टीम संयोजन को लेकर जद्दोजहद जारी,  विहारी की जगह ले सकते हैं जडेजा

एडीलेड : एडिलेड में सीरीज के पहले मैच में भारत को मिली करारी हार के बाद पृथ्वी शॉ और रिद्धिमान साहा की जगह शुभनम गिल और रिषभ पंत को मौका देने की मांग ने जोर पकड़ लिया है। दूसरी ओर भारतीय कप्तान विराट कोहली के जाने के बाद टीम का संतुलन बिगड़ता नजर आ रहा है। उनकी जगह आजिंक्य रहाणे टीम की कमान संभालेंगे। लेकिन दूसरे टेस्ट में रहाणे और कोच रवि शास्त्री को टीम संयोजन को लेकर काफी मथापच्ची करनी पड़ रही है। सीरीज में वापसी के लिए भारत को हर हाल में टीम संयोजन की गुत्थी को सुलझाना ही होगा। ऐसे में भारतीय टीम प्रबंधन इस सप्ताहांत से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाले बॉक्सिंग डे टेस्ट से पूर्व रविंद्र जडेजा की चोट पर करीबी नजर रखे हुए है और अगर यह आलराउंडर फिट होता है तो अंतिम एकादश में हनुमा विहारी की जगह ले सकता है। पहले टी-20 अंतरराष्ट्रीय के दौरान जडेजा के सिर में चोट लगी थी और इसके बाद उनके पैर की मांसपेशियों में भी खिंचाव आ गया था, जिसके कारण वह पहले टेस्ट से बाहर हो गए थे। भारत को पहले टेस्ट में हार का सामना करना पड़ा और इस दौरान जडेजा ने नेट पर वापसी की। पता चला है कि यह आलराउंडर अच्छी तरह उबर रहा है लेकिन अभी यह निश्चित रूप से नहीं कहा जा सकता कि वह 26 दिसंबर से मेलबर्न में शुरू होने वाले पहले टेस्ट के लिए शत प्रतिशत फिट हो जाएगा। लेकिन जडेजा फिट होते हैं जो आंध्र प्रदेश के बल्लेबाज विहारी को अंतिम एकादश से बाहर होना पड़ सकता है। विहारी के बाहर होने का कारण हालांकि एडीलेड में पहले टेस्ट में उनका खराब प्रदर्शन नहीं बल्कि अजिंक्य रहाणे और रवि शास्त्री द्वारा सर्वश्रेष्ठ संयोजन उतारा जाना है।

विहारी से अच्छा है जडेजा का रिकार्ड

बीसीसीआई के एक वरिष्ठ सूत्र ने बताया कि अगर जडेजा लंबे स्पैल फेंकने के लिए फिट हो जाता है तो फिर बहस का कोई बात ही नहीं है। जडेजा अपने आलराउंड कौशल के आधार पर विहारी की जगह लेगा। साथ ही इससे हमें एमसीजी में पांच गेंदबाजों के साथ उतरने का विकल्प मिलेगा। जडेजा ने 49 टेस्ट में 35 से अधिक की औसत से 1869 रन बनाए हैं, जिसमें एक शतक और 14 अर्धशतक शामिल हैं। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के पिछले दौरों पर अर्धशतक जड़े थे। दूसरी तरफ विहारी ने 10 टेस्ट में 576 रन बनाए हैं, जिसमें वेस्टइंडीज के खिलाफ शतक के अलावा चार अर्धशतक शामिल हैं। उन्होंने 33 से अधिक के औसत से रन बनाए हैं। लोगों का यह भी मानना है कि अगर बल्लेबाजी कौशल पर ध्यान दें तो भी ‘विशेषज्ञ विहारी’ और ‘आलराउंडर जडेजा’ में अधिक अंतर नहीं है।

जल्द मैदान पर लौटेंगे रोहित 

सीनियर बल्लेबाज रोहित शर्मा सिडनी टेस्ट से पूर्व तीन जनवरी से ट्रेनिंग शुरू कर सकते हैं। वह अभी सिडनी में दो कमरे के अपार्टमेंट में पृथकवास से गुजर रहे हैं। कोविड-19 मामलों में इजाफे के बाद न्यू साउथ वेल्स राज्य सरकार की पाबंदियों को देखते हुए क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया डेविड वार्नर और सीन एबट को पहले ही सिडनी से मेलबर्न ला चुका है। बीसीसीआई हालांकि पृथकवास के बीच में रोहित को मेलबर्न नहीं ला सकता। क्रिकेट आस्ट्रेलिया को हालांकि अब भी तीसरे टेस्ट की मेजबानी सात जनवरी से सिडनी में करने की उम्मीद है और अगर ऐसा होता है जो रोहित को मेलबर्न लाने की जरूरत नहीं होगी क्योंकि वैसे भी यह सीनियर बल्लेबाज दूसरे टेस्ट में नहीं खेल पाएगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

आज राज्य के 204 केंद्रों पर लगेगी कोविड की वैक्सीन

मेडिकल कॉलेज व अस्पतालों की तैयारी पूरी सीएम कर सकती हैं उद्घाटन कोलकाताः राज्य में कोरोना वायरस महामारी के बीच कोविशिल्ड वैक्सीन फ्रंट लाइनर के लिए मरहम आगे पढ़ें »

रोजवैली मामले में सीबीआई ने शुभ्रा कुंडू को किया ​गिरफ्तार

आज भुवनेवर कोर्ट में किया जाएगा पेश कोलकाता : 17000 करोड़ के बंगाल के सबसे बड़े घोटाले रोजवैली कांड में सीबीआई की टीम ने गौतम कुंडू आगे पढ़ें »

ऊपर