गंभीर हालत में जलपाईगुड़ी जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इधर मेखलीगंज के तीन पंचायतों में 500 से अधिक घर क्षतिग्रस्त हुए। यहां पांच लोग घायल हुए हैं।
कई जगहों पर भरा पानी, लोग हलकानः
प्रशासनिक सूत्रों ने बताया कि पिछले पांच दिनों से दार्जिलिंग, कैलिम्पोंग, जलपाईगुड़ी, कूचबिहार और अलीपुरद्वार के उप-हिमालयी जिलों के कई हिस्सों में पानी भर गया है। मौसम विभाग ने सोमवार तक इन जिलों में “भारी से बहुत भारी” बारिश की चेतावनी दी है। अन्य क्षेत्रों में, मालदह, उत्तर दिनाजपुर और दक्षिण दिनाजपुर में भी भारी बारिश होने की संभावना जताई गई है। माथाभांगा एक नंबर ब्लाक के बीडीओ संबल झा ने बताया कि तेज आंधी की तबाही का कारण बनी। प्रभावित क्षेत्रों में सरकारी अधिकारी और कर्मचारियों को भेजकर हालात और क्षति का जायजा लिया गया।
क्षति का वास्तविक आकलन किया जा रहाः रवीन्द्रनाथ घोष
इधर उत्तर बंग विकास विभाग के मंत्री रवीन्द्रनाथ घोष ने बताया कि तेज आंधी और बारिश के कारण होने वाली क्षति का वास्तविक आकलन किया जा रहा है। प्रभावितों को उचित सरकारी सहायता देने के आदेश दिये गये हैं। उन्होंने कहा कि पूरी तरह क्षतिग्रस्त घरों के लोगों को जिला प्रशासन और स्थानीय पंचायतों की ओर से उचित जगहों पर भेज दिया गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

tejasvi yadav

आरक्षण को लेकर आरएसएस एंव भाजपा की मंशा ठीक नहीं:तेजस्वी

पटना : बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने आरक्षण के मुद्दे पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत के हालिया बयान आगे पढ़ें »

ordinence factory strike

देश की सभी ऑर्डिनेंस फैक्ट्रियों में हड़ताल

जबलपुर : केंद्र सरकार द्वारा देश के सभी रक्षा संस्थानों के निगमीकरण किए जाने के विरोध में देशभर की 41 ऑर्डिनेंस फैक्ट्रियों के करीब 83,000 कर्मचारी आगे पढ़ें »

ऊपर