बिहार के कृषि रोडमैप में सहकारिता की भूमिका महत्वपूर्ण : जदयू

पटना : जनता दल (यूनाइटेड) ने सोमवार को कहा कि बिहार में हाशिये के लोगों को ध्यान में रखते हुए आर्थिक गतिविधियां बढ़ाने के उद्देश्य से शुरू किए गए तीसरे कृषि रोडमैप में सहकारिता की भूमिका अत्यंत महत्वपूर्ण है।
जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में राज्य सरकार ने हाशिये के लोगों को ध्यान में रखते हुए आर्थिक गतिविधियों को बढ़ाने के लिए राज्य के तृतीय कृषि रोडमैप (2017-22) में सहकारिता की महत्वपूर्ण भूमिका को निर्धारित किया है। उन्होंने कहा कि लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए सरकारी समितियों को जिम्मेदारी दी गयी है। सामाजिक एवं आर्थिक परिवेश में सहकारिता को आधुनिक एवं तकनीकी रूप से सक्षम बनाने पर राज्य सरकार का विशेष जोर है ताकि प्रतिस्पर्द्धात्मक तरीके से अर्थव्यवस्था में सहकारिता आंदोलन चुनौतियों का सामना कर सकें। प्रसाद ने बताया कि सहकारी समितियों की कुल भंडारण क्षमता 9.943 लाख मिट्रिक टन है एवं वर्ष 2017-22 की अवधि में इसमें 10 लाख मिट्रिक टन क्षमता की और वृद्धि की जाएगी। उन्होंने बताया कि कृषि रोड मैप तहत अब तक 3086 गोदामों का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

पटना का महावीर मंदिर ट्रस्ट अयोध्या के राम मंदिर के श्रद्धालुओं के लिए रसोई चलाएगा

अयोध्या : राम मंदिर के दर्शन के लिए अयोध्या के बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए बिहार का महावीर मंदिर ट्रस्ट सामुदायिक भोज की आगे पढ़ें »

विकास का इंतजार कर रहा है औरंगाबाद का रढुआ धाम

औरंगाबाद : बिहार के औरंगाबाद जिले में ऐतिहासिक, पौराणिक और धार्मिक महत्व के रढुआ धाम को आज भी विकास का इंतजार है। जिले के जम्होर पंचायत आगे पढ़ें »

ऊपर