फेडरर को चौंकाकर दिमित्रोव सेमीफाइनल में, सेरेना की 100वीं जीत

न्यूयार्कः बुल्गारिया के ग्रिगोर दिमित्रोव ने सनसनीखेज प्रदर्शन करते हुए पांच बार के चैंपियन स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर को पांच सेटों के संघर्ष में मंगलवार को 3-6, 6-4, 3-6, 6-4, 6-2 से हराकर वर्ष के चौथे और अंतिम ग्रैंड स्लेम यूएस ओपन टेनिस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहली बार प्रवेश कर लिया जबकि पूर्व नंबर एक अमेरिका की सेरेना विलियम्स ने यूएस ओपन में अपनी 100वीं जीत दर्ज करते हुए सेमीफाइनल में स्थान बनाया। दिमित्रोव ने तीन घंटे 12 मिनट तक चले क्वार्टरफाइनल मुकाबले में 20 बार के ग्रैंड स्लैम विजेता फेडरर को पराजित कर पहली बार इस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में जगह बनायी। दिमित्रोव का सेमीफाइनल में पांचवीं सीड रूस के डेनिल मेदवेदेव से मुकाबला होगा जिन्होंने एक अन्य क्वार्टरफाइनल में स्विट्जरलैंड के स्टेनिस्लास वावरिंका को दो घंटे 34 मिनट में 7-6 (8-6), 6-3, 3-6, 6-1 से हराया। 23 वर्षीय मेदवेदेव वर्ष 2010 के बाद यूएस ओपन के सेमीफाइनल में जगह बनाने वाले सबसे युवा खिलाड़ी बन गए हैं।

जोकोविच भी बाहर हो चुके हैं

फेडरर के बाहर होने से पुरुष वर्ग में तीन टॉप सीड खिलाड़ियों में से दो खिलाड़ी क्वार्टरफाइनल तक टूर्नामेंट से बाहर हो चुके हैं। गत चैंपियन, टॉप सीड और विश्व के नंबर एक खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच कंधे की चोट के कारण राउंड 16 का मैच अधूरा छोड़कर हट गए थे।

सीधे सेटों में जीतीं सेरेना

इस बीच महिला वर्ग में छह बार की चैंपियन अमेरिका की सेरेना विलियम्स ने तूफानी प्रदर्शन करते हुए चीन की युवा खिलाड़ी कियांग वांग को लगातार सेटों में मात्र 44 मिनट में 6-1, 6-0 से शिकस्त देकर सेमीफाइनल में स्थान बना लिया। 23 बार की ग्रैंड स्लैम विजेता सेरेना की यूएस ओपन में यह 100वीं जीत थी। 37 वर्षीय सेरेना अब आस्ट्रेलिया की मार्गरेट कोर्ट के 24 ग्रैंड स्लैम खिताबों के रिकार्डों की बराबरी करने से दो कदम दूर रह गयी हैं। विम्बलडन उपविजेता सेरेना ने मैच में कुल 25 विनर्स दागे जबकि वांग एक भी विनर नहीं लगा पाई। वह केवल छठा गेम जीत पाई। वांग ने इससे पहले बड़ा उलटफेर करते हुए मौजूदा फ्रेंच ओपन चैम्पियन और वर्ल्ड नंबर-2 ऑस्ट्रेलिया की एश्ले बार्टी को मात दी थी।

सेरेना के सामने होंगी स्‍वितोलिना की चुनौती

सेरेना सेमीफाइनल में पांचवीं सीड यूक्रेन की एलिना स्वितोलिना से भिड़ेंगी जिन्होंने एक अन्य क्वार्टरफाइनल में ब्रिटेन की जोहाना कोंटा को एक घंटे 40 मिनट में 6-4, 6-4 से हराया। महिला वर्ग में शीर्ष चार खिलाड़ियों के बाहर हो जाने के बाद स्वितोलिना शीर्ष वरीय खिलाड़ी रह गयी हैं।

पहले बार फेडरर से जीते दिमित्रोव

आर्थर एश स्टेडियम में पुरुष वर्ग के क्वार्टरफाइनल में 78वीं रैंकिंग के बुल्गारिया के खिलाड़ी ने दमदार प्रदर्शन किया और फेडरर को अपने करियर की पहली बार हराया। इससे पहले दोनों के बीच सात मुकाबलों में हर बार फेडरर विजयी रहे थे। इन मैचों में दिमित्रोव केवल दो सेट ही जीत पाए थे लेकिन यहां उन्होंने स्विस मास्टर को बाहर का रास्ता ही दिखा दिया।

मैंने बेहद खराब प्रदर्शन किया

28 वर्षीय दिमित्रोव ने इस जीत को अपने लिए बेहद खास जीत बताया। फेडरर ने मैच में 61 बेजां भूलें कीं जो अंत में उन्हें भारी पड़ गयीं। दिमित्रोव के रैकेट से 41 बेजां भूलें निकलीं। फेडरर उन्हें मिले 14 ब्रेक अंकों में से चार को ही भुना पाए। मैच के बाद फेडरर ने माना कि टूर्नामेंट में शानदार शुरुआत के बाद वह इस मैच में बिलकुल भी अच्छा नहीं खेले।

शेयर करें

मुख्य समाचार

delhi

दिल्ली के इस मेट्रो स्टेशन पर लगा देश के गद्दारों को गोली मारने का नारा, 6 हिरासत में

नयी दिल्ली : दिल्ली मेट्रो की ब्लू लाइन पर एक ट्रेन में और राजीव चौक स्टेशन पर शनिवार को कुछ युवाओं ने संशोधित नागरिकता कानून आगे पढ़ें »

ट्रेडमिल पर किए जाने वाले इन खास एक्सरसाइजेज के बारे में नहीं जानती होंगी आप, पढ़ें

नई दिल्ली : आम तौर पर लोग सोचते हैं, ट्रेडमिल का इश्तेमाल सिर्फ दौड़ने के लिए किया जाता है। इससे वजन कम होता है और आगे पढ़ें »

modi

पीएम मोदी ने प्रयागराज में दिव्यांग उपकरण बांटे, चित्रकुट में बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे की रखी नींव

pakistan

पाकिस्तान में ट्रेन और बस की टक्कर में 20 लोगों की मौत, 60 से ज्यादा घायल

सुप्रीम कोर्ट के फटकार के बाद एयरटेल ने चुकाए 8,004 करोड़ रुपये एजीआर

chidambaram

कन्हैया के समर्थन में आए चिदंबरम, दिल्ली सरकार पर निशाना साधते हुए कही यह बात

meghalaya

मेघालय में सीएए को लेकर झड़प में एक की मौत, शिलांग में कर्फ्यू, छह जिलों में इंटरनेट बंद

police

दिल्ली हिंसा : यूपी पुलिस की तर्ज पर अब दिल्ली पुलिस भी दंगाइयों से वसुलेगी जुर्माना

मधुमेह के लक्षण, इलाज और घरेलू उपचार

चेहरे के कई हिस्सों में होते हैं वाइटहेड्स, जानिए क्या है कारण

ऊपर