…इस तरह कुख्यात हुआ था पार्थ

कोलकाता : गत 10 जून 2015 को मध्य कोलकाता के 3, रॉबिंसन स्ट्रीट स्थित एक पुराने घर में जब कोलकाता पुलिस ने 77 वर्षीय एक वृद्ध की आत्महत्या के मामले में छानबीन शुरू की तो उस समय उन्होंने जो देखा था उसकी कल्पना भी नहीं की होगी। ‘कंकालों की कोठरी’ से उस समय पुलिस का सामना हुआ था। जांच में पुलिस को पता चला था कि मृतक 77 वर्षीय वृद्ध का बेटा पार्थ दे अपनी बहन देवजानी और दो पालतू कुत्तों के कंकालों के साथ लगभग 6 महीने से रह रहा था। इस अचंभित कर देने वाली घटना ने सबके रोंगटे खड़े कर दिये थे।
आज भी लोगों के जेहन में रॉबिंसन स्ट्रीट और पार्थ दे की यादें ताजा हैं। हालांकि इसे किस्मत का फेर कहें या फिर कुछ और, आज रॉबिंसन स्ट्रीट स्थित पार्थ दे के परिवार में कोई नाम लेने वाला भी नहीं बचा। मंगलवार को पार्थ दे की मौत के बाद अब पूरे परिवार में कोई नहीं रह गया है। पार्थ दे अपनी बहन व पिता के साथ रहता था, लेकिन बहन की मौत के बाद पार्थ उसके पार्थिव शरीर के साथ रहने लगा था। इसकी भनक लगते ही पार्थ के पिता ने आत्महत्या कर ली थी। केवल पार्थ दे पूरे परिवार में बच गया था, लेकिन पुलिस के अनुसार, उसकी मानसिक स्थिति दिन-ब-दिन बिगड़ती जा रही थी। उसे कुछ समय के लिए पैवलव मानसिक अस्पताल में भर्ती करवाया गया था जहां से छूटने के बाद वह वाटगंज स्थित अपने फ्लैट में रहने लगा था। पार्थ से जब पूछा गया था कि उसने अपनी बहन के शव को जलाया क्यों नहीं था तो उसका कहना था कि वह अपनी बहन से बहुत प्यार करता था और उसे खुद से दूर नहीं भेज सकता था।
बी.टेक पार्थ ने आईटी की बेहतरीन कंपनी में किया था काम
पार्थ ने टेक्नोलॉजी में बैचेलर की डिग्री हासिल कर बेहतरीन आईटी कंपनी में काम किया था। कुछ समय के लिए उसकी पोस्टिंग यू.एस. में भी हुई थी। जानकारी के अनुसार, कार्यालय में झड़प होने के बाद पार्थ ने काम छोड़ दिया था।
कैंसर से हुई मां की मौत से शुरू हुआ था मौतों का सिलसिला
अरविंद दे, उनकी पत्नी आरती व उनके बच्चे देवजानी व पार्थ एकांत जीवन व्यतीत करते थे और समाज में उनका अधिक घुलना-मिलना भी नहीं था। वर्ष 2007 में कैंसर से आरती की मौत हो गयी थी। पुलिस सूत्रों के अनुसार, आरती की मौत ने देवजानी व पार्थ को उनके पिता अरविंद से अलग-थलग कर        दिया था।
पैरानॉर्मल व अाध्यात्मिक गतिविधियों से जुड़ा था पार्थ
सूत्रों के अनुसार, बहन देवजानी के साथ-साथ पार्थ भी पैरानॉर्मल व अाध्यात्मिक गतिविधियों से जुड़ा हुअा था। वर्ष 2007 में जब आरती का देहांत हुआ था तो उस समय भी पार्थ ने आरती के शरीर का दाह संस्कार करने से साफ इनकार कर दिया था। उस समय पार्थ विदेश में था और मां की मौत की खबर सुनने के बावजूद वापस नहीं आया था।
पार्थ की मौत के साथ कई सवाल रह गये अनसुलझे
पार्थ दे की मौत के साथ पूरा दे परिवार तो खत्म हो गया, लेकिन अब भी कई सवाल अनसुलझे रह गये हैं। किसी सिक्योरिटी गार्ड अथवा पड़ोसी को देवजानी के पार्थिव शरीर की कोई भनक कैसे नहीं मिली ? पार्थ का यह कहना कि बंद दरवाजों और खिड़कियों के कारण कोई गंध बाहर नहीं गयी, यह किस हद तक सही है?जब पार्थ के पिता ने खुद को आग लगायी थी तो उस समय पार्थ ने किसी से कोई मदद क्यों नहीं ली ? जब अरविंद को पता चला कि पार्थ अपनी बहन व पालतू कुत्ताें के पार्थिव शरीर के साथ रहता है तो उनका दाह संस्कार करने की जिद्द क्यों नहीं की ? पार्थ सिजोफ्रेनिया और डिल्यूजनल डिस्आर्डर नामक बीमारी से पीड़ित था।

एक साल पहले ही मर्लिन अपार्टमेंट में रहने आया था

कोलकाता : पार्थ दे द्वारा मंगलवार को अपने फ्लैट के अंदर आत्मदाह किये जाने के दौरान शरीर में आग लगने के बावजूद उसके पड़ोसियों को उसकी चीख तक नहीं सुनायी दी। पड़ोसियों के अनुसार, पार्थ दे बिल्डिंग में किसी भी व्यक्ति से बातचीत भी नहीं करता थे। उसके पड़ोसी फैज अहमद ने बताया कि करीब एक साल से पार्थ उक्त फ्लैट में रह रहा था। वह काफी चुपचाप रहा करता था।  स्थानीय लोगों के अनुसार, वह सिर्फ हां या ना में किसी भी सवाल का जवाब देता था।   फ्लैट से बाहर वह अपने केयरटेकर के साथ ही निकलता था। वहीं बिल्डिंग में रहने वाले नावेद अहमद ने बताया कि जब पार्थ को उन्होंने अपनी बिल्डिंग में देखा तो उन्हें पता चल गया था कि यह वही पार्थ दे है जिसने कई महीने अपनी बहन के शव के साथ बिताये थे। मर्लिन अपार्टमेंट के फैसिलिटी मैनेजर ने बताया कि दो दिन पहले तक उन्होंने पार्थ को अपार्टमेंट के अंदर मॉर्निंग वॉक करते हुए देखा था। कभी -कभी पार्थ अपनी कार खुद चलाकर बाहर जाया करता था।
कुछ महीने पहले पार्थ ने करायी फ्लैट की रजिस्ट्री
11ई फ्लैट के पुराने मालिक बी.जे बरसाला ने बताया कि पिछले साल फरवरी महीने में पार्थ दे को उन्होंने फाडर रॉडनी के जरिए फ्लैट दिया था। इस दौरान दो इंस्टालमेंट में चेक के जरिए पार्थ ने उसे रुपये देकर उनसे 1093 स्क्वायर फीट का फ्लैट खरीदा था। कुछ महीने पहले पार्थ ने अपने नाम पर फ्लैट की रजिस्ट्री करायी थी।
जादवपुर में कंप्यूटर पढ़ाता था पार्थ
पुलिस के अनुसार, पिछले एक साल से एक संस्था में वह कंप्यूटर पढ़ाता था। पार्थ ने टर्निंग प्वाइंट में कंप्यूटर की शिक्षा ग्रहण की थी और उसकी दक्षता को देखते हुए उसे वहां पर काम भी दे दिया गया था। मंगलवार की सुबह भी पार्थ ने अपने केयरटेकर को कंप्यूटर सेंटर में किसी काम से भेजा था। पुलिस के अनुसार, पार्थ का केयरटेकर प्रदीप सरकार पाटुली थानांतर्गत वैष्णवघाटा इलाके का रहने वाला है। वह रोजाना सुबह पार्थ के पास आता था और रात को वापस चला जाता है। इस दौरान वह पार्थ के खाना बनाने से लेकर अन्य कामों का ध्यान रखता था।

मुख्य समाचार

शहीद दिवस : दीदी दिखाएंगी 26 सालों का दम

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में तृणमूल का विकल्प नहीं, भाजपा के लिए यहां जगह नहीं, इसी लक्ष्य को लेकर आज शहीद दिवस की महारैली में आगे पढ़ें »

बिहार मोड़ से पिस्टल व कारतूस के साथ दो युवक गिरफ्तार

सिलीगुड़ीः सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) के 41 नंबर बटालियन ने शुक्रवार देर रात बागडोगरा के बिहार मोड़ से दो युवकों को 9 एमएम पिस्टल एवं आगे पढ़ें »

अमित शाह ने ममता को फोन कर बताया, कौन हो रहा है नया राज्यपाल

कोलकाता : केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को फोन कर राज्य के नये राज्यपाल जगदीप धनखड़ की नियुक्ति की जानकारी दी। आगे पढ़ें »

माओवादियों के बंद को लेकर जंगलमहल सतर्क

झाड़ग्राम : 21 जुलाई को माओवादियाें के संगठन झारखंड जनमुक्ति परिषद की ओर से झारखंड बंद बुलाया गया है, जिसे देखते हुए झाड़ग्राम जिले के आगे पढ़ें »

अपनी टीम के साथ रैली में मौजूद होंगे पीके

कोलकाता : 2021 के विधानसभा चुनाव में तृणमूल के लिए रणनीति रच रहे प्रशांत किशोर अपनी टीम के साथ आज की महारैली में मौजूद रहेंगे। आगे पढ़ें »

‘म‌हिला पुलिस अधिकारी स्लीवलेस पहनकर ऑफिस न आएं’

नई ‌दिल्ली : महिला पुलिस अधिकारी जब थाने में ड्यूटी पर आएं तो वे स्लीवलेस टॉप या वेस्टर्न स्टाइल की ड्रेस पहनकर न आएं। यह आगे पढ़ें »

Shilpa shetty Back

12 वर्षों के बाद शिल्पा करेंगी वापसी, इस रोल में दिखेंगी

मुंंबईः बाॅलीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी के दीवानों के लिए अच्छी खबर है। वे एक दशक से ज्यादा समय के बाद बड़े पर्दे पर वापसी करने आगे पढ़ें »

इंस्टाग्राम पर इंसानी खोपड़ियों व हड्डियों की धड़ल्‍ले से बिक्री, खरीददारों में ज्‍यादातर शोधार्थी

लंदन : उपभोक्‍तावाद के इस दौर में अपने प्रोडाक्‍टस को बेचने के लिए सोशल मीडिया एक अच्‍छा माध्‍यम बन गया है। इसके जरिए बहुत से आगे पढ़ें »

Rajnath in KAshmir

एक-एक आतंकी को चुन-चुनकर मारेंगे : राजनाथ

श्रीनगर : रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को कहा कि जम्मू-कश्मीर में एक-एक आतंकी को चुन-चुनकर मारेंगे। उन्होंने कहा कि घाटी से सभी आतंकियों आगे पढ़ें »

Sidhu resignation

6​ दिन बाद आखिरकार सिद्धू का इस्तीफा मंजूर

चंडीगढ़ : राज्य मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू का इस्तीफा पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने शनिवार को स्वीकार कर लिया। इसके बाद सीएम ने आगे पढ़ें »

ऊपर