आग में जलकर खाक हुए सपने

सिलेण्डर फटते गये और आग बढ़ती गयी
कोलकाता : अमरतल्ला लेन में लगी आग में कई व्यवसाइयों के सपने भी जलकर खाक हो गए। 3, अमरतल्ला लेन में ही ग्राउंड फ्लोर में मनमोहन मोरा की गिफ्ट की दुकान है। मोरा जब तक कुछ समझ पाते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया था। आग की लपटों में उनका पूरा सामान जलकर खाक हो गया है। मनमोहन ने कहा कि सब ईश्वर की माया है, जो होना था वह हो गया। वह कुछ भी कहने की सूरत में नहीं दिखे। चिंता की लकीरें उनके चेहरे पर साफ नजर आ रही थी। कितने का सामान खाक हुआ यह कहना मुश्किल है। मोरा आग की लपटों में अपने बिखरे सपने को तलाशते से नजर आए।
इसी बिल्डिंग में राजीव कर व मीनाक्षी कर के टेडीबियर की दुकान भी थी। दुकान का सारा सामान जल गया। दोनों ने बताया कि करीब 2 लाख रुपये नकदी भी थे। वहीं 4 लाख रुपये का सामान भी था। दोनों बेसुध से नजर आए। राजीव ने कहा कि यदि दमकल के इंजन समय पर पहुंचते तो शायद इस बड़ी आग को रोका जा सकता था। वहीं आस-पास सहमे व्यवसाइयों ने एक-दूसरे को सहायता का हाथ बढ़ाया। भवानीपुर के निवासी जिग्नेश पारेख की बागड़ी मार्केट में दुकान है। वह भी आग की खबर सुनकर मौके पर पहुंचे। जिग्नेश ने कहा कि हमें भय था कि आग कहीं आस-पास के बाजारों तक न पहुंच पाए। नंदराम मार्केट की आग ने जो विकराल रूप लिया था, वह आज भी लोगों में ताजा है। ऐसे में आस-पास के व्यवसायी भी अपनी-अपनी दुकानों पर पहुंच गए। कुछ अपनी दुकानों को बंद करने की तैयारी में थे, तो कुछ निकलने की तैयारी में। आस-पास के व्यवसायी भी लोगों की मदद के लिए पहुंचे।

एक ब्लास्ट और पलभर में सबकुछ खाक

सैय्यद उस्मान जावेद हर दिन की तरह सोमवार की रात भी ट्राम लाइन के पास बैठे थे। लोगों से बातचीत हो रही थी। वहीं अमरतल्ला लेन के व्यवसायी अपने व्यवसाय को समेटकर घर जाने की तैयारी में थे। अचानक एक ब्लास्ट। आग की तेज लपटें और धुआं। आवाज सुनकर उस्मान अपने अन्य मित्रों के साथ दौड़े। कुछ ही पलों में सैकड़ों दुकानें खाक हो गईं। उस्मान ने आस-पास के लोगों को सतर्क करना शुरू किया। लोगों को सुरक्षित निकालने में लग गए। नाखुदा मस्जिद के इमाम नूर आलम भी तुरंत पहुंचे। उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की। साथ ही एक-दूसरे को इस आग को नियंत्रित करने में मदद करने को कहा। मौके पर मौजूद मोहम्मद शहजाद खान व औरंगजेब ने कहा कि आग के विकराल रूप धारण करने की मुख्य वजह शायद संकरी गली ही है। यदि दमकल के इंजनों के लिए पहुंचने की जगह रहती तो आग इतना विकराल रूप धारण नहीं करती।
गैस सिलिंडरों को निकाला बाहर : गोविंद चंद्र धर लेन से होते हुए अमरतल्ला लेन शुरू होता है। आस-पास बड़े पैमाने पर लोगों के घर भी हैं। लोग आग की घटना के बाद सबसे पहले घरों में रखे गैस सिलिंडरों को बाहर निकालते नजर आए।

हर तरफ अफरा-तफरी का मंजर

बड़ाबाजार के 3 नं. अमरतल्ला लेन में सोमवार की रात अचानक आग लग जाने से इलाके में अफरा-तफरी मच गयी। इलाका संकरा होने की वजह से दमकल को आग लगी इमारत तक पहुंचने में कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। आग इतनी भयावह थी कि इलाके के लोग खौफ में इधर-उधर भागने लगे। इमारत के चारों ओर से दमकल के इंजन आग बुझाने के काम में जुटे हुए थे। लोग अपने घरों के छत से इस खौफनाक मंजर को लाचारी से देख रहे थे।
आस-पास के घरों के लोग आग को फैलता देख अपने-अपने सामान घर से निकाल कर भागने लगे। वहीं कुछ लोग आग को बुझाने के लिए दमकल कर्मियों की मदद करते दिखे। इस दौरान सैफ ने कहा कि यह मंजर मेरे जीवन का सबसे खतरनाक मंजर है, मैंने आग का ऐसा भयावह रूप कभी नहीं देखा। वहीं उसने बताया कि आग थोड़ा बहुत नियंत्रण में आ रहा था लेकिन अचानक दो धमाके हुए। मुझे पता नहीं वह धमाके किसके थे, लेकिन इससे आग और भड़क गयी। उसने आरोप लगाया की आग को नियंत्रण करने के दौरान दमकल के इंजनों में पानी खत्म हो गया थी, हालांकि तुरंत दूसरे दमकल इंजनों की मदद से आग को बुझाने का काम शुरू किया गया।

स्थानीय लोगों की करनी पड़ेगी सराहन

स्थानीय लोगों ने आग बुझाने में बहुत मदद की। पहले तो सभी ने मिलकर अपनी ओर से कोशिश की कि आग न फैले। यहां एकता की मिसाल देखने को मिली। लोग यह नहीं देख रहे थे कि यह किस मजहब के व्यक्ति की दुकान है, बस एक ही बात दिमाग में घूम रही थी कि आग को किसी तरह से बुझाना है। यहां के लोग सराहना के पात्र हैं। इनकी सराहना करनी पड़ेगी कि लोगों ने बिना उत्तेजित हुए दमकल कर्मियों से लेकर आने वाले अधिकारियों से लेकर नेताओं तक की मदद की। किसी को चोट न पहुंचे इतना ख्याल रखा लोगों ने। यहां पहुंचने वालों में मेयर शोभन चटर्जी के अलावा डी जी फायर सर्विसेज जगमोहन, विधायक स्मिता बख्शी, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता संतोष पाठक, इलाके के भाजपा नेता किशन झंवर, वार्ड 43 की पार्षद सगुफ्ता परवीन, वार्ड 45 के तृणमूल अध्यक्ष राजीव राय,  स्वपन बर्मन, मनोज सिंह, सौम्य बख्शी व अन्य प्रमुख थे।

100 से अधिक दुकानों को प्रभावित किया आग ने

आग की चपेट में कमोबेश 100 से अधिक दुकानें आयी हैं। इसके अलावा लगभग 30-40 परिवार खुले आकाश के नीचे रहने को मजबुर हो गये हैं। ऊपर वाले के हाथ में मैंने अपना भविषय छोड़ दिया है, मुझे नहीं पता मेरी दुकान बची भी है या नहीं। बड़ाबाजार के जिस मकान में आग लगी, उस मकान के दुकानदार एम टिबड़ेवाल का यह कहना है। बड़ाबाजार के 3 नं. अमर तल्ला लेन की पहली मंजिल पर इनकी खिलौने की दुकान व दफ्तर है। इनका घर लेक टाउन में है। उन्होंने बताया कि वह आग लगने से पहले अपनी दुकान व दफ्तर बंद कर घर के लिए निकल चुके थे। इस दौरान मुझे अचानक फोन आया कि इमारत में भयावह आग लग गयी है। मैं भागता हुआ वापस आया तो देखा की पूरी इमारत आग की चपेट में आ गयी है। मेरे पहुंचने तक आग ने विकराल रूप ले लिया था और धीरे-धीरे आस पास के मकानों में फैल रही थी।
वहीं दूसरी ओर जबीरुद्दीन ने कहा कि इस मकान में मेरा घर है। मैं काम से बाहर निकला था। मेरे मामा, बाबा, अम्मी व घर के बाकी सदस्य घर पर ही थे। उन लोगों ने मुझे फोन किया और कहा कि यहां आग लगी है। मैं जब तक यहां आया तो देखा कि इमारत के ऊपरी हिस्से में आग लगी है। देखते ही देखते आग और उपर व नीचे की ओर फैल गयी। उपर मेरे घर वाले फंसे हुए हैं।

अमरतल्ला लेन का रेड हाउस बना रेड

संकरी गलियां बड़ाबाजार की पहचान हैं। अंग्रेजों के जमाने में निर्मित इलाके आज भी वैसे ही हैं। 3 नंबर अमरतल्ला लेन का इलाका कभी रेड हाऊस के नाम से जाना जाता था। अंग्रेजों के जमाने में यहां फुटबाल ग्राउंड हुआ करता था। यही रेड हाउस आज आग की उठती लपटों से लाल रंग सा नजर आया। ट्राम लाइन के निकट से होते हुए निकली गलियों में छोटे व मझोले व्यवसाइयों का कारोबार है। छोटे-छोटे गोदाम हैं। आग की सूचना मिलते ही व्यवसायी सतर्क हो गए। आस-पास के रहने वाले लोग चिंतित हो गए। जिसको जैसे खबर मिली वह अपनों से संपर्क करता नजर आया। कुछ व्यवासाइयों ने अपने सामान-निकालने शुरू कर दिए। जबकि कुछ ने पहले खुद को सुरक्षित रखने की कोशिश की। खिलौना, प्लास्टिक के दाने का कारोबार, बैग, कॉस्मेटिक के सामान बनाने का काम यहां बड़े पैमाने पर होता है।
आग से फैला धुआं, सुरक्षित ठौर की रही तलाश
संकरी गली होने के कारण बोरों में रखे अपने सामान निकालने में व्यवसाइयों के पसीने छूट गए। जिनके सामान छोटे बोरे में थे उन्होंने उसे बाहर निकालने की कोशिश की। वहीं 6 नंबर अमरतल्ला में ही स्पोर्ट्स के सामान के कारोबारी विकास सचदेवा बेबस नजर आए। विकास के साथ उनके अन्य मित्र भी मौजूद थे। विकास ने कहा कि एक तो बिजली की लाइन काट देने से घना अंधेरा, दूसरे संकरी गली। समझा जा सकता है कि हमारी स्थिति क्या है। बड़े बोरे होने के कारण उसे निकालना टेढ़ी खीर थी। आग की लपटें फैलती जा रही थीं। वहीं लोग अपने सामान को लेकर चिंतित थे। आग के कारण बड़े पैमाने पर हर तरफ धुआं फैल गया था। इससे लोग काफी आतंकित हो उठे थे। काफी लोग सड़कों की ओर दौड़े। वहीं यहां रहने वाले लोग सुरक्षित ठौर की तलाश करते नजर आए। नरोत्तम प्रधान यहां एक गोदाम में काम करते हैं। नरोत्तम ने कहा कि शायद पहली बार इतनी भयावह आग देखी। इसने एक बार फिर से नंदराम मार्केट की याद दिला दी।

 

मुख्य समाचार

जुमा ने कहा, मैंने ही गुप्ता परिवार को मीडिया एम्पायर खड़ा करने की सलाह दी

जोहानिसबर्ग : दक्षिण अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति जैकब जुमा ने इस बात की पुष्टि की है कि उन्होंने ही गुप्ता परिवार को मीडिया एम्पायर खड़ा आगे पढ़ें »

Arvind Kejriwal, Manish Sisodia

केजरीवाल और सिसोदिया को आपराधिक मानहानि मामले में मिली जमानत

नई दिल्ली : आपराधिक मानहानि के मुकदमें में मंगलवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री (सीएम) अरविंद केजरीवाल और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को दिल्ली की राउज आगे पढ़ें »

Varanasi-Patalpuri- Guru Purnima-muslim women worshiped mahant

वाराणसी में गुरू पूर्णिमा के दिन मुस्लिम महिलाओं ने उतारी महंत की आरती

वाराणसी : धर्म की नगरी वाराणसी में गुरू पूर्णिमा के दिन मुस्लिम महिलाओं ने अपने गुरु पीठाधीश्वर महंत बालक दास की पूजा-आरती कर सामाजिक एकता आगे पढ़ें »

कुलभूषण जाधव मामले में बुधवार को फैसला सुनाएगी आईसीजे

द हेग : अंतरराष्ट्रीय न्याय अदालत (आईसीजे) भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव से जुड़े मामले में बुधवार को अपना फैसला सुनाएगी। पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत आगे पढ़ें »

रवि शास्त्री के दिन पूरे, नया कोच ढूंढ रहा बीसीसीआई

कोच और सपोर्ट स्टाफ का कार्यकाल खत्म हाे चुका है नई दिल्लीः भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने भारतीय टीम के नए कोच और सपोर्ट स्टाफ आगे पढ़ें »

amitabh in gulabo sitabo

प्रोस्थेटिक लगाने से परेशान हुए ये अभिनेता, साझा की तकलीफ

मुंबई : ‌फिल्मों में खुद को किरदार में पूरी तरह ढाल लेने वाले बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन इन दिनों अपने लुक्स में प्रोस्थेटिक को आगे पढ़ें »

kareena kapoor khan left dancing show

‘डांस इंडिया डांस 7’ से फिर करीना हुई गायब, दिखेंगी ये अभिनेत्री

मुंबईः शो 'डांस इंडिया डांस' के सातवें सीजन में करीना कपूर खान के बदले उनकी सबसे प्रिय सहेली मलाइका अरोड़ा नजर आयेंगी। दरअसल, करीना काफी आगे पढ़ें »

काउंटी क्रिकेट में अश्‍विन का बोलबाला, एक ही मैच में लिए 12 विकेट और 93 रन जड़े

विंडीज दौरे के लिए चयनकर्ताओं की नजर इन पर पड़ सकती है नई दिल्लीः विश्व कप के बाद लगभग सभी भारतीय खिलाड़ी भारत लौट चुके हैं। आगे पढ़ें »

चीन का नं. 1 डिजिटल एक्सेसरी ब्रांड बेसियस ने भारत में प्रवेश किया, 2020 के अंत तक 5-7 प्रतिशत हिस्सेदारी»

नई दिल्ली : चीन के नं. 1 डिजिटल एक्सेसरी ब्रांड बेसियस ने एक्सेसरी की पूरी श्रृंखला के साथ भारत में प्रवेश करने की घोषणा की। आगे पढ़ें »

Students imitating the exam

गुजरात बोर्ड में सामने आया सामूहिक नकल का मामला, सैकड़ों छात्रों ने लिखा एक ही जवाब

अहमदाबाद : गुजरात में बोर्ड की परीक्षा में एक ऐसे सामूहिक नकल का मामला सामने आया है जिसे सुनकर लोग हैरान हैं। वहीं गुजरात सेकेंडरी आगे पढ़ें »

ऊपर