आस्था ने भुलाया कोरोना और सोशल डिस्टेंसिंग को

कोलकाता : फिर एक बार बीमारी पर आस्था भारी पड़ गयी। आस्था के सामने लोग कोरोना का डर भी भूल गये, सोशल डिस्टेंसिंग भी लोगों ने याद नहीं रखी। दूसरे सोमवार के भी भूतनाथ मंदिर के सामने श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ पड़ी। इस दौरान लोग सामा​जिक दूरी की बात को भी भूल गये। कोरोना काल के कारण इस बार नजारा कुछ अलग है। सभी स्थानों पर कांवड़ यात्रा के साथ ही भोलेनाथ के मंदिर भी बंद हैं। लोग दूर से ही भोले बाबा के दर्शन कर रहे हैं। बात करें कोलकाता की तो प्रत्येक वर्ष सावन के महीने में भूतनाथ मंदिर में लाखों की संख्या में श्रद्धालु उमड़ते थे, लेकिन इस बार कोरोना काल की वजह से भोले बाबा के सभी मंदिर बंद हैं।
बंद मंदिरों के सामने दर्शन के लिए उमड़ पड़े भक्त
मंदिर बंद होने के बावजूद मंदिर के बाहर काफी संख्या में श्रद्धालु पहुंचे। यह कहा जा सकता है कि कोरोना पर भक्ति भारी पड़ी और सोशल डिस्टेंसिंग को भूलते हुए लोग मंदिरों के सामने दर्शन के लिए उमड़ पड़े। मंदिर के आस-पास काफी भीड़ इकट्ठा हो गयी थी। वहीं इनमें कई श्रद्धालु ऐसे भी थे जिन्होंने मास्क तक पहनना जरूरी नहीं समझा। पूछने पर किसी ने कहा मास्क घर में ही भूल गये तो किसी ने कहा मास्क में सांस लेने में दिक्कत होती है। वहीं कई लोग बगैर मास्क के मंदिर के आस – पास सेल्फी लेते हुए दिखे। ऐसा लग रहा था जैसे​ किसी में कोरोना फैलने का कोई डर ही ना हो। अन्य वर्षों की तुलना में भीड़ कम जरूर थी, मगर जो भीड़ थी वह कोरोना संक्रमण फैलने के लिए काफी थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टोक्यो ओलंपिक आयोजन समिति के दो कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव

टोक्‍यो : टोक्यो ओलंपिक आयोजन समिति के दो कर्मचारी कोविड-19 जांच में पॉजिटिव आये हैं। अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी। इस तरह समिति आगे पढ़ें »

महिला विश्व कप 2021 की मेजबानी में सक्षम लेकिन आईसीसी के फैसले का सम्मान : न्यूजीलैंड

क्राइस्टचर्च : न्यूजीलैंड के खेल मंत्री ग्रांट रॉबर्टसन ने शनिवार को कहा कि उनका देश अगले साल प्रस्तावित महिला एकदिवसीय विश्व कप की मेजबानी कर आगे पढ़ें »

ऊपर