पिंक बॉल टेस्ट मे ऑस्ट्रेलियाई दबदबे को चुनौती देने उतरेगा भारत

एडीलेड : भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच गुरुवार से एडिलेड ओवल में बॉर्डर-गावस्कर टेस्ट की सीरीज का पहला मैच खेला जाएगा। यह मैच डे-नाइट होगा और पिंक बॉल से खेला जाएगा। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ऑस्ट्रेलिया को डे-नाइट फॉर्मेट में टेस्ट मैच खेलने का सबसे ज्यादा अनुभव है। उसने अब तक सात पिंक बॉल टेस्ट खेले हैं और सभी में जीत हासिल की है। इससे उलट भारत के पास सिर्फ 1 डे-नाइट टेस्ट मैच खेलने का अनुभव है, जो उसने पिछले साल कोलकाता के ईडन गार्डन्स में बांग्लादेश के खिलाफ खेला था। भारत का यह विदेशी जमीन पर पहला डे-नाइट टेस्ट भी होगा। ये मैच भारतीय समयानुसार कल सुबह 9:30 बजे शुरू होगा। भारतीय कप्तान विराट कोहली और उनकी ‘निडर’ टीम ऑस्ट्रेलिया के गुलाबी गेंद के क्रिकेट के दबदबे को चुनौती देने के मद्देनजर सही चयन करना चाहेगी जबकि मेजबान टीम के कई खिलाड़ी चोटों की समस्या से जूझ रहे हैं।

ईशांत-वार्नर की कमी खलेगी 
‘जोश हेजलवुड बनाम मोहम्मद शमी’ मुकाबला भी काफी रोमांचक होगा जबकि पैट कमिंस के बाउंसर का जवाब जसप्रीत बुमराह अपने यार्कर से देना चाहेंगे। ईशांत शर्मा जैसा अनुभवी तेज गेंदबाज भारतीय टीम में शामिल नहीं है तो वहीं ऑस्ट्रेलियाई लाइन-अप को अपने स्टार डेविड वार्नर की कमी खलेगी, जिससे दोनों टीमें मजबूती के हिसाब से बराबरी पर ही दिखती हैं। हालांकि ऑस्ट्रेलियाई टीम को ज्यादा डे-नाइट टेस्ट खेलने का अनुभव है और उसे घरेलू परिस्थितियों का फायदा निश्चित रूप से मिलेगा। दिन-रात्रि टेस्ट मैच की अपनी खासियत है, जिसमें बल्लेबाजों के पहले सत्र में हावी होने की उम्मीद होती है जबकि जब सूरज छिप जाता है तो गेंदबाजों की तूती बोलती है क्योंकि गुलाबी कूकाबूरा की रफ्तार तेज हो जाती है।
भारत के पास लगातार 3 टेस्ट सीरीज जीतने का मौका
टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया को पिछली दो टेस्ट सीरीज में शिकस्त दे चुकी है। टीम इंडिया ने 2018-19 में ऑस्ट्रेलिया को उसी के घर में 2-1 से शिकस्त दी थी। टीम की ऑस्ट्रेलिया में यह पहली टेस्ट सीरीज जीत थी। पुजारा 2018 में मेजबान ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज में टॉप स्कोरर रहे थे। वे 500+ रन बनाने और 3 शतक लगाने वाले अकेले खिलाड़ी थे। उनके अलावा टॉप-3 में ऋषभ पंत (350) और विराट कोहली (282) भारतीय बल्लेबाज ही थे। ऐसे में भारत के पास उसके खिलाफ पहली बार लगातार 3 टेस्ट सीरीज जीतने का मौका है।

राहुल और पंत को नहीं मिली जगह
पहला टेस्ट मैच के लिए पारी की शुरुआत करने की जिम्मेदारी मयंक अग्रवाल के साथ पृथ्वी शॉ के दी गई है। वहीं प्लेइंग इलेवन में हनुमा विहारी को भी मौका दिया गया है। केएल राहुल टेस्ट टीम में हैं, लेकिन उन्हें प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं देना एक चौंकाने वाला फैसला रहा। अभ्यास मैच में रिषभ पंत ने शानदार शतक लगाया था, लेकिन टीम मैनेजमेंट ने इसके बावजूद रिद्धिमान साहा पर अपना भरोसा दिखाया और उन्हें प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया। टीम में आर अश्विन बतौर स्पिन ऑलराउंडर शामिल किए गए हैं। भारतीय टीम- मयंक अग्रवाल, पृथ्वी शॉ, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे (उप-कप्तान), हनुमा विहारी, रिद्धिमान साहा (विकेटकीपर), आर अश्विन, उमेश यादव, मो. शमी, जसप्रीत बुमराह।

शेयर करें

मुख्य समाचार

नीति आयोग का नवाचार सूचकांक: कर्नाटक, महाराष्ट्र, तमिलनाडु शीर्ष तीन में, बिहार सबसे नीचे

नयी दिल्ली: नीति आयोग के दूसरे नवाचार सूचकांक में कर्नाटक, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, तेलंगाना और केरल को शीर्ष पांच राज्यों में स्थान मिला। वहीं, इस सूचकांक आगे पढ़ें »

ब्रेकिंग : हुगली के चंदननगर में भा​जप का रोड शो

हुगली  : हुगली के चंदननगर में भा​जप का रोड शो। जिसमें भाजपा नेता शुभेन्दु अधिकारी, हुगली की भाजपा सासंद लॉकेट चटर्जी, भाजपा सासंद अर्जुन सिंह आगे पढ़ें »

ऊपर