अधीर ने पीएम मोदी को बताया ‘गंदी नाली,’ फिर मांगी माफी

नयी दिल्ली / कोलकाता : पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर विवादित बयान देने के बाद कांग्रेस के लोकसभा में नेता अधीर रंजन चौधरी ने अपने बयान पर माफी मांगी। अधीर ने पीएम मोदी के लिए ‘गंदी नाली’ शब्द का इस्तेमाल किया। दरअसल, भाजपा सांसद प्रताप चंद्र सारंगी ने धन्यवाद प्रस्ताव पेश करने के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए उनकी तुलना स्वामी विवेकानंद से कर दी। इस पर अधीर नाराज हो गये। अधीर रंजन चौधरी ने स्वामी विवेकानंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना पर कहा, ‘कहां गंगा मां और कहां गंदी नाली, दोनों की तुलना ठीक नहीं है।’ इसके बाद उन्होंने ये भी कहा कि ‘हमारा और मुंह मत खुलवाओ।’ लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला ने कहा कि बयान का विवादित हिस्सा सदन की कार्यवाही से बाहर कर दिया जाएगा। हालांकि, लोकसभा से बाहर निकलने के बाद उन्होंने कहा कि ‘मैं खुले आसमान के नीचे माफी मांगता हूं। पीएम को ठेस पहुंचाने के लिए नहीं बोला था। मेरी हिंदी ठीक नहीं है।’ इधर, राजग सरकार को ‘ऊंची दुकान फीका पकवान’ करार देते हुए अधीर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ‘बड़े सेल्समैन’ हैं तथा राजग सरकार को अपनी प्रशंसा सुनने का ‘नशा’ है। राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा में हिस्सा लेते हुए अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अतीत की कांग्रेस सरकारों की उपलब्धियों को स्वीकार नहीं करना चाहते हैं। इधर, 2जी घोटाले के मुद्दे पर अधीर ने कहा, ‘2जी और कोयला आवंटन घोटाले में क्या आप किसी को पकड़ पाये ? क्या आप सोनिया गांधी जी और राहुल गांधी जी को जेल में डाल पाये ? आप उन्हें चोर कह कर सत्ता में आये, तो अब वे संसद में कैसे बैठे हैं ?’

अभिनंदन की मूंछ राष्ट्रीय मूंछ घोषित हो – अधीर

विंग कमांडर अभिनंदन को भला कौन भूल सकता है। पाकिस्तान जाकर वापस अपने देश लौटने के बाद से अभिनंदन की बहादुरी के साथ ही उनकी मूंछो की चर्चा भी जोरों पर हुई। उनकी मूंछों वाली छवि सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुई थी। लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने भी अब अभिनंदन की मूंछों की जमकर तारीफ की। अभिनंदन के साहस और वीरता को देखते हुए अधीर ने उन्हें वीरता का पुरस्कार देने की वकालत की। अधीर ने यहां तक कहा कि अभिनंदन की मूंछ राष्ट्रीय मूंछ घोषित की जाए। उन्होंने कहा, ‘अभिनंदन वर्तमान काे उनकी वीरता के लिए पुरस्कार मिलना चाहिए। उनकी मूंछों को राष्ट्रीय मूंछ भी घोषित करना चाहिए। ’

शेयर करें

मुख्य समाचार

टाला ब्रिज पर डायवर्सन के कारण 100 मिनी बसें चलाएगा परिवहन विभाग

वाहनों के डायवर्सन से यात्रियों को नहीं होगी समस्याः शुभेन्दु अधिकारी कोलकाताः टाला ब्रिज पर बस व भारी वाहनों की पाबंदी के बाद बड़े पैमाने पर आगे पढ़ें »

बीजीबी की कार्रवाई बेवजह, हमने नहीं चलाई एक भी गोलीः बीएसएफ

मुर्शिदाबादः बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश (बीजीबी) के जवानों ने बीएसएफ के जवान को लक्ष्य कर जानबूझकर चलायी थी गोली। यह मानना है सीमा पर तैनात बीएसएफ आगे पढ़ें »

ऊपर