मायावती के बाद अखिलेश यादव का भी ऐलान- उपचुनाव में अकेले लड़ेगी सपा

आजमगढ़: बसपा प्रमुख मायावती ने मंगलवार को बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि उनकी पार्टी आगामी उपचुनाव में अकेले लड़ेगी। हालांकि उन्होंने कहा कि महागठबंधन स्थायी रूप से खत्म नहीं हुआ है। इस पर अब सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने भी 11 सीटों पर होने वाले उपचुनाव में अकेले लड़ने की बात की। अखिलेश यादव ने कहा, ‘यदि गठबंधन टूटता है, तो मैं इस पर गहराई से चिंतन करूंगा और यदि उपचुनावों में गठबंधन नहीं होता है, तो समाजवादी पार्टी चुनाव की तैयारी करेगी। सपा भी अकेले सभी 11 सीटों पर लड़ेगी।’

रास्ते अलग-अलग हैं तो उसका भी स्वागत है

अखिलेश ने आजमगढ़ में कहा ”वर्ष 2022 में उत्तर प्रदेश में सपा की सरकार बनेगी। यही हमारी रणनीति है। हम उप्र को विकास की नयी ऊंचाइयों पर ले जाएंगे।’’ ”अगर गठबंधन टूटा है और जो बातें कही गयी हैं। मैं उन पर बहुत सोच समझकर विचार करूंगा। जब उपचुनाव में गठबंधन है ही नहीं, तो सपा भी 11 सीटों पर राय मशविरा करके अकेले चुनाव लड़ेगी। अगर रास्ते अलग-अलग हैं तो उसका भी स्वागत है।” पूर्व मुख्यमंत्री का यह बयान बसपा प्रमुख मायावती द्वारा सपा के साथ गठबंधन को फिलहाल रोकने के निर्णय के मद्देनजर खासे मायने रखता है।

यादव वोट भी नहीं मिला- मायावती

मायावती ने मंगलवार को सपा-बसपा गठबंधन पर स्थिति स्पष्ट करते हुए संवाददाताओं से कहा कि फिलहाल गठबंधन पर ब्रेक लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में सपा का ‘आधार वोट’ यानी यादव समाज अपनी बहुलता वाली सीटों पर भी सपा के साथ पूरी मजबूती से टिका नहीं रह सका। उसने भीतरघात किया और यादव बहुल सीटों पर सपा के मजबूत उम्मीदवारों को भी हरा दिया। उन्होंने कहा कि खासकर कन्नौज में डिम्पल यादव, बदायूं में धर्मेन्द्र यादव और फिरोजाबाद में अक्षय यादव का हार जाना हमें बहुत कुछ सोचने पर मजबूर करता है। सपा में लोगों में काफी सुधार लाने की जरूरत है। बसपा कैडर की तरह किसी भी स्थिति के लिये तैयार होने के साथ-साथ भाजपा की नीतियों से देश और समाज को मुक्ति दिलाने के लिये संघर्ष करने की सख्त जरूरत है, जिसका मौका सपा ने इस चुनाव में गंवा दिया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

महान गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह के निधन के बाद उनके साथ अशोभनीय व्यवहार किया गया : लालू प्रसाद

पटना : राष्ट्रीय जनता दल अध्यक्ष लालू प्रसाद ने शुक्रवार को बिहार की नीतीश कुमार सरकार पर महान गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह के साथ ‘अशोभनीय’ आगे पढ़ें »

हर तबके और हर इलाके का विकास एकमात्र लक्ष्य : नीतीश कुमार

पूर्णिया : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को कहा कि उनकी सरकार का एकमात्र लक्ष्य न्याय के साथ विकास, जिसके तहत हर तबके आगे पढ़ें »

ऊपर