इधर पत्नी गई मायके, उधर पति ने रचाया ब्याह

कोलकाता : पत्नी ने पति से बड़ी मनुहार के साथ कहा कि मायका गए एक जमाना हो गया जरा वहां से घूम कर आती हूं। पति ने थोड़ा ना-नुकर के बाद मायका जाने की इजाजत दे दी। बहरहाल वह सरोसामान तैयार करके मायका के लिए रवाना हो गई। इथर पत्नी मायका पहुंची और उधर पति ने दूसरा ब्याह रचा लिया। पत्नी ने पुलिस के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाते हुए हाई कोर्ट में रिट दायर कर दी।
उषा और श्रीकांत (बदले हुए नाम) की मुलाकात बस यूं ही मिल गए सरे राह चलते-चलते के अंदाज में हुई थी। उषा कोलकाता में बु‌टिक का कारोबार करती थी और श्रीकांत (बदले हुए नाम) असम के एक राष्ट्रीयकृत बैंक में अफसर के पद पर कार्य करता था। कोलकाता आने-जाने के दौरान 2015 के दिसंबर में श्रीकांत की मुलाकात उषा से हुई और वे रफ्ता-रफ्ता एक दूसरे के करीब आते गए। हाई कोर्ट में दायर याचिका के मुताबिक श्रीकांत ने प्रोपोज किया तो उषा ने पहले तो इनकार किया और फिर इकरार कर बैठी। श्रीकांत ने इसी दौरान अपना तबादला पश्चिम दिनाजपुर के पुगलीगंज में करा लिया। बालूरघाट के पातीराम मंदिर में हिंदू रीति रिवाज के मुताबिक 2016 के सितंबर में ब्याह रचा लिया। ब्याह को कानूनी दर्जा देने के लिए दोनों ने असम के तिनसुकिया में मैरिज रजिस्ट्रार के यहां 2017 के जून में ब्याह का पंजीकरण करा लिया। ब्याह के बाद पति-पत्नी ने कई हवाई यात्राएं भी कीं। जब उषा मायके से लौट कर आई तो उसने घर का दरवाजा खटखटाया तो किसी और महिला ने दरवाजा खोला। उसका दावा था कि वह श्रीकांत की पत्नी है। याचिका के मुताबिक उषा को वहां से मारपीट कर भगा दिया गया। उषा ने कस्बा थाने में तीन नवंबर को पति के खिलाफ दूसरा ब्याह रचाने और मारपीट करने का आरोप लगाते हुए एफआईआर दर्ज करा दी। पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की तो उषा ने एक्टिंग चीफ जस्टिस ज्योतिर्मय भट्टाचार्या के डिविजन बेंच में संवैधानिक रिट दायर कर दी। अब यह बात दीगर है कि उसे डिविजन बेंच से कोई राहत नहीं मिल पाई। इसकी वजह यह है कि उषा झारखंड के चाइबासा की रहने वाली है तो श्रीकांत असम के तिनसुकिया के दूम-दूमा का रहने वाला है। ये कलकत्ता हाई कोर्ट के न्यायिक अधिकार क्षेत्र में नहीं आते हैं। लिहाजा डिविजन बेंच ने उपयुक्त कोर्ट में याचिका दायर करने की सलाह देते हुए इसका निपटारा कर दिया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कर्ज के रुपये चुकाने के लिए किया था अपहरण,4 अभियुक्त गिरफ्तार

सन्मार्ग संवाददाता,कोलकाता : बेनियापुकुर थानांतर्गत पार्क सर्कस इलाके से व्यक्ति के अपहरण के आरोप में पुलिस ने 4 लोगों को गिरफ्तार किया है। अभियुक्तों के आगे पढ़ें »

अध्यापिका के पद से बैशाखी का इस्तीफा

कोलकाता : मिली अल-अमीन कॉलेज की अध्यापिका के पद से बैशाखी बंद्योपाध्याय ने इस्तीफा दे दिया है। गुरुवार को शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी को मेल आगे पढ़ें »

ऊपर