चुनाव जीतने पर कर्फ्यू वाले बयान से पलटे सुरेश राना

मुजफ्फरनगर : भाजपा विधायक सुरेश राना ने एक नए विवाद को जन्म देते हुए कहा  कि अगर वह विधानसभा चुनाव जीत जाते हैं तो कैराना, देवबंद और मुरादाबाद में कर्फ्यू लगाया जाएगा।
शामली जिले की थाना भवन सीट से पार्टी प्रत्याशी राना ने शनिवार को अपनी विधानसभा क्षेत्र में प्रचार के दौरान उन्होंने ये बाते कही। उनके इस बयान की विपक्षी पार्टियों ने आलोचना की है। विवाद बढ़ने के बाद उन्होंने सफाई देते हुए कहा कि उनका यह बयान राज्य में दहशत फैलाने वाले गुंडों के लिए था। राना पर 2013 में मुजफ्फरनगर दंगों का आरोप है। उन्होंने कहा कि मेरा मतलब था कि बहुत से लोग गुंडों और चोरों के डर से पश्चिमी उत्तर प्रदेश से पयालयन करने की सोच रहें हैं। उस क्षेत्र में एक भी शहर ऐसा नहीं है जहां से लोगों ने डर से क्षेत्र को छोड़ने की योजना नहीं बनाई हो और उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने गे बाद इन गुंडों को राज्य छोड़ कर जाना पडेगा।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

कोलकाता में जन्मे जस्‍टिस पिनाकी घोष बने भारत के पहले लोकपाल

नई दिल्‍लीः सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जस्टिस पिनाकी चंद्र घोष आधिकारिक रूप से भारत के पहले लोकपाल बन गए हैं। जस्टिस पिनाकी घोष ने शनिवार को देश के पहले लोकपाल की शपथ ग्रहण की। राष्‍ट्रपति भवन में राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद [Read more...]

मोदी विरोधी शत्रुघ्न सिन्हा का टिकट कटा, गिरिराज की बदली सीट

पटना : राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) ने बिहार की सभी 40 लोकसभा सीटों में से 39 के लिए उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है। प्रदेश भाजपा कार्यालय में सुबह 11.30 बजे राजग के वरिष्ठ नेताओं ने उम्मीदवारों के नामों की [Read more...]

मुख्य समाचार

सरकार ने जेकेएलएफ पर नकेल कसा, महबूबा उतरीं बचाव में

नई दिल्ली: भारत सरकार ने आतंकियों को संरक्षण प्रदान करने वाले संगठनों को मुहंतोड़ जवाब देना शरू कर दिया है। शुक्रवार को केंद्र सरकार ने कहा कि कई हिंसक घटनाओं और 1988 से जम्मू-कश्मीर में अलगाववादी गतिविधियों को बढ़ावा देने [Read more...]

कोलकाता में जन्मे जस्‍टिस पिनाकी घोष बने भारत के पहले लोकपाल

नई दिल्‍लीः सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जस्टिस पिनाकी चंद्र घोष आधिकारिक रूप से भारत के पहले लोकपाल बन गए हैं। जस्टिस पिनाकी घोष ने शनिवार को देश के पहले लोकपाल की शपथ ग्रहण की। राष्‍ट्रपति भवन में राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद [Read more...]

ऊपर