भारतीय कप्तान विराट कोहली ने बताई टेस्ट में मिली हार की वजह

चेन्नई : भारतीय कप्तान विराट कोहली ने इंग्लैंड के हाथों पहले टेस्ट में मिली 227 रनों की हार के बाद कहा कि आक्रामकता का अभाव और खराब शारीरिक भाषा टीम की हार की वजह रही। इंग्लैंड ने लेफ्ट आर्म स्पिनर जैक लीच (76/4) और तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन (17/3) के शानदार प्रदर्शन की बदौलत भारत को पहले टेस्ट मैच के पांचवें दिन मंगलवार को 227 रनों से हराकर चार मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली। कोहली ने मैच के बाद कहा, ” हमारी शारीरिक भाषा सही नहीं थी और हमारे अंदर आक्रामकता भी अभाव था। दूसरी पारी में हम काफी बेहतर थे। शुरुआती चार बल्लेबाजों को छोड़कर हम पहली पारी के दूसरे भाग में बेहतर थे।बल्ले के साथ हम पहली पारी में बेहतर थे। हमें चीजों को समझना होगा और जल्द से जल्द इसमें सुधार करना होगा। इंग्लैंड की टीम पूरे मैच के दौरान हमसे कहीं ज्यादा पेशेवर थी।” इंग्लैंड ने भारत को जीत के लिए 420 रनों का बड़ा लक्ष्य दिया था जिसके जवाब में टीम इंडिया 58.1 ओवर में 192 रन पर ढेर हो गयी। आगे आने वाले मैचों में शीर्ष चार बल्लेबाजों को रन बनाना होगा। विपक्षी टीम पर दबाव बनाने के लिए आपको अपनी गेंदबाजी इकाई की आवश्यकता होती है। लेकिन हमने इस मैच में यह नहीं पाया। हम अपनी रणनीतियों को सही से लागू नहीं कर पाए। लेकिन हमारे लिए हमारी मानसिकता का सही होना महत्वपूर्ण है। मुझे लगता है कि हमने दूसरी पारी में गेंद के साथ अच्छा काम किया। एक बल्लेबाज के रूप में मुझे अपने फैसलों की समीक्षा करनी होगी। हम हमेशा से एक सीखने वाली टीम रहे हैं। सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच 13 फरवरी से चेन्नई में ही खेला जाएगा, जिसके बाद दोनों टीमें अहमदाबाद का रुख करेंगे, जहां सरदार पटेल स्टेडियम में तीसरा टेस्ट खेला जाएगा। यह दिन-रात का मैच होगा। इसी जगह चौथा टेस्ट भी होगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

इन फूड्स के इस्तेमाल से आएगी गालों पर लाली, खिल जाएंगे चेहरे, दूर होंगे दाग-धब्बे

कोलकाता : प्रकृति ने हमें खाद्य पदार्थों की विविधता से मालामाल किया है। ये सामग्री हमें सेहतमंद रहने में मदद करती हैं और रोजाना काम आगे पढ़ें »

मवेशी तस्करी में विनय मिश्रा को 8वां अभियुक्त बनाया गया

सप्लिमेंटरी चार्जशीट दायर कोलकाता : सीबीआई ने मवेशी तस्करी मामले में बुधवार को व्यवसायीविनय मिश्रा को एक अहम कड़ी मानते हुए 8वां अभियुक्त बनाया। सीमा पर आगे पढ़ें »

ऊपर