दूसरे दिन का आखिरी सत्र बारिश से धुला, भारत के दो विकेट गिरे

ब्रिसबेन : भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चौथे और आखिरी क्रिकेट टेस्ट के दूसरे दिन शनिवार को दो विकेट 62 रन बनाये। बारिश के कारण चाय के बाद का खेल नहीं हो पाया। भारत अभी ऑस्ट्रेलिया के स्कोर 369 से 307 रन पीछे है। रविवार को तीसरे दिन खेल आधा घंटा जल्दी शुरू होगा। यानी मैच भारतीय समयानुसार सुबह 5 बजे से खेला जाएगा। रोहित शर्मा ने शानदार शुरुआत करते हुए 74 गेंद में 44 रन बनाए लेकिन एकाग्रता टूटने का उन्हें खामियाजा भुगतना पड़ा। अपना सौवां टेस्ट खेल रहे नाथन लायन ने उन्हें मिशेल स्टार्क के हाथों लपकवाया। इससे पहले शुभमन गिल (7) ने पैट कमिंस की गेंद पर स्टीव स्मिथ को कैच थमाया। चाय ब्रेक के समय चेतेश्वर पुजारा आठ और अजिंक्य रहाणे दो रन बनाकर खेल रहे थे। इससे पहले भारत के युवा और अनुभवहीन गेंदबाजों ने बेहद अनुशासित प्रदर्शन करते हुए ऑस्ट्रेलिया के आखिरी पांच विकेट पहले ही सत्र में लेकर उसे पहली पारी में 369 रन पर समेट दिया। शार्दुल ठाकुर ने 94 रन देकर तीन विकेट लिए जबकि पहला टेस्ट खेल रहे वॉशिंगटन सुंदर ने 89 और टी नटराजन ने 78 रन देकर तीन-तीन विकेट चटकाए। लंच से पहले ऑस्ट्रेलिया ने 95 रन के भीतर पांच विकेट गंवा दिए।

खिलाड़ी के बाद प्रशंसक पर नस्लीय टिप्पणी
सिडनी में भारत और आस्ट्रेलिया के बीच खेले गए तीसरे टेस्ट के दौरान भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद सिराज पर हुई नस्ली टिप्पणी की जांच जारी है और इस बीच एक ऐसी खबर आई है कि उस टेस्ट के दौरान स्टेडियम में मौजूद सुरक्षा अधिकारी ने भी एक भारतीय दर्शक पर नस्लीय टिप्पणी की थी। जिस भारतीय दर्शक पर यह नस्ली टिप्पणी हुई है, उन्होंने खुद इसके बारे में बताया है। दर्शक ने शिकायत दर्ज कराते हुए कहा है कि स्टेडियम में मौजूद अधिकारी ने उनसे कहा था कि जहां से आए हो, वहीं चले जाओ। सिडनी में रहने वाले कृष्ण कुमार ने इसके खिलाफ आधिकारिक रूप से शिकायत दर्ज करवाई है। उन्होंने कहा कि सोमवार को मैदान पर चार बैनर ले जाने के बाद उन्हें निशाना बनाया गया। इस बैनर में नस्ली विरोधी संदेश जैसे कि प्रतिद्वंद्विता अच्छी है, नस्लवाद नहीं, नस्लवाद साथी नहीं, शामिल थे।

शॉट खेलने का कोई पछतावा नहीं : रोहित
रोहित शर्मा गलत समय पर आउट होने के कारण हो रही अपनी आलोचना को अच्छी तरह समझते है लेकिन भारतीय उप कप्तान को नाथन लियोन की गेंद पर उस शॉट को खेलने का कोई पछतावा नहीं है और उन्होंने कहा कि यह गेंदबाजों को दबाव में लाने का उनका तरीका है। आपके पास हमेशा एक योजना होती है और वास्तव में मुझे उस शॉट को खेलने का कोई पछतावा नहीं है। मैं हमेशा गेंदबाजों पर दबाव बनाना चाहता हूं। नाथन लियोन चतुर गेंदबाज है और उसने मुझे ऐसी गेंदबाजी की, जिसमें मेरे लिये गेंद को कुछ ऊपर उठाना मुश्किल हो गया। कमेंटरी बॉक्स में उनके शॉट चयन की आलोचना की गयी। रोहित अच्छी शुरुआत कर बड़ा स्कोर बना सकते थे जिससे भारत का स्कोर स्टंप तक दो विकेट पर 62 रन हो गया। रोहित 74 गेंद में 44 रन की पारी के दौरान अच्छी लय में दिख रहे थे लेकिन लियोन की गेंद को मिडविकेट पर उठाने की कोशिश में आउट हो गये और यह उसी तरह का शॉट है, जो टेस्ट मैचों में शुरू में भी उनके आउट होने का कारण बनता था।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

जुड़वा बच्‍चे पैदा करने के लिए इन तरीकों से बढ़ाएं अपनी फर्टिलिटी

बच्‍चे का आना, खुशियों को दस्‍तक देता है और जब जुड़वा बच्‍चे पैदा हों, खुशियां भी दोगुनी हो जाती हैं। अगर आप भी अपने लिए आगे पढ़ें »

ईशांत के 100वें टेस्ट मैच में राष्ट्रपति और गृहमंत्री ने सम्मानित किया

अहमदाबाद : भारत के अनुभवी तेज गेंदबाज इशांत शर्मा को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और गृहमंत्री अमित शाह ने यहां बुधवार को उनके 100वें टेस्ट की आगे पढ़ें »

ऊपर