अभी भी कई जगह डिस्कनेक्ट हैं मोबाइल कनेक्शन

सीओएआई का दावा : 85 % दूरसंचार सेवा नेटवर्क बहाल
सबिता राय,कोलकाता : लॉकडाउन जारी है। लोग घर बंदी है। कई लोग वर्क फ्रॉम होम है, ऐसे में अगर मोबाइल नेटवर्क और इंटरनेट भी काम नहीं करें तो परेशानी का अंदाजा साफ लगाया जा सकता है। जी हां कोलकाता व कई जिलों के कई जगहों पर लोगों को मोबाइल नेटवर्क और इंटरनेट सेवा सामान्य नहीं होने की शिकायत है। अम्फान के सात दिन बाद कई टेलिकॉम नेटवर्क आंख मिचौली खेल रही है।
क्या है ग्राहकों की शिकायतें
– वोडाफोन आइडिया के कई ग्राहकों
ने कहा – बात करते करते लाइन
कट जाती है
– खिदिरपुर, काशीपुर, अलीपुर सहित कई इलाकों में बुधवार तक वोडाफोन का इंटरनेट कनेक्शन प्रभावित थी।
– एयरटेल को लेकर भी मिली जुली शिकायतें कई जगहों से आ रही है।
– हालांकि बीएसएनएल और रिलायंस जीआे की शिकायतें बाकी की तुलना में कम मिल रही है।
कई ग्राहकों ने बदला कंनेक्शन
मोबाइल रिचार्ज सेवा से जुड़े एक कर्मी ने कहा कि रोजाना हमारे पास कई उपभोक्ता आ रहे है जो कनेक्शन बदलने का आवेदन दे रहे हंै। एक दिन में कम से कम 200 तक ऐसे ग्राहक आ रहे है। काफी सालों से एक ही कंनेक्शन का इस्तेमाल करने वाले भी अम्फान के बाद अन्य कनेक्शन ले रहे है। यह बेहद ही आश्चर्य की बात है।
85 % दूरसंचार सेवा बहाल
दूरंसचार कंपनियों के संगठन सेल्युलर ऑपरेटर्स ऑफ इंडिया (सीओएआई) ने गत दिन दावा है कि दूरसंचार विभाग ने कंपनियों ने सोमवार शाम तक 95 प्रतिशत कनेक्टिविटी बहाल करने के लिए कहा था। सीओएआई के महानिदेशक राजन एस मैथ्यूज ने कहा, ‘करीब 85 प्रतिशत दूरसंचार सेवा नेटवर्क को बहाल कर लिया गया है।
कर्मचारियों को काम में आ रही है दिक्कतें
सीओएआई ने दावा किया कि सेवा बहाल करने में कई दिक्कतें आयी है। इनमें मुख्य बाधा बिजली आपूर्ति ना होना, फाइबर केबल का टूटना और सड़कों पर पेड़ के टूटना शामिल है। इसके साथ ही लोगों के विरोध प्रदर्शन करने से कर्मचारियों को दिक्कतें भी आ रही है। खासकर कोलकाता और दोनों 24 परगना में कर्मचारियों काे घेराव का भी सामना करना पड़ा। उन्हें मोबाइल टावर ठीक करने में दिक्कतें आयी।
कोलकाता, उत्तर और दक्षिण परगना में हालात चुनौतीपूर्ण – टाइपा
टावर इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोवाइडर्स एसोसिएशन (टाइपा) के महानिदेशक टी आर दुआ ने बताया कि बंगाल के अधिकतर इलाकों में निजी कंपनियों की 90 प्रतिशत सेवा बहाल हो चुकी है लेकिन कोलकाता, उत्तर और दक्षिण परगना जिलों में हालात चुनौतीपूर्ण हैं।
बीएसएनएल की सेवा में सुधार
दूरसंचार उद्योग से जुड़े सूत्रों के मुताबिक सरकारी कंपनी बीएसएनएन की 60 से 65 प्रतिशत सेवा बहाल हो चुकी है। इस प्रकार कुल दुरसंचार सेवा 80-85 प्रतिशत क्षमता के साथ काम कर रही है। स्थानीय प्रशासन और एजेंसियों के बीच समन्वय काम को धीमा कर रही है।
जल्द 90 % सफलता मिलेगी
रिलायंस जियो के एक वरिष्ठ अधिकारी ने गत दिन कहा कि मोबाइल बीटीएस और अन्य समाधान के साथ 70 प्रतिशत सेवा वापस प्राप्त कर लिया है। लगभग 5,000 बीटीएस में से करीब 1,100 परिचालन में नहीं हैं। यह भी ज्यादातर बिजली कनेक्शन की कमी के कारण हैं। हमें उम्मीद है कि बहुत जल्द लगभग 90 प्रतिशत सफलता हासिल होगी।
वोडाफोन-आइडिया और एयरटेल से कोई जवाब नहीं मिला है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

माघ पूर्णिमाः अच्छी किस्मत के लिए आज करें ये काम, घर आएंगी खुशियां

कोलकाताः हिन्दू धर्म में पूर्णिमा तिथि का विशेष महत्व होता है। कहा जाता है कि इस दिन पवित्र नदियों में स्नान करने, दान और ध्यान आगे पढ़ें »

ब्रिगेड की सभा में शामिल होंगे अब्बास सिद्दीकी

कोलकाताः इंडियन सेक्युलर फ्रंट इस बार किसी पार्टी के लिए सत्ता बना सकती है और किसी की बिगाड़ भी सकती है। माकपा के साथ बातचीत आगे पढ़ें »

ऊपर