कोनेरू हम्पी ने जीता इंडियन स्पोर्ट्सवुमन अवॉर्ड

नयी दिल्ली : रैपिड प्रारूप की मौजूदा विश्व शतरंज चैम्पियन कोनेरू हम्पी को बीबीसी साल की सर्वश्रेष्ठ भारतीय महिला खिलाड़ी पुरस्कार (इंडियन स्पोर्ट्सवुमन ऑफ द ईयर अवॉर्ड) 2020 का विजेता चुना गया। पिछले साल शुरू किये इस पुरस्कार की वह दूसरी विजेता है। महज 15 साल की उम्र में ग्रैंडमास्टर बनने वाली हम्पी को प्रशंसकों से सबसे ज्यादा मत के आधार पर चुना गया। जाने-माने खेल पत्रकारों और विशेषज्ञों की जूरी ने इस पुरस्कार के लिए पाँच भारतीय महिला खिलाड़ियों को नामांकित किया था। इसमें हम्पी के अलावा फर्राटा धाविका दुती चंद निशानेबाज मनु भाकर, पहलवान विनेश फोगाट और भारतीय महिला हॉकी टीम की मौजूदा कप्तान रानी रामपाल शामिल थी। इसके बाद प्रशंसकों के ऑनलाइन मतदान से विजेता का फैसला हुआ। बीबीसी से जारी विज्ञप्ति में हम्पी ने कहा कि यह पुरस्कार ना सिर्फ मेरे लिए बल्कि शतरंज बिरादरी के लिए बेशकीमती है। शतरंज एक इनडोर खेल है, इसलिए भारत में क्रिकेट की तरह इस पर अधिक ध्यान नहीं दिया जाता। मुझे हालांकि उम्मीद है कि इस पुरस्कार के बाद शतरंज की ओर लोगों का ध्यान जाएगा।

अंजु बॉबी को लाइफाइम अचीवमेंट अवार्ड
ऑनलाइन तरीके से आयोजित किये गये इस पुरस्कार समारोह में दिग्गज एथलीट अंजु बॉबी जॉर्ज को ‘लाइफटाइम अचीवमेंट’ पुरस्कार दिया गया। उन्होंने 2003 में विश्व चैम्पियनशिप में ऊंची कूद में कांस्य पदक जीत कर इतिहास रचा था। वह इस उपलब्धि को हासिल करने वाली पहली भारतीय एथलीट बनीं थी। इंग्लैंड के हरफनमौला बेन स्टोक्स ने युवा निशानेबाज भाकर को वर्ष की उभरती हुए खिलाड़ी के रूप में चुने जाने की घोषणा की। पिछले साल इस पुरस्कार के पहले आयोजन में बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु को विजेता चुना गया था।

मनु बनीं बीबीसी एमर्जिंग प्लेयर ऑफ द ईयर
टोक्यो ओलम्पिक में भारत की पदक उम्मीद युवा निशानेबाज मनु भाकर को बीबीसी वर्चुअल अवार्ड समारोह में‘एमर्जिंग प्लेयर ऑफ द ईयर अवार्ड से सम्मानित किया गया। एमर्जिंग प्लेयर अवॉर्ड की घोषणा इंग्लैंड के दिग्गज क्रिकेट खिलाड़ी बेन स्टोक्स ने की। ‘एमर्जिंग प्लेयर ऑफ द ईयर’श्रेणी को पहली बार अवॉर्ड सेरेमनी में शामिल किया गया और मनु को यह अवार्ड लीजेंड भारतीय एथलीट अंजू बॉबी जॉर्ज ने प्रदान किया। इस अवार्ड समारोह का अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के दिन प्रसारण किया गया। वर्चुअल सेरेमनी के दौरान मनु ने कहा कि मेरे लिए यह अवॉर्ड काफी मायने रखता है। मुझे लगता है कि इसके ज़रिए मेरी कड़ी मेहनत को मान्यता मिली है। लोगों को अब इसके बारे में पता चल गया है। बता दें कि मनु भाकर आईएसएसएफ में गोल्ड मेडल जीतने वालीं सबसे कम उम्र की भारतीय निशानेबाज हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

तृणमूल ने फिर 3 चरणों के चुनाव को 1 चरण में कराने की मांग की

सीईओ आरिज आफताब को सौंपा ज्ञापन सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः तृणमूल कांग्रेस ने एक बार फिर से कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर राज्य के तीन चरणों के मतदान आगे पढ़ें »

90 ड्राइवरों व गार्ड के संक्रमित होने के बाद लोकल ट्रेनों का संचालन प्रभावित

कोलकाता : पूर्व रेलवे ने मंगलवार को कहा कि 90 ड्राइवरों और गार्ड के कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद उसने अभी तक सियालदह आगे पढ़ें »

ऊपर