एनआरसी लागू कर हिंदीभाषियों को भगाना चाहती है केंद्र सरकार-जितेंद्र

कुल्टी : भाजपा नीत केंद्र सरकार पश्चिम बंगाल में एनआरसी लागू करना चाहती थी जिसे मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने रोका। वहीं अगर भाजपा फिर केंद्र में सरकार बना लेती है तो इस बार वह एनआरसी लागू कर बंगाल से हिंदीभाषियों को बाहर निकाल देगी। उक्त बातें मेयर जितेंद्र तिवारी ने कुल्टी थाना मोड़ मैदान में आयोजित शिवचर्चा के दौरान श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए कहीं। उन्होंने भोजपुरी में भाषण देते हुए कहा कि बंगाल की मुख्यमंत्री घर की अभिभावक हैं। वे सभी के गुस्से को भी झेलती हैं पर इलाके में विकास का कार्य भी करती रहती हैं। जितेंद्र तिवारी ने भाजपा पर हमलावर होते हुए कहा कि बाबुल सुप्रियो अगर इस इलाके से पुनः जीत गये और केंद्र में भाजपा की सरकार बन गयी तो बंगाल से हिंदी भाषियों को एनआरसी के नाम पर बाहर भगा दिया जाएगा। इससे हिंदी भाषियों को सावधान रहने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि काफी संख्या में रोजगार की तलाश में दूसरे राज्य से हिंदीभाषी बंगाल आये और यहीं के होकर रह गये पर अब एनआरसी के नाम पर उनसे जमीन के कागजात, पूर्वजों के जन्म प्रमाण पत्र सहित कई अन्य प्रमाण पत्र मांगे जायेंगे तो कोई भी हिंदी भाषी नहीं दे पायेगा और अंत में उन्हें बंगाल छोड़ना पड़ेगा। साथ ही उन्होंने कहा कि बंगाल में जब तक ममता बनर्जी मुख्यमंत्री हैं, तब तक हिंदी भाषियों को एनआरसी से डरने की कोई बात नहीं है पर भाजपा की सरकार पुनः आयी तो इसका सबसे ज्यादा नुकसान हिंदीभाषियों को ही उठाना पड़ेगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

इन नए नियमों के साथ आज से खुलेगा ऐतिहासिक न्यू मार्केट

कोलकाता : 2 महीने से अधिक हो चुके आखिरकार आज से ऐतिहासिक न्यू मार्केट खुलने जा रहा है। दुकानदार और खरीदार के दौरान कोरोना का आगे पढ़ें »

अब यात्रियों को 3 घंटे पहले पहुंचना होगा एयरपोर्ट

कोलकाता : विमान से यात्रा करने वाले यात्रियों को अब 3 घंट पहले कोलकाता एयरपोर्ट पहुंचना होगा। इसीक जानकारी कोलकाता एयरपोर्ट प्रबंधन की ओर से आगे पढ़ें »

ऊपर