ऐतिहासिक जीत के साथ टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंचा भारत

अश्विन और अक्षर का चला जादू, इंग्लैंड को हराकर टीम इंडिया ने 3-1 से जीती सीरीज

अहमदाबाद : रविचंद्रन अश्विन और अक्षर पटेल के बुने फिरकी के जाल में एक बार फिर इंग्लैंड के बल्लेबाजों को फांसकर भारत ने चौथा और आखिरी टेस्ट तीसरे ही दिन एक पारी और 25 रन से अपने नाम करके सीरीज 3-1 से जीत ली और विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल में जगह बना ली। जून में लॉडर्स पर होने वाले विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में भारत का सामना न्यूजीलैंड से होगा। भारत को फाइनल में पहुंचने के लिये इस मैच में ड्रॉ की जरूरत थी लेकिन अक्षर और अश्विन ने दूसरी पारी में 5-5 विकेट लेकर तीसरे ही दिन भारत को धमाकेदार जीत दिलाई। भारत की जीत के साथ ऑस्ट्रेलिया का विश्व चैम्पियनशिप फाइनल में पहुंचने का सपना टूट गया। भारत ने पहली पारी में ऋषभ पंत के शतक और वाशिंगटन सुंदर के नाबाद 96 रन की मदद से 365 रन बनाकर 160 रन की बढत ली थी। दूसरी पारी में इंग्लैंड की टीम 135 रन पर आउट हो गई। नरेंद्र मोदी स्टेडियम की अनुकूल पिच पर अक्षर ने 24 ओवर में 48 रन देकर 5 और मैच में 9 विकेट लिये जबकि अश्विन ने 22.5 ओवर में 47 रन देकर 5 और मैच में कुल 8 विकेट लिये।

पदार्पण के 50 साल पूरे होने पर गावस्कर का सम्मान
भारत के पूर्व कप्तान और महान बल्लेबाज सुनील गावस्कर को टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण के 50 साल पूरे होने पर शनिवार को यहां सम्मानित किया गया। 71 वर्ष के पूर्व कप्तान को बीसीसीआई सचिव जय शाह ने भारत और इंग्लैंड के बीच चौथे क्रिकेट टेस्ट के तीसरे दिन लंच ब्रेक में स्मृति स्वरूप कैप प्रदान की। गावस्कर ने 1971 से 1987 के बीच भारत के लिये 125 टेस्ट और 108 वनडे खेलकर क्रमश: 10122 और 3092 रन बनाये। वह 1983 की विश्व कप विजेता टीम के भी सदस्य थे। सचिन तेंदुलकर ने 2005 में सर्वाधिक टेस्ट शतक का उनका रिकॉर्ड तोड़ा। गावस्कर ने वेस्टइंडीज के खिलाफ पदार्पण मैच में पहली पारी में 65 और दूसरी में 67 रन बनाये थे। भारत ने वह मैच और सीरीज दोनों जीते।

फाइनल में क्वालीफाई करना महत्वपूर्ण : अश्विन
इंग्लैंड के खिलाफ चार मैचों की टेस्ट सीरीज में ऐतिहासिक जीत के हीरो और मैन ऑफ द सीरीज रहे स्टार ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने कहा कि यह सच है कि हमारे लिए विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल के लिए क्वालीफाई करना बहुत महत्वपूर्ण था। ऑस्ट्रेलिया में ऑस्ट्रेलिया को हराकर शिखर पर पहुंचना फिर भी इतना मुश्किल नहीं था, लेकिन विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल की बात करें तो इसमें होना कोई मजाक नहीं है। यह हमारे लिए बहुत मायने रखता है, क्योंकि यह विश्व कप के जितना ही अच्छा है।

मौका मिला तो फिर तेज गेंदबाज पर रिवर्स-फ्लिक करूंगा : पंत
भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत को शनिवार को यहां इंग्लैंड के खिलाफ चौथे और अंतिम टेस्ट में मिली जीत के बाद उनके शानदार शतक के लिये मैन ऑफ द मैच चुना गया। 23 साल के इस खिलाड़ी ने ‘मैन ऑफ द मैच पुरस्कार’ लेने के बाद ज्यादा कुछ नहीं कहा और हमेशा की तरह मुस्कुराते रहे। जेम्स एंडरसन की गेंद पर ‘रिवर्स फ्लिक’ शॉट खेलने के बारे में पूछने पर पंत ने कहा कि अगर मुझे फिर एक तेज गेंदबाज की गेंद पर रिवर्स-फ्लिक करने का मौका मिलता है तो मैं निश्चित रूप से ऐसा करूंगा। मैं इसी चीज पर विश्वास करते हुए बड़ा हुआ हूं कि मैं खुश रहने और हर किसी को खुश रखने के लिये क्रिकेट खेलूंगा। पंत ने 118 गेंद की 101 रन की पारी के दौरान धैर्य और आक्रामकता का संतुलन बनाते हुए इंग्लैंड के गेंदबाजों को परेशान किया, जिससे उनके कप्तान विराट कोहली से लेकर प्रतिद्वंद्वी टीम के कप्तान जो रूट ने उनकी काफी प्रशंसा की।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

अब अनुब्रत मंडल आये आयकर के निशाने पर, अगले सप्ताह बुलाये गये

करोड़ों की बेनामी संपत्ति का आरोप कोलकाता : आयकर विभाग ने ​अगले सप्ताह तृणमूल नेता अणुव्रत मंडल को बेनामी संपत्तियों से संबंधित मामलों में नोटिस भेजी आगे पढ़ें »

vote

जंगीपुर व शमशेरगंज में मतदान तिथि बदली, अब 16 मई को मतदान

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : चुनाव आयोग ने जंगीपुर व शमशेरगंज में 13 मई को होने वाले मतदान की तिथि बदल दी है। अब यहां 16 मई आगे पढ़ें »

ऊपर