रोहित और धोनी की टक्कर से होगा आईपीएल का आगाज

अबु धाबी: तूफानी बल्लेबाज रोहित शर्मा की कप्तानी वाली मुंबई इंडियंस और सर्वश्रेष्ठ फिनिशर महेंद सिंह धोनी के नेतृत्व वाली चेन्नई सुपरकिंग्स के बीच शनिवार को उद्घाटन मुकाबले में विस्फोटक भिड़त के साथ विदेशी जमीन पर आईपीएल-13 की जंग शुरू हो जायेगी। कोरोना महामारी के कारण आईपीएल का आयोजन इस बार संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के तीन शहरों दुबई, शारजाह और अबु धाबी में हो रहा है।

धोनी रहेंगे स्पटलाईट में

आईपीएल के इतिहास में यह तीसरा मौका है जब इस टी-20 टूर्नामेंट का आयोजन विदेशी जमीन पर हो रहा है। टूर्नामेंट का फाइनल 10 नवम्बर को होगा। गत चैंपियन मुंबई और गत उपविजेता चेन्नई के बीच टूर्नामेंट का मुकाबला कुछ बदले हुए माहौल में होगा। दोनों टीमें जब पिछले साल भारत में फाइनल में भिड़ी थीं तब धोनी भारतीय टीम के सदस्य थे और उन्हें आईपीएल के बाद इंग्लैंड में होने वाले एकदिवसीय विश्व कप के लिए अपनी दावेदारी पेश करनी थी लेकिन इस बार धोनी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से पूरी तरह संन्यास लेने के बाद आईपीएल में उतर रहे हैं और उन पर अब भारतीय टीम में जगह बनाने का कोई दबाव नहीं है।

दो राजीव गांधी खेल रत्नों के बीच मुकाबला

दूसरी तरफ रोहित देश के सर्वोच्च खेल सम्मान राजीव गांधी खेल रत्न से सम्मानित हो चुके हैं। दिलचस्प है कि धोनी ने 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के दिन अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की थी जबकि रोहित 29 अगस्त को खेल रत्न बने थे। धोनी इससे पहले खेल रत्न बन चुके हैं। दोनों टीमों को आईपीएल शुरू होने से पहले अपने कुछ खिलाड़ियों के हटने से गहरा झटका लगा है।

पिछले वर्ष मुंबई के लिए फाइनल में आखिरी विजयी ओवर डालने वाले श्रीलंका के तेज गेंदबाज लसित मलिंगा निजी कारणों से आईपीएल से हट गए थे जबकि चेन्नई के अनुभवी बल्लेबाज और उपकप्तान सुरेश रैना तथा ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह भी निजी कारणों से आईपीएल से हट गए। रैना तो दुबई पहुंचने के एक सप्ताह बाद भारत लौट गए। मलिंगा और हरभजन तो दुबई पहुंचे ही नहीं थे और उन्होंने स्वदेश से ही अपने हटने की सूचना दे दी थी। चेन्नई टीम के दो खिलाड़ी सहित 13 सदस्य दुबई पहुंचने के बाद कोरोना से संक्रमित हुए थे और उन्हें 14 दिन के आइसोलेशन में रखा गया था। तेज गेंदबाज दीपक चाहर कोरोना से उबर कर टीम में लौट चुके हैं जबकि बल्लेबाज ऋतुराज गायकवाड उद्घाटन मैच में नहीं खेल पाएंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

जगधात्री पूजा पंडाल को ‘नो एंट्री जोन’ बनाया गया

 चंदननगर के जगधात्री पूजा पंडाल में नहीं होगी आम जनता की एंट्री। जगद्धात्री (= जगत् + धात्री = जगत की रक्षिका) दुर्गा का एक रूप हैं। आगे पढ़ें »

शीत ऋतु में सावधानी है जरूरी

-    सर्दियों में जठराग्नि प्रबल रहती है, इसलिए इन दिनों में पौष्टिक तथा बलवर्द्धक आहार लेना चाहिए। सर्दियों में खट्टा, खारा, मीठा प्रधान आहार लेना आगे पढ़ें »

ऊपर