अब ईस्ट वेस्ट मेट्रो परियोजना को लगी कोरोना की नजर

कोलकाताः महानगर के बहूबाजार इलाके में ईस्ट-वेस्ट मेट्रो कॉरिडोर पर काम आंशिक रूप से प्रभावित हो गया है, क्योंकि उसमें काम करने वाले कुछ श्रमिकों व अधिकारियों को कोविड-19 से संक्रमित पाये जाने के बाद इलाके को संक्रमण-मुक्त करने का काम चल रहा है। केएमआरसीएल के एक अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। हालांकि, कोलकाता मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (केएमआरसीएल) के अधिकारी ने कहा कि इस क्षेत्र में सुरंग खोदने के काम को रोका नहीं गया है।
करीब 20 मजदूर पाये गए कोरोना संक्रमित
अधिकारी ने बताया कि प्रोटोकॉल के अनुसार, जिन क्षेत्रों में संक्रमित मजदूर काम कर रहे थे, केवल उन्हीं क्षेत्रों को संक्रमण-मुक्त किया जा रहा है और केवल उन्हीं क्षेत्रों में काम ठप पड़ा है। हालांकि, अधिकारी ने संक्रमित श्रमिकों की संख्या के बारे में नहीं बताया। उन्होंने बताया कि आवश्यक स्वास्थ्य दिशा-निर्देशों का पालन किया जा रहा है। सूत्रों ने बताया कि करीब 20 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। इसके अलावा कई और लोगों के टेस्ट करवाए गए हैं, जिनकी रिपोर्ट बुधवार को आएगी।
500 मीटर बोरिंग का काम है बाकी
ईस्ट वेस्टो मेट्रो कोरिडोर के सूत्रों ने बताया कि परियोजना के तहत करीब 500 मीटर बोरिंग का काम बाकी है। बहूबाजार के बीबी गांगुली स्ट्रीट से टनेलिंग सियालदह तक पहुंचेगा। पूर्वी छोर में उर्वी मशीन से टनेलिंग का काम किया जा रहा है। लॉकडाउन के दौरान काम बंद था। 19 जून को ही काम फिर से एहतियात के साथ शुरू किया गया है। टीबीएम को अगस्त तक सियालदह पहुंचने का लक्ष्य रखा गया था। हालांकि अचानक कुछ समय तक काम रुकने के कारण यह कार्य विलंबित होकर सितंबर तक जा सकता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने नीतीश से मुलाकात की, राजनीतिक रुख प्रकट किया

पटना: बिहार के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) पद से ऐच्छिक सेवानिवृत्ति (वीआरएस) के बाद राजनीति की ओर कदम बढ़ा रहे गुप्तेश्वर पांडेय ने शनिवार को जनता आगे पढ़ें »

कॉलेज और यूनिवर्सिटी खोलने पर फैसला कल

कोलकाता: पिछले करीब साढ़े 6 महीनों से शिक्षण संस्थान बंद हैं, दोबारा काॅलेज - और यूनिवर्सिटी कब से खुल सकते हैं, इस पर चर्चा के आगे पढ़ें »

ऊपर