गुजरात-राजस्थान के फाइनल मैच में अगर आज बारिश हो जाए तो…?

राजकोटः इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के फाइनल के लिए फैन्स तैयार हैं। दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम नरेंद्र मोदी स्टेडियम में गुजरात टाइटन्स और राजस्थान रॉयल्स की टीमें आमने-सामने होंगी। दो महीने चले टूर्नामेंट के बाद अब एक विजेता मिलने जा रहा है। देखना होगा कि राजस्थान रॉयल्स की टीम अपने 14 साल के वनवास को खत्म करती है या फिर गुजरात डेब्यू सीजन में ही चैम्पियन बनती है। आईपीएल 2022 फाइनल के लिए कई तरह के नियम बनाए गए। अहमदाबाद में होने वाले मैच में बारिश की संभावना नहीं है, लेकिन अगर किसी भी कारणवश मैच होने में कुछ दिक्कत आती है तब किस तरह की परिस्थितियां बनेंगी और चैम्पियन कौन-सी टीम होगी, इसको लेकर नियम क्या कहते हैं समझिए…

गुजरात-राजस्थान के बीच होने वाले फाइनल मैच के लिए एक रिजर्व डे भी रखा गया है। 29 मई को अगर मैच की एक भी बॉल नहीं फेंकी जाती है, तो 30 मई को मैच होगा। प्लेऑफ के लिए रिजर्व डे नहीं था, लेकिन फाइनल के लिए यह सुविधा रखी गई है। अगर 29 मई को कुछ ओवर फेंके जाते हैं और फिर बारिश के कारण बाधा होती है, तब अगले दिन उसी के बाद मैच की फिर से शुरू होगा। अगर 29 मई को टॉस होता है और मैच शुरू नहीं होता है, तब 30 मई को फिर से टॉस होगा और फिर फाइनल की शुरुआत होगी।
5 ओवर का मैच या फिर सुपरओवर?
अगर मैच बारिश या किसी और कारणवश काफी देर से शुरू होता है, तब दो ऑप्शन बचते हैं। ऐसी स्थिति में मैच 5-5 ओवर का करवाया जाएगा, तब इतने ही ओवर से विजेता निकलेगा। अगर देर रात तक मैच शुरू नहीं होता है, तब सुपरओवर का ऑप्शन भी खुला है। यहां पर फाइनल में भी प्लेऑफ के ही नियम लागू होंगे।
फाइनल मुकाबले की शुरुआत रात 8 बजे से होगी, अगर यहां मौसम बिगड़ता है तो 10.10 तक इंतजार किया जाएगा। इस बीच मैच की शुरुआत होती है, तो ओवर्स में कोई कटौती नहीं की जाएगी। इसके बाद भी मौसम दगा देता है, तब 12.26 तक का इंतज़ार होगा और फिर 5-5 ओवर का मैच करवाया जाएगा। इसके बाद सुपर ओवर का ऑप्शन खुला है, वरना फिर मैच रिजर्व डे में भेज दिया जाएगा. रिजर्व डे के लिए भी यही नियम लागू होगा।
एक भी बॉल नहीं फेंकी गई तो चैम्पियन कौन?

आईपीएल का इतिहास देखें तो अभी तक ऐसा नहीं हुआ है कि फाइनल में एक भी बॉल ना फेंकी गई हो, लेकिन अगर इस बार ऐसा होता है तो चैम्पियन कौन होगा, इसपर फैन्स की निगाहें हैं। गुजरात टाइटन्स की टीम प्वाइंट टेबल में टॉप पर रही थी, साथ ही वह फाइनल में भी सबसे पहले पहुंची। अगर फाइनल डे या फिर रिजर्व डे में एक भी बॉल नहीं फेंकी जाती है और बात प्वाइंट्स के आधार पर चैम्पियन चुनने की आती है तब गुजरात टाइटन्स के खाते में खिताब जा सकता है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

आटा के बाद अब चावल भी महंगा…

नई दिल्ली : गेंहू के दामों में उछाल के बाद अब चावल  के दामों में तेजी देखी जा रही है, घरेलू और अंतरराष्ट्रीय बाजार में आगे पढ़ें »

ऊपर