सिडनी में रोहित, पंत और गिल का खेलना तय

नयी दिल्ली : ऑस्ट्रेलिया दौरे पर कथित बायो-बबल उल्लंघन के मामले में अब भारतीय प्रशंसक और टीम इंडिया के लिए बड़ी खबर सामने आई है। ऑस्ट्रेलियाई मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक टीम इंडिया के उपकप्तान रोहित शर्मा, सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल और विकेटकीपर ऋषभ पंत का सिडनी टेस्ट में खेलना तय है। सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड की रिपोर्ट के मुताबिक रोहित शर्मा, ऋषभ पंत समेत पांच खिलाड़ी अगर बायो बबल उल्लंघन के दोषी भी पाए जाते हैं तो भी क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया उनका कुछ नहीं कर सकता। रिपोर्ट के मुताबिक बीसीसीआई अपने खिलाड़ियों के साथ मजबूती से खड़ा है, जिससे उनका खेलना तय लग रहा है। बीसीसीआई के एक अधिकारी ने साफ कर दिया था कि रोहित शर्मा, शुभमन गिल और ऋषभ पंत के सिडनी में नहीं खेलने का कोई मतलब ही नहीं है। अगर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने ऐसा करने की कोशिश की तो इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं। तीसरा टेस्ट सिडनी में 7 जनवरी से खेला जाएगा।

पूरी भारतीय टीम एक साथ सिडनी जाएगी

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर एहतियात के तौर पर पृथकवास में रह रहे पांच भारतीय खिलाड़ियों के साथ पूरी टीम सीरीज के तीसरे टेस्ट के लिए एक साथ चार्टर्ड विमान से सोमवार को मेलबर्न से सिडनी रवाना होगी। भारतीय उपकप्तान रोहित शर्मा, ऋषभ पंत, शुभमन गिल, पृथ्वी साव और नवदीप सैनी के खिलाफ कोरोना वायरस से बचाव के लिए लागू जैव सुरक्षा प्रोटोकॉल के उल्लंघन को कथित तौर पर तोड़ने की जांच जारी है लेकिन उन्हें टीम के साथ यात्रा करने से नहीं रोका जाएगा। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने रविवार को जारी मीडिया विज्ञप्ति में इसकी जानकारी दी। बीसीसीआई के एक अधिकारी ने गोपनीयता की शर्त पर कहा कि अगर आप क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) के बयान को ध्यान से पढ़ेंगे तो उन्होंने कभी नहीं कहा कि यह एक उल्लंघन है। उन्होंने कहा कि वे यह निर्धारित करना चाहते हैं कि क्या यह उल्लंघन है। इसलिए टीम के साथ सिडनी जाने वाले इन पांच खिलाड़ियों पर कोई प्रतिबंध नहीं है। पूरी टीम सोमवार दोपहर उड़ान भरेगी।

ऑस्ट्रेलिया के रवैये से भारतीय टीम नाखुश 
बताया जा रहा है कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के इस मसले से निपटने के तरीके से भारतीय टीम खुश नहीं है। सूत्र ने बताया उस प्रशंसक ने अगर सोशल मीडिया पर खिलाड़ी (पंत) को गले लगाने को लेकर झूठ नहीं बोला होता तो यह मामला बड़ा नहीं होता। खिलाड़ी अंदर इसलिए गये क्योंकि वहां बूंदाबांदी हो रही थी। उसने बिना अनुमति के वीडियो बनाया और फिर बिना किसी के कहे ही पब्लिसिटी के लिए बिल का भुगतान कर उसे सोशल मीडिया पर डाल दिया। उन्होंने सवाल किया कि क्या आप यह कहना चाहते है कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ऐसे व्यक्ति के वीडियो के आधार पर निर्णय लेगा, जिसने पहले झूठ बोला और फिर अपने बयान से मुकर गया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अपराधियों ने बस में लगाई आग, यात्री बस जलकर खाक

लातेहार : लातेहार जिले में मंगलवार रात अपराधियों ने महुआडांड़ प्रखंड मुख्यालय में एक बस में आग लगा दी। इस घटना में यात्री बस जलकर आगे पढ़ें »

इंटर साइंस का मॉडल प्रश्न पत्र जारी, अब अप्रैल में होंगी 2021 की परीक्षाएं

रांची : झारखंड एकेडमिक काउंसिल की ओर से इंटरमीडिएट परीक्षाओं के मद्देनजर विज्ञान संकाय का मॉडल प्रश्न पत्र जारी कर दिया गया है। प्रश्नपत्र संशोधित आगे पढ़ें »

ऊपर