अलवर में किसानों का महापड़ाव जारी

अलवर : अलवर में अपनी मांगों एवं शिकायतों को लेकर किसानों का महापड़ाव बुधवार को तीसरे दिन भी जारी रहा। हालांकि महापड़ाव स्थल पर किसानों और प्रशासन के बीच वार्ता भी हुई लेकिन मांगों पर कोई सहमति नहीं बन पाई। वार्ता में किसान यूनियन के पदाधिकारी इस बात पर अड़े रहे कि जिला कलक्टर वार्ता के लिये आयेंगे तभी वार्ता आगे बढ़ेगी। कलक्टर के वार्ता के लिये नहीं आने पर शाम को किसानों ने उनका पुतला फूंका।
सरिस्का तिराहे पर भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले किसान महापड़ाव पर बैठे हैं। उधर आंदोलन के कारण अलवर जयपुर हाईवे पर स्थित ग्रामीणों ने बाजार खोलने का निर्णय लिया, जहां बाजार खुले रहे लेकिन पर्यटकों के लिये वाहनों का संचालन नहीं हो पाया। किसान नेताओं का कहना है कि सरिस्का का वन विभाग तानाशाही करते हुए सरिस्का एवं आसपास बसे गांव में रहने वाले ग्रामीणों को बेवजह परेशान कर रहा है। सरिस्का प्रशासन की ओर से ग्रामीणों पर झूठे मुकदमे लगाये जाते हैं, ग्रामीणों को रिहायशी पट्टे नहीं देने, 24 घंटे वाहनों की आवाजाही नहीं होने देना, टहला गांव के लिये चलने वाली बसों को बंद कर देना, थानागाजी में कुशलगढ़ में लगे नाकों पर से बैरियर हटाने सहित विभिन्न मूल सुविधाओं की मांग के लिये क्षेत्रवासियों को वर्षों से आंदोलन करना पड़ रहा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अमेरिका का बजट घाटा एक हजार अरब डॉलर के पार !

बजट कार्यालय ने व्यक्त किया अनुमान वाशिंगटनः अगले वित्त वर्ष में अमेरिका का बजट घाटा एक हजार अरब डॉलर के पार जाने की आशंका है। यह आगे पढ़ें »

new zealand speaker

न्यूजीलैंड : संसद में रो रहे बच्चे को स्पीकर ने पियाला दूध, लोगों ने की सराहना

वेलिंगटन : न्यूजीलैंड के संसद भवन में स्पीकर ट्रेवर मलार्ड ने एक सांसद के बेटे को दूध पिलाया। मालूम हो कि संसद भवन में आमतौर आगे पढ़ें »

ऊपर