इम्युनिटी बढ़ाने की दवाओं की मांग में 100 फीसदी का इजाफा


कोलकाता :
कोरोना वायरस की वैक्सीन अभी तक बाजारों में उपलब्ध नहीं हो पायी है। उम्मीद जतायी जा रही है कि अगले साल के शुरू में वैक्सीन आ जायेगी। इस बीच लोग अपने शरीर की इम्युनिटी क्षमता के जरिये वायरस से लड़ रहे हैं। शरीर की इम्युनिटी क्षमता बढ़ाने के लिए तरह-तरह के उपाय कर रहे हैं। पौष्टिक भोजन लेने के साथ इम्युनिटी बढ़ाने वाली दवाओं की मांग भी काफी बढ़ गई है। दवा कंपनियों ने भी बाजार में कई तरह की दवाओं के साथ ही काढ़ा भी बेचना शुरू कर दिया है, जिससे व्यक्ति अपनी इम्युनिटी को बढ़ा सकता है।
विटामिन सी और जिंक सप्लिमेंट की मांग बढ़ी
सस्तासुंदर.कॉम के संस्थापक और कार्यकारी अध्यक्ष बी. एल. मित्तल ने कहा कि कोरोना संक्रमण का मामला सामने आने के बाद से इम्युनिटी बढ़ाने की दवाओं की मांग में बेतहाशा बढ़ोतरी हुई है। हालांकि उन्होंने इस बढ़ोतरी के संंबंध में कोई सटीक आंकड़ा तत्काल देने में असमर्थता जतायी, लेकिन कहा कि गत वर्ष की समान अवधि की तुलना में करीब 100 फीसदी का इजाफा हुआ है। मित्तल के मुताबिक विशेष रूप से विटामिन सी और जिंक सप्लिमेंट की मांग काफी बढ़ी है। इसके साथ ही खांसी और कफ की एंटीबायोटिक, काढ़ा तथा च्यवनप्राश की भी बाजार में बहुत मांग  है। कोरोना वायरस के संक्रमण के मामले बढ़ने के साथ लोग बचाव के लिए अपनी इम्युनिटी बढ़ाने में जुटे हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि इम्युनिटी सिस्टम के मजबूत होने से कोरोना से मुकाबला आसान हो जाता है। इसीलिए लोग पहले की तुलना में काफी जागरूक हुए हैं। आयुर्वेदिक दवाओं की ओर भी लोगों का रुझान बढ़ा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कोरोना काल में देश के नाम 7वां संबोधन, जानें पीएम के भाषण की बड़ी बातें

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को देश के नाम संदेश दिया। कोरोना काल में ये उनका 7वां संबोधन था। पीएम मोदी ने आगे पढ़ें »

मंदिर की चौखट पर युवक की गला रेतकर हत्या

मिर्जापुर : यूपी के मिर्जापुर में एक मंदिर की चौखट पर एक युवक की गला रेतकर हत्या कर दी गई। मृतक का नाम मुन्ना पासी आगे पढ़ें »

ऊपर