आयुर्वेदिक स्प्रे से केएमसी कोरोना के रेड जोन को तब्दील कर रहा है ग्रीन जोन में

केएमसी ने लिया ‘वंडर स्प्रे ‘का सहारा, राजाबाजार व बेलगछिया में मिली सफलता 
सिंकी सिंह, कोलकाता : कोलकाता में कोरोना वायरस का मीटर तेजी से बढ़ रहा है। ऐसे में कोलकाता नगर निगम कोरोना वायरस से निपटने के लिए एक स्प्रे का सहारा लिया है जिसे वंडर स्प्रे के नाम से जाना जा रहा है। दावा है कि इस स्प्रे के कारण बेलगछिया व राजाबाजार जैसी घनी बस्ती को रेड जोन से ग्रीन जोन में तब्दील कर दिया गया है। इस सफलता ने कोलकाता नगर निगम का हौसला बढ़ाया है। अब पूरे महानगर के सभी वार्डों में केएमसी ने यह स्प्रे करने का फैसला लिया है और काम भी शुरू कर दिया गया है।
आयुर्वेदिक स्प्रे, नहीं है कोई साइड इफेक्ट : सुप्रियो कुमार
इस स्प्रे के निर्माता सुप्रियो कुमार बताते हैं कि यह एक हाई एल्कलाइन बेस वाला स्प्रे है जिसमें 10.1 एमजी एल्काइन है। इसे एक बार स्प्रे करने पर इसमें से एक लाख आयरन निकलते हैं जो कोरोना वायरस के साथ-साथ अन्य वायरस व बैक्टीरिया को भी नष्ट कर देते हैं। यहां गौरतलब है कि कोरोना वायरस का बाहरी आवरण प्लाज्मा से बना होता है और स्प्रे से निकलने वाले आयोनिक इस प्लाज्मा को नष्ट कर देते हैं। लिहाजा वायरस मर जाता है इसीलिए इसे आईकॉनिक स्प्रे कहा जाता है। हालांकि इसे आईसीएमआर से कोई प्रमाण पत्र नहीं मिला है, लेकिन सुप्रियो कुमार कहते हैं कि यह एक आयुर्वेदिक स्प्रे है और आयुर्वेदिक ड्रग कंट्रोल से अनुमति मिली है। उन्होंने बताया कि इस स्प्रे का छिड़काव किसी भी व्यक्ति पर करने से कोई नुकसान नहीं होता है।
केएमसी के निर्देश पर हमारी टीम करती है कार्य
कोलकाता नगर निगम से जिस तरह से निर्देश दिया जाता है उसके अनुसार ही हमारी टीम कार्य करती है। लोगों का विश्वास हासिल करने के लिए इस कंपनी के लोग जनता के सामने पहले अपने शरीर पर इस स्प्रे का छिड़काव करते हैं उसके बाद बाकी लोगों पर इसका छिड़काव किया जाता है।
वंडर स्प्रे की वजह से रेड जोन बना ग्रीन जोन
कोलकाता नगर निगम के प्रशासक फिरहाद हकीम ने बताया कि एनियोन डिटॉक्स स्प्रे यानी वंडर स्प्रे के जरिए राजाबाजार और बेलगछिया को रेड जोन से ग्रीन जाेन करने में हमें काफी सफलता मिली है।
इसके बाद से कोलकाता नगर निगम के 144 वार्डों में इस स्प्रे का इस्तेमाल कर कोरोना को खत्म करने का प्रयास किया जा रहा है। सुप्रियो कुमार की टीम के साथ निगम कर्मी, स्वास्थ्य विभाग अधिकारी व पार्षद को मौजूद रहने का भी निर्देश दिया गया है।
वंडर स्प्रे पर क्या है दावा
-रेड जोन से ग्रीन जोन बनाने में मिली मदद
-कई इलाकों में कम्युनिटी स्प्रेड रोका गया
-नाक और आंख में कोई नुकसान नहीं
-यह एक आयुर्वेदिक स्प्रे है

शेयर करें

मुख्य समाचार

माता पिता के साथ हुए नस्ली भेदभाव की बात करते रो पड़े होल्डिंग

साउथम्पटन : वेस्टइंडीज के अपने जमाने के दिग्गज गेंदबाज माइकल होल्डिंग नस्लवाद पर दमदार भाषण देने के एक दिन बाद सीधे प्रसारण के दौरान अपने आगे पढ़ें »

शाहरुख ने मुझे गंभीर जैसी आजादी नहीं दी : गांगुली

नयी दिल्‍ली : मौजूदा बीसीसीआई अध्यक्ष और टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के को-ओनर शाहरुख खान को लेकर आगे पढ़ें »

ऊपर