आज ममता-मोदी की मुलाकात

Modi and Mamata

कोलकाता/नई दिल्ली : आज मुख्यमंत्री ममता बनर्जी देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करने वाली है। मोदी के खिलाफ मुखर होने वाली ममता की इस मुलाकात को लेकर राजनीतिक हलकानों में चर्चा काफी गरम है। हालांकि सीएम ने इस बैठक को शिष्टाचार भेंट बताया है। मोदी की दूसरी ताजपोशी के बाद सीएम पहली बार पीएम से मुलाकात करने वाली है जबकि मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में टालमटोल कर ममता नहीं गयी थी।
दिल्ली रवाना होने से पहले कोलकाता एअरपोर्ट पर मुख्यमंत्री ने कहा कि अमूमन मैं दिल्ली कम ही जाती हूं। इस बार कुछ जरूरी कामकाज के तहत दिल्ली पहुंची हूं। मेरे राज्य के लिए जारी कुछ फंड रुके हुए हैं, इस पर बात करने के लिए ही मैं उनसे मिलने आयी हूं। हालांकि हमारी मुलाकात में अभी वक्त है इसलिए पहले से कुछ भी बताया उचित नहीं होगा। सीएम ने कहा कि राज्य के नामकरण के मुद्दे पर भी उनसे चर्चा करूंगी। इसके अलावा बैंकों का विलय, संकट से जूझ रहे एयर इंडिया, बीएसएनएल और रेलवे का मुद्दे पर बात करूंगी। इनके कर्मचारियों ने मुझसे मिलकल अपील की थी कि दीदी कुछ कीजिए, इसलिए पीएम से उनके लिए सकारात्मक करने की बात कहूंगी। यह तो बात हुई सीएम द्वारा मुलाकात को लेकर दी गयी जानकारी की मगर राजनीति के गलियारों में सीएम की पीएम से मुलाकात को लेकर अलग ही कयास लगाएं जा रहे है। जानकारों की माने तो सारधा मामले की आंच जिस तरह तृणमूल सरकार पर तेज हो गयी है वह ममता बनर्जी के लिए चिंता का विषय है। ऐसे में पीएम से इसी मुद्दे पर संभवत: चर्चा करने के लिए सीएम ने पीएम से मुलाकात की अपील कर दिल्ली पहुंची है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

hongkong

हांगकांग ‘लोकतंत्र अधिनियम’ पारित, चीन ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

वाशिंगटन : हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों की मांग वाले एक विधेयक को अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने मंगलवार को पारित कर दिया, जिसका उद्देश्य उस आगे पढ़ें »

रतन टाटा खुद को मानते हैं ‘एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक’, कई बड़ी कंपनियों में है हिस्सेदारी

नई दिल्ली : उद्योगपति और टाटा समूह के चेयरमैन रतन टाटा ने खुद को 'एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक' माना है। उन्होंने दर्जनभर से ज्यादा स्टार्टअप कंपनियों आगे पढ़ें »

court

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने 40 दिन की सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रखा

ayodhya

अयोध्या मामला : मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कहा, शीर्ष न्यायालय के फैसले को स्वीकार किया जाना चाहिए

अमेरिकी प्रतिबंधों के पालन के लिए भारत अपना नुकसान नहीं करेगा: वित्त मंत्री

russia

तुर्की और सीरिया की लड़ाई में रूस बना दीवार, तैनात की अपनी आर्मी

sitaraman

अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद ‘मानवाधिकार’ विश्व स्तर पर ज्वलंत शब्द बन गया : सीतारमण

chetak

बजाज ने पेश किया इलेक्ट्रिक चेतक स्कूटर, सामने आया पहला लुक

rail

रेलवे ने शुरू की नई योजना, अब फिल्म प्रमोशन के लिए हो सकेगी ट्रेनों की बुकिंग

modi

पीएम मोदी बोले- राष्ट्र निर्माण का आधार है सावरकर के संस्कार

ऊपर