बिहार तथा झारखंड में वज्रपात से 15 की मौत, 11 अन्य झुलसे

प्रशासन की ओर से मृतकों के आश्रितों को चार-चार लाख मिलेंगे
पटना/रांची : बिहार के कैमूर, जहानाबाद और अरवल तथा झारखंड के पलामू जिले में मंगलवार की देर शाम आंधी, तेज बारिश के बीच वज्रपात से कम से कम 15 लोगों की मृत्यु हो गयी तथा 11 अन्य अन्य झुलस गये हैं। पुलिस सूत्रों के अनुसार कैमूर में चार, जहानाबाद में दो, अरवल में दो तथा झारखंड के पलामू जिले में वज्रपात से सात लोगों की मौत हुई है। वज्रपात की इस घटना में 11 अन्य लोग झुलस कर गंभीर रूप से घायल भी हुए हैं जिन्हें विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। कैमूर जिले के भभुआ थाना क्षेत्र के पंचगांवा गांव निवासी मुखिया राम (30), सोनहन थाना क्षेत्र के अमाढ़ी गांव निवासी सत्यानंद (25), चैनपुर थाना क्षेत्र के ग्राम इटाढ़ी निवासी राजवंश राम (40) और चांद थाना क्षेत्र के बहेरियां निवासी पारस बिन्द (50) की वज्रपात से मौत हो गयी। वज्रपात में करीब 6 लोग झुलस कर गंभीर रूप से घायल हैं, जिनका इलाज भभुआ सदर अस्पताल में चल रहा है। इन घायलों में चार केवल चांद थाना क्षेत्र के ग्राम बहेरियां के निवासी हैं। इनमें से एक बच्ची और एक महिला की स्थिति गंभीर बनी हुई है। जहानाबाद जिले के शकुराबाद थाना क्षेत्र के मीरगंज गांव में वज्रपात से बचनदेव यादव (55) की मौत हो गयी। वहीं, शहर के जाफरगंज मुहल्ले में मोहम्मद अजहर हुसैन (45) की मौत हो गयी। अजहर की तीन बकरियों की भी झुलसने से मौत हुई है। मृतकों के परिजनों को आपदा राहत कोष से चार-चार लाख रुपये की राशि उपलब्ध कराने की कार्रवाई की जा रही है। वहीं, जहानाबाद से सटे अरवल जिले के कुर्था थाना क्षेत्र के मेदनीपुर बड़हिया गांव में मंगलवार की देर शाम वज्रपात से वंशी साओ और संपत पासवान की मृत्यु हो गयी। झारखंड में पलामू जिले के हुसैनाबाद थाना क्षेत्र के झरगढ़ा गांव में वज्रपात से लल्लू साव की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी, जबकि सुरेन्द्र यादव उर्फ रट्टू झुलस गया। सुरेन्द्र को इलाज के लिए अनुमंडलीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। नौडीहा बाजार थाना क्षेत्र में वज्रपात से कौलेश्वर यादव की मौत हो गयी। इसी थाना क्षेत्र के शाहपुर पंचायत के सतबरवा निवासी कौलेश्वर यादव (56) और प्रियंका कुमारी (12) की वज्रपात से मौत हो गयी व दो अन्य गंभीर रूप से झुलस गये। जिले के मनातू थाना क्षेत्र के डुमरी गांव में वज्रपात से अशोक सिंह की मौत हो गयी व दो अन्य झुलस गये हैं। इसी तरह चैनपुर थाना क्षेत्र के नरसिंहपुर पत्थर गांव में मवेशी चरा रहे शंभु महतो की वज्रपात से मृत्यु हो गयी। वहीं, पिपरा थाना के सरैया पंचायत के चैतू बिगहा गांव निवासी नंदनी कुमारी (14)की वज्रपात से मौत हो गयी। वह खेत में बकरी चरा रही थी। प्रशासन की ओर से मृतकों के आश्रितों को आपदा के तहत चार-चार लाख रुपये देने की कार्रवाई की जा रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

momota

एनआरसी और कैब को थोपने नहीं देंगे : ममता

खड़गपुर : उपचुनाव में जीत के लिए खड़गपुर की जनता को धन्यवाद देने पहुंची मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दावा किया है कि एनआरसी और कैब आगे पढ़ें »

हावड़ा जूट मिल अनिश्चित समय के लिए बंद

हावड़ा : शिवपुर स्थित हावड़ा जूट मिल को अनिश्चित काल के लिए बंद कर दिया गया है। इस दिन सुबह मार्निंग शिफ्ट में काम करने आगे पढ़ें »

ऊपर