वसुंधरा राजे की पेयजल संकट दूर करने की पीएम से अपील

नयी दिल्ली : राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा है कि राजस्थान में पेयजल की विकट समस्या के समाधान के लिये केंद्र सरकार सहानुभूतिपूर्वक विचार करते हुए प्रदेश को विशेष अतिरिक्त केंद्रीय सहायता मुहैया कराए।
मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे रविवार को नयी दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में राष्ट्रपति भवन में आयोजित नीति आयोग की शाषी परिषद की चौथी बैठक को संबोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा कि ईआरसीपी की व्यवहार्यता रिपोर्ट को केंद्रीय जल आयोग से सैद्धांतिक मंजूरी पहले ही मिल चुकी है। राष्ट्रीय परियोजना का दर्जा मिलने से इस प्रोजेक्ट को गति मिलेगी। उन्होंने प्रदेश के 13 जिलों में पेयजल और सिंचाई के लिये पानी उपलब्ध कराने को प्रस्तावित ईस्टर्न राजस्थान कैनाल प्रोजेक्ट (ईआरसीपी) को राष्ट्रीय परियोजना का दर्जा देने की मांग की। मुख्यमंत्री ने कहा कि राजस्थान में पानी की कमी के साथ-साथ इसकी खराब गुणवत्ता भी बड़ी समस्या है। देश की फ्लोराइड प्रभावित आबादियों में से 53 प्रतिशत राजस्थान में हैं। उन्होंने मांग की कि प्रदेश की वित्तीय स्थिति को देखते हुए फ्लोराइड प्रभावित क्षेत्रों में सतही जल आपूर्ति परियोजनाओं के लिये केंद्र सरकार परियोजना लागत का 50 प्रतिशत हिस्सा वहन करे। राजे ने कहा कि एसडीआरएफ नाॅर्म्स के अनुसार कृषि इनपुट सब्सिडी के लिये अभी 2 हेक्टेयर की काश्त की अधिकतम सीमा है। राजस्थान में काश्त का आकार तो बड़ा है लेकिन ज्यादातर भूमि असिंचित अथवा बंजर है। उन्होंने यहां की विपरीत भौगोलिक परिस्थितियों के मद्देनजर कृषि इनपुट सब्सिडी के लिये एसडीआरएफ नाॅर्म्स में बदलाव कर प्रति किसान काश्त की अधिकतम सीमा को बढ़ाकर 5 हेक्टेयर करने का अनुरोध किया। मुख्यमंत्री ने महात्मा गांधी के 150वीं जयंती वर्ष की तैयारियों के संबंध में सुझाव दिया कि उनके नाम पर राजस्थान के मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान की तर्ज पर पर्यावरण संरक्षण के लिये एक देशव्यापी अभियान शुरू किया जाए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

bhool bhoolaiya

‘भूल भूलैया 2’ की पहली झलक में बिलकुल अक्षय की तरह नजर आये ये अभिनेता

मुंबई : बॉलीवुड अभिनेता कार्तिक आर्यन ने फिल्‍म 'सोनू के टीटू की स्वीटी' के बाद बहुत ही कम समय में अपनी एक खास पहचान बना आगे पढ़ें »

jaitly

अरुण जेटली की हालत नाजुक, आडवाणी सहित कई नेता पहुंचे एम्स

नई दिल्ली : पूर्व वित्त मंत्री अरूण जेटली की हालत काफी नाजुक बताई जा रही है। उनकी सेहत की जानकारी लेने के लिए भाजपा के आगे पढ़ें »

ऊपर