भारोत्तोलन विश्व चैम्पियनशिप में भारत की सात सदस्यीय टीम की अगुवाई करेंगी मीराबाई

नई दिल्लीः पूर्व चैम्पियन मीराबाई चानू थाईलैंड में 18 से 27 सितंबर तक होने वाली भारोत्तोलन विश्व चैम्पियनशिप में भारत की सात सदस्यीय टीम की अगुवाई करेंगी। विश्व चैम्पियनशिप टोक्यो ओलंपिक 2020 के लिये क्वालीफाइंग टूर्नामेंट है। थाईलैंड में अभ्यास कर रही टीम में चार महिलायें और तीन पुरुष हैं।

राष्ट्रीय कोच विजय शर्मा ने कहा ‘यह हमारा कोर ओलंपिक ग्रुप है। उन्हें टोक्यो के लिये छह क्वालीफाइंग टूर्नामेंट खेलने हैं जिनमें विश्व चैम्पियनशिप शामिल है। हमने कोर ग्रुप में कुछ युवाओं को शामिल किया है ताकि उन्हें अनुभव मिल सके। इससे हम भविष्य के लिये अच्छे भारोत्तोलक तैयार कर सकेंगे।’

चार सर्वश्रेष्ठ नतीजो के आधार पर चुना जाएगा

अमेरिका में 2017 में विश्व चैम्पियनशिप में 48 किलोवर्ग में स्वर्ण जीतने वाली मीराबाई भारत की पदक उम्मीद है। वह पिछले साल चोट के कारण बाहर रही थी। उसके बाद इस साल फरवरी में शानदार वापसी करते हुए ईजीएटी कप में स्वर्ण पदक जीता। वह एशियाई चैम्पियनशिप में मामूली अंतर से पदक से चूक गई।

टोक्यो ओलंपिक 2020 के लिये क्वालीफिकेशन प्रक्रिया के तहत भारोत्तोलकों का प्रदर्शन 18 महीने के भीतर छह टूर्नामेंटों में देखा जायेगा जिनमें से चार सर्वश्रेष्ठ नतीजे मानदंड होंगे।

टीम : पुरुष : जेरेमी लालरिनुंगा (67 किलो), अचिंता एस (73 किलो) और अजय सिंह (81 किलो)।

महिला : मीराबाई चानू (49 किलो), जिल्ली डालाबेहेरा (45 किलो), स्नेहा सोरेन (55 किलो) और राखी हलधर (64 किलो)।

शेयर करें

मुख्य समाचार

Dhanush Howitzer

स्वदेशी होवित्जर तोप ‘धनुष’ सेना में शामिल, 50 किमी तक के लक्ष्य को भेदने में सक्षम

नई दिल्ली : भारतीय सेना ने अपनी शक्ति को और बढ़ाने के लिए स्वदेशी होवित्जर तोप 'धनुष' को सेना में शामिल किया है। इसके लिए आगे पढ़ें »

भारतीय बैंकों का क्रेडिट ग्रोथ घटकर दो साल के निचले स्तर पर आया : आरबीआई

नई दिल्ली : आरबीआई के आंकड़ों के मुताबिक भारतीय बैंकों का क्रेडिट ग्रोथ घटकर लगभग दो साल के निचले स्तर पर आ गया है, क्योंकि आगे पढ़ें »

hongkong

हांगकांग ‘लोकतंत्र अधिनियम’ पारित, चीन ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

रतन टाटा खुद को मानते हैं ‘एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक’, कई बड़ी कंपनियों में है हिस्सेदारी

court

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने 40 दिन की सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रखा

ayodhya

अयोध्या मामला : मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कहा, शीर्ष न्यायालय के फैसले को स्वीकार किया जाना चाहिए

अमेरिकी प्रतिबंधों के पालन के लिए भारत अपना नुकसान नहीं करेगा: वित्त मंत्री

russia

तुर्की और सीरिया की लड़ाई में रूस बना दीवार, तैनात की अपनी आर्मी

sitaraman

अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद ‘मानवाधिकार’ विश्व स्तर पर ज्वलंत शब्द बन गया : सीतारमण

chetak

बजाज ने पेश किया इलेक्ट्रिक चेतक स्कूटर, सामने आया पहला लुक

ऊपर