कुम्भ मेला पर स्मारक डाक टिकट का विमोचन

कुम्भ ज्ञान के प्रकाश का स्रोत :  मनोज सिन्हा

प्रयागराज : संचार राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने शनिवार को यहां मीडिया सेंटर में कुम्भ मेला पर स्मारक डाक टिकट का विमोचन करने के बाद कहा कि देश के लगभग सभी लोकसभा क्षेत्रों में पासपोर्ट केंद्र बन गये हैं। कुछ लोकसभा क्षेत्र बचे हैं, वहां भी इस माह के अंत तक यह काम पूरा कर लिया जायेगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की इच्छा थी कि किसी नागरिक को पासपोर्ट बनवाने के लिए 50 किलोमीटर से अधिक की यात्रा न करनी पड़े। वर्ष 2014 तक इस देश में पासपोर्ट बनाने के 77 केंद्र थे, जो अब 300 से अधिक हो गये हैं।
सिन्हा ने कहा कि डाक विभाग ने इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक शुरू किया है, जो बैंकिंग सेवाओं की होम डिलीवरी है। 1,30,000 शाखाएं परिचालन में आ गयी हैं। एक सितम्बर, 2018 को 650 शाखाओं और 3250 एक्सेस प्वाइंट के साथ डाक विभाग की बैंकिंग सेवाएं शुरू की गयी थीं। आजादी के बाद अब तक जितने बैंक ग्रामीण क्षेत्रों में थे, उससे तीन गुना अधिक इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक हम ग्रामीण क्षेत्रों में शुरू कर रहे हैं। बीमा कारोबार के लिए एक स्ट्रैटेजिक बिजनेस यूनिट हम बना रहे हैं, जिसके लिए हमने कैबिनेट के पास प्रस्ताव भेजा है। उसके 10-15 दिनों में स्वीकृत हो जाने की आशा है। इससे एलआईसी की तरह डाक विभाग का एक पूर्ण जीवन बीमा कारोबार शुरू हो सकेगा।

कुंभ के महत्व की चर्चा करते हुए सिन्हा ने दुनिया के सबसे बड़े आध्यात्मिक तथा सांस्कृतिक कुम्भ को ज्ञान के प्रकाश का स्रोत बताया। उत्तर प्रदेश सरकार ने अपने प्रयास से कुम्भ को अविस्मरणीय आयोजन बनाने का काम किया है। प्रधानमंत्री मोदी के प्रयास से कुम्भ मेले को ‘यूनेस्को’ ने मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक विरासत की संज्ञा दी गयी है, जो पूरे देश के लिए गौरव का विषय है। खगोल विज्ञान, ज्योतिष विज्ञान, आध्यात्मिकता, परम्परिक अनुष्ठान, सामाजिक एवं सांस्कृतिक रीति रिवाज हो यह सब का संगम प्रयागराज में देखने को मिल रहा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

घर में लाना चाहते हैं गुडलक और मां लक्ष्मी का वास तो मुख्य दरवाजे पर रखें ये चीजें

कोलकाता : घर में लाना चाहते हैं गुडलक और मां लक्ष्मी का वास तो वास्तु में बताए गए इन नियमों का पालन करना बहुत जरूरी आगे पढ़ें »

ऊपर