बुमराह-शमी नहीं, सचिन ने इस प्लेयर को बताया भारत का सर्वश्रेष्ठ डेथ ओवर गेंदबाज

नई दिल्लीः मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह भारत के बेस्ट तेज गेंदबाज माने जाते हैं, लेकिन भारत के दिग्गज क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने हर्षल पटेल के डेथ आवरों में शानदार प्रदर्शन की तारीफ की है। सचिन तेंदुलकर ने कहा है कि हर्षल पटेल ने अपनी विविधताओं को खूबसूरती से तराशा है, यही वजह है कि 31 वर्षीय रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के तेज गेंदबाज हर्षल पटेल आईपीएल के पिछले कुछ सत्रों में इतना अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं।

आईपीएल में जमकर कहर मचा रहा ये गेंदबाज 

हर्षल पटेल ने आईपीएल 2021 में 15 मैचों में 32 विकेट लेकर पर्पल कैप का खिताब हासिल किया था, जिसमें विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम के लिए उनका सर्वश्रेष्ठ आंकड़ा 5/27 रहा। नए सीजन से पहले, उन्हें मेगा नीलामी में बेंगलुरु फ्रैंचाइजी ने 10.75 करोड़ रुपये में वापस खरीदा और दाएं हाथ के मध्यम तेज गेंदबाज ने 12 मैचों में 18 विकेट लेकर अपनी टीम को निराश नहीं किया है।

आईपीएल में विकेटों के शतक पर नजरें

कुल मिलाकर अपने आईपीएल करियर में हर्षल पटेल ने 96 विकेट लिए हैं और वह आईपीएल में विकेटों के शतक पर नजरें गड़ाए हुए हैं। आरसीबी के फिलहाल 13 मैचों में 14 अंक हैं और अगर वह गुजरात टाइटंस के खिलाफ अपना आखिरी लीग मैच भारी अंतर से जीत लेती है, तो उसके पास अंतिम चार में जगह बनाने का मौका है और टीम इस वक्त पटेल पर भरोसा करेगी। सचिन तेंदुलकर का मानना है कि हर्षल पटेल भारतीय क्रिकेट के लिए एक अनमोल रत्न साबित हो सकते हैं। यूट्यूब पर बात करते हुए सचिन तेंदुलकर ने हर्षल पटेल को डेथ ओवरों में सबसे शक्तिशाली गेंदबाजों में से एक बताया।

हर मैच के साथ हुआ सुधार 

सचिन तेंदुलकर ने कहा, ‘हर्षल पटेल की गेंदबाजी में हर मैच के साथ सुधार हुआ है, क्योंकि वह अपनी विविधता को खूबसूरती से छिपाने में सक्षम हैं। मुझे लगता है कि जब डेथ ओवरों में गेंदबाजी की बात आती है तो वो देश के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों में से एक हैं।’

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

आटा के बाद अब चावल भी महंगा…

नई दिल्ली : गेंहू के दामों में उछाल के बाद अब चावल  के दामों में तेजी देखी जा रही है, घरेलू और अंतरराष्ट्रीय बाजार में आगे पढ़ें »

ऊपर